Book Fair in Lucknow: PM Modi की आदमकद किताब के बाद अब कोरोना पर एक इंच की पुस्‍तक

प्रधानमंत्री मोदी की आदमकद किताब बनाने के बाद अहमदाबाद के लेखक अपूर्व शाह ने तैयार की मिनी गीता।

पुस्तक मेला 2019 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर लिखी अहमदाबाद के अपूर्व शाह की किताब की आदमकद प्रतिकृति लोगों के लिए सेल्फी प्वाइंट बन गई थी। अपूर्व शाह इस बार अलग-अलग साइज में मिनी गीता का सेट लेकर आ रहे हैं जो पुस्तक मेला में विशेष आकर्षण रहेगा।

Anurag GuptaWed, 03 Mar 2021 06:33 AM (IST)

लखनऊ, [दुर्गा शर्मा]। पुस्तक मेला की तैयारियों के बीच स्मृतियां भी ताजा होने लगीं। पुस्तक मेला 2019 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर लिखी अहमदाबाद के अपूर्व शाह की किताब की आदमकद प्रतिकृति लोगों के लिए सेल्फी प्वाइंट बन गई थी। अपूर्व शाह इस बार अलग-अलग साइज में मिनी गीता का सेट लेकर आ रहे हैं, जो पुस्तक मेला में विशेष आकर्षण रहेगा। अपूर्व बताते हैं, कोरोना ने हर किसी को परेशान किया। लाकडाउन ने सोचने का मौका दिया कि जीवन में कुछ भी करो, पर मन की शांति तो धार्मिक पुस्तकों से ही मिलती है। बस इसी सोच के साथ दो महीने में सरल अनुवाद कर 18 अध्यायों को शामिल करते हुए चार अलग-अलग आकार में मिनी गीत तैयार की। किताब में 400 पन्ने हैं। छोटी वाली एक बाय एक इंच की है। दूसरी 1.5 बाय 2 इंच की है। अपूर्व बताते हैं, मित्र (पंडित) विशाल जोशी ने अनुवाद में सहयोग किया।

लखनऊ के पुस्तक प्रेमी कमाल

अपूर्व कहते हैं, पुस्तक मेला-2019 में प्रधानमंत्री के कट आउट वाली किताब और डायरी लेकर आए थे। पुस्तक प्रेमियों ने हाथों-हाथ ले लिया। लखनऊ में हर वर्ग के पुस्तक प्रेमी मिल जाते हैं। यहां पुस्तकों मेला को लेकर विशेष आकर्षण देखा। उम्मीद है इस बार भी हम पुस्तक प्रेमियों को कुछ बेहतर ही देकर जाएंगे।

कोरोना पर भी एक इंच की किताब

अपूर्व शाह ने कोरोना पर भी एक इंच की किताब तैयार की है। किताब का शीर्षक 'कोरोना और भारत' है। इस किताब में कोरोना की आहट, लॉकडाउन और उससे जुड़े अनुभवों को शामिल किया गया है। 

बाल संग्रहालय में पांच से सजेगा किताबों का मेला

कोरोना के कारण पिछले साल पुस्तक मेला नहीं लग पाया था। इंतजार खत्म हुआ और पुस्तकों का सुंदर संसार सजने को तैयार है। चारबाग के बाल संग्रहालय लॉन में पांच से 14 मार्च तक लखनऊ पुस्तक मेला लगेगा। लखनऊ बुक फेयर-21 की थीम आत्मनिर्भर भारत है। मेले का उद्घाटन उप मुख्यमंत्री डा. दिनेश शर्मा करेंगे। नि:शुल्क प्रवेश वाले इस मेले में सभी तरह की किताबों पर न्यूनतम 10 प्रतिशत छूट मिलेगी। संयोजक मनोज सिंह चंदेल ने बताया कि मेले में सुबह से लेकर रात तक साहित्यिक और सांस्कृतिक गतिविधियां खास होंगी। मेले का विशेष आकर्षण ऑप्टीकुम्भ-21 होगा। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.