एमबीए कोर्स को लेकर छात्रों का कम हुआ रुझान, लखनऊ विश्वविद्यालय में 200 सीटें पड़ी खाली

लखनऊ विश्वविद्यालय में इस बार एमबीए पाठ्यक्रम में अभ्यर्थियों का रुझान कम होता नजर आ रहा है। यही वजह है कि पर्याप्त मौका दिए जाने के बाद भी विश्वविद्यालय के नए परिसर स्थित इंस्टीट्यूट आफ मैनेजमेंट साइंसेज (आइएमएस) में संचालित एमबीए पाठ्यक्रम में करीब 200 सीटें खाली हैं।

Dharmendra MishraWed, 01 Dec 2021 12:04 PM (IST)
लखनऊ विश्वविद्यालय में एमबीए कोर्स के लिए 200 सीटें खाली।

लखनऊ जागरण संवाददाता।  लखनऊ विश्वविद्यालय में इस बार एमबीए पाठ्यक्रम में अभ्यर्थियों का रुझान कम होता नजर आ रहा है। यही वजह है कि पर्याप्त मौका दिए जाने के बाद भी विश्वविद्यालय के नए परिसर स्थित इंस्टीट्यूट आफ मैनेजमेंट साइंसेज (आइएमएस) में संचालित एमबीए पाठ्यक्रम में करीब 200 सीटें खाली हैं।

अब इन पर सीधे दाखिले का मौका देते हुए काउंसलिंग शुरू की गई है। कई अभ्यर्थी प्रवेश लेने पहुंच रहे हैं। उनके पास चार दिसंबर तक समय है। विश्वविद्यालय के जानकीपुरम स्थित दूसरे परिसर में इंस्टीट्यूट आफ मैनेजमेंट साइंसेज (आइएमएस) संचालित है। यहां एमबीए (फाइनेंस एंड कंट्रोल), एमबीए (एचआर), एमबीए (मार्केटिंग), एमबीए (इंटरनेशनल बिजनेस) और एमबीए (एंटरप्रेन्योरशिप एवं फैमिली बिजनेस) पाठ्यक्रम में दाखिले के लिए प्रवेश परीक्षा हो चुकी है। लेकिन अभी तक सीटें नहीं भर पाई हैं।

दो हिस्से में शुल्क देने की सुविधाः ऐसे में इन सीटों को भरने के लिए स्पॉट काउंसलिंग का समय दिया गया है। दो दिनों में कुछ अभ्यर्थी प्रवेश लेने पहुंचे। संस्थान के निदेशक प्रो. एमके अग्रवाल ने बताया कि अभ्यर्थियों की सुविधा के लिए शुल्क दो हिस्सों में जमा करने की सुविधा दी गई है। पहले 40 हजार रुपये शुल्क का ड्राफ्ट जमा करना होगा। शेष बची हुई धनराशि 14 दिन में जमा करने का मौका रहेगा।

समस्या होने पर इस हेल्पलाइन पर लें मददः यदि किसी अभ्यर्थी को प्रवेश संबंधी कोई समस्या है तो हेल्पलाइन 9005020100, 9415704024, 7991200625 पर संपर्क किया जा सकता है। सीधे प्रवेश में वही अभ्यर्थी शामिल होंगे जो इसकी प्रवेश परीक्षा में शामिल हुए हों और अर्हता पूरी करते हो। स्पॉट काउंसलिंग सुबह 10 बजे से शुरू होगी। अभ्यर्थियों को व्हाट्सएप और ई-मेल के जरिए भी सूचना भेजी जा रही है। काउंसलिंग के समय मूल दस्तावेज और उसकी प्रति स्वप्रमाणित प्रति का सेट लेकर आना होगा।

10 दिसंबर तक फीस जमा करने का मौकाः लखनऊ विश्वविद्यालय ने सत्र 2020-21 के विषम सेमेस्टर के विद्यार्थियों को फीस जमा करने का चौथी बार अवसर पर दिया है। ऐसे अभ्यर्थी जिन्होंने अब तक कोविड-19 महामारी की वजह से फीस नहीं जमा की है, उन्हें अंतिम अवसर देते हुए 10 दिसंबर तक समय दिया गया है। कुलसचिव डा. विनोद कुमार सिंह ने निर्देश जारी किए हैं। अभी तक 25 नवंबर तक फीस जमा करने का समय तय था। फिर भी कई विद्यार्थियों ने फीस नहीं जमा की है।

छात्र हित में ऐसे विद्यार्थियों को फीस जमा करने का फिर मौका दिया गया है। पिछले सत्र की फीस जमा करने से पहले स्नातक के छात्र संबंधित संकाय के अधिष्ठाता कार्यालय, परास्नातक के छात्र विभागाध्यक्ष कार्यालय और संस्थानों में संचालित पाठ्यक्रम के विद्यार्थियों को संबंधित संस्थान के निदेशक कार्यालय से आनलाइन अनुमति लेनी होगी। उसके बाद यूडीआरसी पोर्टल पर लॉगिन कर फीस जमा कर सकते हैं।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.