गडकरी ने लखनऊ को दी 170 करोड़ के योजनाओं की सौगात, मुंशीपुलिया में फोरलेन फ्लाईओवर

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने शनिवार को लखनऊ को कुल 170.06 करोड़ की लागत वाली कई योजनाओं की सौगात दी। अब मुंशीपुलिया पर लगने वाले जाम से हजारों लोगों को राहत देने के लिए यहां 2.2 किलोमीटर लंबा फ्लाईओवर बनेगा।

Dharmendra MishraSat, 04 Dec 2021 10:07 PM (IST)
मुंशीपुलिया पर लगने वाले जाम से हजारों लोगों को राहत देने के लिए यहां 2.2 किलोमीटर लंबा फ्लाईओवर बनेगा।

लखनऊ, जागरण संवाददाता।  केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने शनिवार को लखनऊ को कुल 170.06 करोड़ की लागत वाली कई योजनाओं की सौगात दी। इसके तहत शहर को जल्द ही एक और बड़े फ्लाईओवर की सौगात मिलने वाली है। मुंशीपुलिया पर लगने वाले जाम से हजारों लोगों को राहत देने के लिए यहां 2.2 किलोमीटर लंबा फ्लाईओवर बनेगा। इसके साथ ही सर्विस लेन भी तैयार की जाएगी।

रोज 40 हजार से अधिक वाहन भरेंगे फर्राटाः इस फ्लाईओवर के बनने से प्रतिदिन 40 हजार वाहनों को जाम का सामना नहीं करना पड़ेगा । इसको बनाने का प्रस्ताव नितिन गडकरी को रक्षामंत्री व लखनऊ के सांसद राजनाथ सिंह ने दो अप्रैल को टेंढ़ी पुलिया फ्लाईओवर के उद्घाटन के अवसर पर दिया था। सांसद प्रतिनिधि दिवाकर त्रिपाठी ने बताया कि 2.2 किलोमीटर लंबे मुंशी पुलिया के फ्लाईओवर के बनने से पॉलिटेक्निक चौराहा, खुर्रम नगर, इंदिरा नगर ,टेढ़ी पुलिया, जानकीपुरम, कुर्सी रोड की तरफ आने जाने वाले सभी लोगों को जाम का सामना नहीं करना पड़ेगा।

शीघ्र शुरू होगा निर्माणः पुल का का निर्माण कार्य शीघ्र शुरू होगा। फ्लाईओवर के साथ ही एक सर्विस लेन भी बनेगी। जो कि इंदिरा नगर क्षेत्र के स्थानीय जनता को ध्यान में रखते हुए बनाई जा रही है । रक्षामंत्री राजनाथ सिंह के प्रयासों से विक्टोरिया स्ट्रीट, लाल कुआं, टेढ़ी पुलिया, राजाजीपुरम और कुकरैल फ्लाईओवर के कार्य पूर्ण कराए जा चुके हैं। वही रायबरेली रोड से उतरेटिया और शहीद पथ से एयरपोर्ट और बंगला बाजार रेलवे लाइन के ऊपर पुल के निर्माण का कार्य तेजी से चल रहा है। ज

बकि शहर को जाम मुक्त बनाए जाने की दिशा में आइआइएम रोड और खुर्रम नगर पर भारी ट्रैफिक के दबाव को देखते हुए शीघ्र ही फ्लाईओवर के निर्माण का कार्य शुरू होने जा रहा है । लखनऊ की जनता की तरफ से सांसद होने के नाते राजनाथ सिंह ने सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी को विशेष धन्यवाद भी दिया है।

जल्द शुरू हो ग्रीन कारिडोर के फेज एक का कामः ग्रीन कारिडोर प्रोजेक्ट के क्रियान्वयन में तेजी लाने के लिए शनिवार को मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी की अध्यक्षता में बैठक हुई। मुख्य सचिव ने फेज एक के कार्यों को शुरू करने के लिए जरूरी औपचारिकताएं शीघ्र पूरी करने के आदेश दिए। बैठक में बताया गया कि ग्रीन कारिडोर का डीपीआर प्राप्त हो गया है। साथ ही पीआइयू का गठन भी किया गया है। आइआइएम रोड से हार्डिग ब्रिज के बीच बंधा गैप 140 मीटर का काम प्रगति पर है। यह कार्य इसी माह पूरा होगा। एलाइनमेंट में आने वाली भूमि को भी चिन्हित किया गया है।

चार फेज में पूरी होगी योजनाः यह योजना चार फेज में पूरी होगी। पहले फेज में आइआइएम से हार्डिंग ब्रिज तक 791.37 करोड़ रुपये से पूरी होगी। जबकि दूसरे फेज में हार्डिंग ब्रिज से पिपराघाट तक एक हजार करोड़ रुपये, तीसरे फेज में पिपराघाट से शहीद पथ तक 600 करोड़ रुपये और चौथे फेज में शहीद पथ से किसान पथ तक 708.63 करोड़ रुपये की लागत आएगी। बैठक में प्रमुख सचिव आवास दीपक कुमार, प्रमुख सचिव पशुपालन व दुग्ध विकास सुधीर गर्ग, नगर विकास सचिव अनिल कुमार, मंडलायुक्त रंजन कुमार व डीएम अभिषेक प्रकाश भी मौजूद थे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.