लोहिया संस्थान के हॉस्पि‍टल ब्लॉक में तोड़फोड़-मारपीट: CC कैमरे में कैद उपद्रवी छात्र, अफसरों की पकड़ से दूर

लोहिया संस्थान के हॉस्पि‍टल ब्लॉक में एमबीबीएस छात्र व हॉस्पि‍टल कर्मियों के बीच हुई थी मारपीट। (फाइल फोटो)

लखनऊ लोहिया संस्थान के हॉस्पि‍टल ब्लॉक में बीती 22 जनवरी को पर्चा काउंटर पर एमबीबीएस छात्र व हॉस्पि‍टल कर्मियों के बीच हुई मारपीट। तीमारदार-मरीजों को दौड़ा लिया। ऐसे में काम-काज ठप हो गया। मारपीट सीसी कैमरे में कैद हो गई। इसके बावजूद उपद्रवी छात्र अफसरों की पकड़ से दूर।

Divyansh RastogiSat, 23 Jan 2021 03:27 PM (IST)

लखनऊ, जेएनएन। राजधानी स्‍थ‍ित लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान के हॉस्पि‍टल ब्लॉक के पर्चा काउंटर पर एमबीबीएस छात्र व हॉस्पि‍टल कर्मियों के बीच हुई मारपीट सीसी कैमरे में कैद हो गई। इसके बावजूद उपद्रवी छात्र अफसरों की पकड़ से दूर हैं। संस्थान के प्रवक्ता डॉ. श्रीकेश सिंह ने कहा कि सीसीटीवी के फुटेज मिल गए हैं। मामले की जांच चल रही है। बता दें, बीते दिन यानी शुक्रवार को पर्चा काउंटर पर लाइन में लगने व आइकार्ड दिखाने को लेकर एमबीबीएस छात्र व हॉस्पि‍टल कर्मियों के बीच कहासुनी हुई थी। ऐसे में दर्जनभर से अधिक छात्र आ धमके। पर्चा काउंटर पर तोड़फोड़ व मारपीट की।

यह पूरा था मामला: दरअसल, शुक्रवार को हॉस्पिटल ब्लॉक में बेलगाम एमबीबीएस छात्रों ने बवाल कर दिया। यहां के मुख्य काउंटर पर पर्चे के लिए लंबी लाइनें लगी थीं। ऐसे में एक छात्र बिना लाइन के आगे पहुंच गया। कर्मी से स्टाफ का होने का हवाला दिया। वहीं, छात्र एप्रेन में न होने पर कर्मी ने आइकार्ड दिखाने को बोल दिया। यह एमबीबीएस छात्र को नागवार गुजरा। वह बुरा हश्र करने की धमकी देकर सीधे काउंटर से हॉस्टल पहुंचा। कुछ ही देर में साथियों संग काउंटर पर धावा बोल दिया। दोपहर 12 बजे के करीब काउंटर पर जुटे छात्रों व कर्मियों में नोकझोंक हुई। देखते ही देखते मारपीट शुरू हो गई। पर्चाकाउंटर का दरवाजा तोड़ डाला। चारा तरफ अफरा-तफरी मच गई। लाइन में लगे मरीज ने घटना का वीडियो बनाने लगे। ऐसे में तीमारदार-मरीजों को दौड़ा लिया। ऐसे में काम-काज ठप हो गया। कई मरीजों का पर्चा नहीं बन सका। पुलिस आने पर छात्र भाग निकले। उधर, कर्मियों में आक्रोश है। उपद्रवियों पर कार्रवाई न होने पर हड़ताल की चेतावनी दी है। 

बार-बार कर रहे मारपीट, कार्रवाई नहीं: लोहिया संस्थान में एमबीबीएस छात्र कई बार मारपीट कर चुके हैं। बावजूद, उन पर संस्थान प्रशासन सख्त कार्रवाई नहीं कर रहा है। ऐसे में उनका मनोबल बढ़ा हुआ है। इससे पहले छात्र आंकोलॉजी भवन में काउंटर पर तोड़फोड़ और मारपीट कर चुके हैं। मुख्य कैंपस की ओपीडी में भी कर्मचारी से मारपीट कर चुके हैं। अस्पताल के बाहर मेडिकल स्टोर पर धावा बोलकर तोड़फोड़ की। खाने को लेकर कर्मचारियों की पिटाई कर चुके हैं। वहीं अफसरों की मेहरबानी जारी है। ऐसे में मारपीट की घटनाएं बढ़ रही हैं। आरोप हैं कि मारपीट की घटना के करीब आधे घंटे बाद अफसर पहुंचे।

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.