अंबेडकरनगर में खेत में मृत मिले छह मोर, बर्ड फ्लू की आशंका से गांव में फैली दहशत

ग्रामीणों और मवेशियों को यहां आने से रोक दिया गया है।

तेंदुआईकला व कमालपुर पिकार पशु अस्पताल से चिकित्सकों का दल गांव पहुंच गया है। मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी एसके सिंह ने बताया कि मृत मोरों का नमूना संचालित कर भोपाल प्रयोगशाला में जांच के लिए भेजा जा रहा है।

Publish Date:Sun, 17 Jan 2021 11:36 AM (IST) Author: Anurag Gupta

अंबेडकरनगर, जेएनएन। बर्डफ्लू को लेकर प्रदेश में जारी हाई अलर्ट के बीच रविवार सुबह खेत में छह राष्ट्रीय पक्षी मोर मृत मिले। एक साथ इतने राष्ट्रीय पक्षी की संदिग्ध हालात में मौत से पशुपालन तथा वन विभाग में खलबली मच गई। आनन-फानन में दोनों विभागों की टीम ने मोरों के शव को कब्जे में लेकर इसका सैंपल प्रयोगशाला भेजा। मामला आलापुर क्षेत्र के शाहपुर औरावं गांव का है। गांव में नहर किनारे स्थित खेत में रविवार सुबह संदिग्ध परिस्थितियों में चार मोर मृत मिले, जबकि नहर के दूसरी तरफ दो अन्य मोरों के अवशेष पाए गए। खेत की तरफ निकले ग्रामीणों ने इसकी जानकारी जिम्मेदारों को दी। 

क्षेत्रीय पशुधन प्रसार अधिकारी डॉ. विवेक ङ्क्षसह मौके पर पहुंचे और विभागीय अधिकारियों तथा वन विभाग को भी अवगत कराया। बाद में तेंदुआईकला के पशु चिकित्साधिकारी डॉ. मनोज तथा कमालपुर पिकार के डॉ. अंबरीश, वन विभाग के डिप्टी रेंजर अरुण कुमार श्रीवास्तव, वन दारोगा सुनील ङ्क्षसह, सीताराम यादव आदि कर्मियों की टीम के साथ पहुंचे। बर्ड फ्लू के खतरों को देखते हुए सतर्कता व प्रोटोकॉल के तहत पीपीई किट पहनकर चार में से एक मोर के शव को कब्जे में लेकर उसका सैंपल भेजने की कवायद शुरू की। 

तीन मोरों के शव को दफना दिया गया। पशु चिकित्साधिकारी डॉ. मनोज ने बताया कि प्रथम²ष्ट््या  मोरों की मौत ठंड या अन्य कारणों से होना प्रतीत हो रहा है। इनमें बर्ड फ्लू जैसे लक्षण नहीं दिख रहे हैं। एहतियातन सैंपल भोपाल स्थित हाई सिक्योरिटी लैब भेजा जा रहा है। रिपोर्ट आने पर स्थिति स्पष्ट हो सकेगी। पशुधन प्रसार अधिकारी डॉ. विवेक ङ्क्षसह ने बताया कि बर्डफ्लू के खतरों के बीच नियमों के तहत आसपास स्थित दो मुर्गी फार्म से भी मुर्गियों के सैंपल भेजे जा रहे हैं। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.