Good News: केजीएमयू में 14 बेड के क्रिटिकल केयर यूनिट समेत कई सुविधाओं का हुआ लोकार्पण

लखनऊ, जेएनएन। केजीएमयू में गुरुवार को चिकित्सा शिक्षा मंत्री आशुतोष टंडन ने कई सुविधाओं का लोकार्पण  किया। जिसमें शताब्दी फेज टू में सुपरस्पेशियलिटी पल्मोनरी एंड क्रिटिकल केयर मेडिसिन विभाग में 14 बेड की वेंटिलेटर यूनिट समेत  कई सुविधाएं शामिल हैं। अपने भाषण में उनहोंने कहा कि केजीएमयू में डॉक्टर व कर्मचारियों द्वारा मरीजों से अच्छा व्यवहार करना चाहिए। क्योंकि मरीज व तीमारदार जब अस्पताल आते हैं तो कष्ट में होते हैं। वह डॉक्टर को भगवान स्वरूप मानते हैं। अंतिम प्रयास तक मरीज की जान बच जाएगी यह सोचते हैं। ऐसे में अगर उनका धैर्य कभी खो भी जाए तो डॉक्टर व अन्य स्टॉफ को संयम बरतना चाहिए। यह विचार चिकित्सा शिक्षा मंत्री आशुतोष टंडन उर्फ गोपाल ने व्यक्त किए। वह गुरुवार को केजीएमयू के ब्राउन हाल में करीब 100 करोड़ की विभिन्न परियोजनाओं के लोकार्पण व शिलान्यास कार्यक्रम में मौजूद लोगों को संबोधित कर रहे थे।

मंत्री ने कहा कि केजीएमयू का बहुत नाम है। ऐसे में दूर-दूर से लोग यहां इलाज करवाने आते हैं। मीडिया में जब मरीज से अभद्रता की खबरें आती रहती हैं। इसमें कितनी सच्चाई है मैं नहीं जानता लेकिन ऐसा नहीं होना चाहिए। कार्यक्रम में ट्रामा सर्जरी विभाग के हेड डॉ. संदीप तिवारी ने मंत्री से मांग की कि केजीएमयू में पैरामेडिकल स्टॉफ की कमी को पूरा किया जाए। कुलपति ने उपस्थित लोगों का आभार व्यक्त किया। 

उपकरण पहले और भवन निर्माण बाद में करवाना ठीक नहीं 

कार्यक्रम में केजीएमयू कुलपति प्रो. एमएलबी भट्ट ने बिना नाम लिए पूर्व कुलपति प्रो. रविकांत को घेरा। उन्होंने कहा कि हमसे पहले जो व्यवस्था यहां थी उसमें तो उपकरण व मशीनें पहले आ जाती थी और भवन निर्माण बाद में शुरू होता था। यही कारण है कि योजनाओं के लोकार्पण में देरी हुई। इस पर मंत्री आशुतोष टंडन उर्फ गोपाल ने कहा कि अब ऐसा नहीं होना चाहिए। पहले भवन निर्माण हो फिर मशीन व उपकरण खरीदे जाएं

मरीजों को मिली यह सौगात 

- शताब्दी फेज टू में सुपरस्पेशियलिटी पल्मोनरी एंड क्रिटिकल केयर मेडिसिन विभाग में 14 बेड की वेंटिलेटर यूनिट का लोकार्पण 

- छह बेड ही हाई डिपेंडेंसिव यूनिट की शुरूआत 

- क्वीन मेरी अस्पताल में राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन के द्वारा 100 बेड की मदर चाइल्ड हेल्थ यूनिट का लोकार्पण 

- लारी कार्डियोलॉजी परिसर में मल्टी लेवल पार्किंग का शुभारंभ 

- फारेंसिक मेडिसिन विभाग में नवनिर्मित विंग का लोकार्पण 

- कार्डियो थौरेसिक वैस्कुलर सर्जरी (सीटीवीएस) विभाग में अतिरिक्त तल के निर्माण का शिलान्यास 

- लिंब सेंटर में 36 भवनों के टाईप-1, आवास का लोकार्पण 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.