दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

Corona Curfew in Lucknow: कोरोना कफ्र्यू में मदद के लिए आगे आ रहे हाथ, निजी संस्था से लेकर पुलिस वाले भी बने मसीहा

उत्तर प्रदेश पावर आफिसर्स एसोसिएशन, पुलिस समेत कई निजी संस्था लॉकडाउन में कर रहीं मदद।

कोरोना कफ्र्यू में राजधानी लखनऊ में कई निजी संस्था एनजीओ उत्तर प्रदेश पावर आफिसर्स एसोसिएशन समेत राजधानी पुलिस भी लोगों की मदद में आगे आ रही है। लोगों के घर तक राशन व जरूरी सामान मुहैया कराए जा रहे हैं।

Rafiya NazSun, 09 May 2021 04:36 PM (IST)

लखनऊ, जेएनएन। राजधानी लखनऊ में कोरोना कफ्र्यू की वजह से कई लोगों की काम काज ठप हो गए हैं। जिसकी वजह से उनके आगे खाने कमाने की दिक्कत पैदा हो गई है। ऐसे में राजधानी लखनऊ में कई निजी संस्था, एनजीओ, उत्तर प्रदेश पावर आफिसर्स एसोसिएशन समेत राजधानी पुलिस भी लोगों की मदद में आगे आ रही है। 

केस एक-कविता एक निजी स्कूल में काम करती है, स्कूल बंद होने से वेतन भी इस समय नहीं मिल रहा है। पति बीमार रहते हैं। दो वक्त की रोटी का संकट जब खड़ा हो गया तो कविता ने उत्तर प्रदेश पावर आफिसर्स एसोसिएशन के हेल्प लाइन नंबर 0522 4063265 पर फोन करके मदद मांगी। तीस मिनट में एसोसिसएशन की टीम आटा, दाल, चावल व रोजमर्रा इस्तेमाल होने वाला राशन लेकर पहुंच गया।   

केस दो- मुंशी पुलिया चौकी प्रभारी एसआई चौकी असित कुमार यादव व हेड कांस्टेबल मनोज सिंह भी अपने इलाके में लॉकडाउन के दौरान जरूरतमंद व गरीब लोगों की मदद कर रहे हैं। उन तक राशन व अन्य जरूरी सामान पहुंचा रहे हैं। इसी दौरान मुंशी पुलिया के सेक्टर 16 में एक से घर कई दिन तक खाना न बनने की सूचना मिली थी। जिसके बाद असित कुमार व मनोज सिंह ने उन लोगों के घर पर राशन पहुंचाया। 

केस तीन-मकबूलगंज निवासी विनीता शर्मा के घर में दो कमाने वाले लोग हैं लेकिन बंदी के कारण दोनों शख्स बेरोजगार हो गए हैं। पिछले दस दिन बचे हुए पैसों से घर तो चला, लेकिन तीन दिन से राशन की समस्या खड़ी हो गई थी। उत्तर प्रदेश पावर आफीसर्स एसोसिएशन के अवधेश वर्मा, आरपी केन व अजय ने विनीता के घर पहुंचकर राशन पहुंचाया। साथ ही आश्वासन दिया कि स्थितियां सामान्य होने तक एसोसिएशन क्षमता अनुसार मदद करता रहेगा। 

राजधानी में जरूरतमंदों की मदद करने वालों में यह एसोसिएशन भी आगे आकर मदद कर रहा है। 22 दिन से लगातार जहां कोविड संक्रमित बिजली अभियंताओं के परिजनों का दाह संस्कार तक करवाया, वहीं घर व अस्पताल में दवाइयां पहुंचाई। यही नहीं उन रिक्शा चालाकें को राशन वितरित किया, जो बंदी के कारण भुखमरी के कगार पर थे। यह क्रम अभी जारी है। इसी क्रम में अब एसोसिएशन सुबह दस बजे से लेकर शाम पांच बजे तक चलने वाले हेल्प लाइन नंबर 0522 4063265 पर मदद मांगने वाले लोगों की क्षमतानुसार मदद कर रहा है। एसोसिएशन के महासचिव ने बताया कि यूपी के हर जिले में टीम के सदस्य सक्रिय हैं।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.