72वां एनसीसी दिवस : मुख्यमंत्री गोल्ड व सिल्वर मेडल से सम्मानित हुए एनसीसी कैडेट

72वें एसीसी दिवस के अवसर पर अपर मुख्य सचिव ने एनसीसी कैडेट्स का किया उत्साहवर्धन।

मुख्य अतिथि अपर मुख्य सचिव आराधना शुक्ला ने 6 कैडेट्स को मुख्यमंत्री गोल्ड मेडल और विवि के कुलपति प्रो संजय सिंह ने 5 कैडेट्स को मुख्यमंत्री सिल्वर मेडल देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर मेजर जनरल राकेश राणा व उत्तर प्रदेश एनसीसी के कैडेट्स व अधिकारी समारोह में उपस्थित रहे।

Publish Date:Tue, 24 Nov 2020 06:25 PM (IST) Author: Anurag Gupta

लखनऊ, जेएनएन। देश सेवा और समाजसेवा ही एनसीसी का मुख्य उद्देश्य रहा है। पर्यावरण संरक्षण, सुनामी आपदा, मिशन नारी शक्ति, गंगा सफाई, कोरोना महामारी समेत हर जरूरत के समय एनसीसी कैडेट्स ने अहम भूमिका निभाई है। इनकी सेवा, समर्पण और अनुशासन हर किसी के लिए प्रेरणा है। यह कहना था अपर मुख्य सचिव आराधना शुक्ला का। वे बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर केंद्रीय विश्वविद्यालय के सभागार में 72वें एनसीसी दिवस के मौके पर बतौर मुख्य अतिथि सैन्य अधिकारियों व एनसीसी कैडेट्स को संबोधित कर रही थी।

उन्होंने कहा कि देश को अनुशासन, राष्ट्रीय एकता और देश प्रेम का उदाहरण प्रस्तुत करने के लिए जिस समर्पण से एनसीसी काम कर रहा है, उसकी जितनी सराहना की जाए कम है। राष्ट्र निर्माण और सेना की सहायता के लिए, जिसमें युवाओं की भी भागीदारी हो, इसको ध्यान में रखते हुए वर्ष 1948 में नीति निर्माताओं ने एनसीसी का गठन किया। आज एनसीसी विभिन्न क्षेत्रों में अपना योगदान दे रहा है। किसी भी प्रकार की आपदा में एनसीसी ने हमेशा अपना योगदान दिया है, पर्यावरण संरक्षण और इसके प्रति जागरूकता फैलाने में भी एनसीसी का योगदान रहा है।

कहा, देश को दो प्रधानमंत्री देने का श्रेय भी एनसीसी को है। हमारे प्रधानमंत्री और रक्षामंत्री भी एनसीसी कैडेट रहे हैं। वरिष्ठ हार्ट सर्जन डॉ नरेश त्रेहान जैसे सख्सियत भी एनसीसी के अनुशासन को आज भी आत्मसात करते हैं। एनसीसी ने कैडेट्स को बेहतर प्रशिक्षण प्रदान किया और उन्हें अनुशासन में रहना सिखाया है यही वजह है कि ये कैडेट्स जीवन में बेहतर मुकाम हासिल कर देश की प्रगति में योगदान दे रहे हैं। मुख्य अतिथि अपर मुख्य सचिव आराधना शुक्ला ने 6 कैडेट्स को मुख्यमंत्री गोल्ड मेडल और विवि के कुलपति प्रो संजय सिंह ने 5 कैडेट्स को मुख्यमंत्री सिल्वर मेडल देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर मेजर जनरल राकेश राणा व उत्तर प्रदेश एनसीसी के कैडेट्स व अधिकारी समारोह में उपस्थित रहे। डायरेक्टर, उत्तर प्रदेश कर्नल नीलम गुरुंग ने एनसीसी-2020 की रिपोर्ट प्रस्तुत की।

मुख्यमंत्री गोल्ड मेडल पाने वाले 6 कैडेट्स

सीनियर अंडर ऑफिसर सैयद जीशान हाशमी झांसी, सीनियर अंडर ऑफिसर दिव्या पाल झांसी, -कैडेट शासवन्त शर्मा फतेहगढ़, सार्जेंट शिवदीन यादव बलरामपुर, सीनियर अंडर ऑफिसर क्षमा मिश्रा बलरामपुर, कैडेट दीक्षा दुबे बलिया। 

मुख्यमंत्री सिल्वर मेडल पाने वाले 6 कैडेट्स

सीनियर अंडर ऑफिसर हितिका यादव झांसी, अंडर ऑफिसर कंचन श्रीवास्तव बलरामपुर, अंडर ऑफिसर साहिबा खान बलरामपुर, कैडेट शिवम पाल सीतापुर, कैडेट कुलदीप फतेहपुर, कैडेट निशांत सिंह तोमर फतेहपुर एएनओ, कैप्टन सुनील कुमार क़ाबिया झांसी, मेजर वीके शुक्ला बलरामपुर, मेजर केके सिंह फतेहगढ़, लेफ्टिनेंट रश्मि सिंह झांसी। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.