MVVNL Update: अब मीटर बाईपास करके AC चलाने वाले उपभोक्ताओं पर चलेगा हंटर, इन बिजली घरों पर रहेगी खास नजर

MVVNL Update: अब मीटर बाईपास करके AC चलाने वाले उपभोक्ताओं पर चलेगा हंटर, इन बिजली घरों पर रहेगी खास नजर
Publish Date:Sat, 19 Sep 2020 07:14 PM (IST) Author: Divyansh Rastogi

लखनऊ, जेएनएन। MVVNL Update: बिजली महकमे को आर्थिक नुकसान पहुंचाने वाले फीडर अब अभियंताओं की नजर में चढ़े हुए है। यह फीडर मुख्य अभियंता से लेकर अवर अभियंता तक की किरकिरी भरी मीटिंग में करा रहे हैं। अभियंताओं को लाइन लॉस के कारण वरिष्ठों से आए दिन बाते सुननी पड़ रही है। ऐसे में अभियंताओं ने अपने-अपने क्षेत्रों में पड़ने वाले लाइन लॉस फीडर को दुरुस्त करने का बीड़ा उठाया है।

इसके निर्देश मध्यांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के निदेशक (वाणिज्य) ब्रहम पाल ने देते हुए कहा कि ऐसे उपभोक्ता जिनकी मीटर बाईपास करके एसी चलाने की आदत पड़ गई है, उनके खिलाफ बिजली चोरी की धाराओं में मामला दर्ज करके कार्रवाई की जाए। सितंबर माह में बिजली चोरी की कई घटनाएं मीटर बाईपास वाली सामने आई हैं।

निदेशक ब्रहम पाल ने कहा कि हर अभियंता गोपनीय तरीके से मार्निंग रेड डाले, सुबह ऐसे उपभोक्ताओं को बिजली चोरी करते हुए रंगे हाथ पकड़े जो आर्थिक नुकसान पहुंचा रहे हैं। उनकी सूची भी नियमित रूप से बनाई जाए। हर सप्ताह होने वाली समीक्षा बैठक में मुख्य अभियंता इससे मुख्यालय को भी अवगत कराए, आखिर उन्होंने किसके ऊपर क्या कार्रवाई की और कितने उपभोक्ताओं के यहां मार्निंग रेड में चोरी पकड़ी। पत्र में उल्लेख किया गया है कि लाइन लॉस हर कीमत में कम करना  है और बिलिंग शत प्रतिशत  होनी  चाहिए। 

इन बिजली घरों से लेसा को नुकसान

न्यू राजाजीपुरम, सूगामऊ, नूरबाड़ी, गेहरु, फतेहगंज, दुबग्गा, ठाकुरगंज, इंटौजा, नादान महल रोड, लौलई, अमीनाबाद, चिनहट का शिवपुरी, अहिबरनुपर, बीकेटी, अपट्रान, जीपीआरए, कमता, विक्टोरिया हैं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.