Lucknow Coronavirus News: लखनऊ के महिला अस्पतालों में गाइडलाइन संग OPD में देखे गए मरीज

लखनऊ: झलकारीबाई हॉस्पिटल में सोशल डिस्टेंस के पालन के साथ दिया गया प्रवेश।
Publish Date:Fri, 25 Sep 2020 03:33 PM (IST) Author: Divyansh Rastogi

लखनऊ, जेएनएन। राजधानी लखनऊ में कोरोना के चलते करीब छह महीने बाद जनरल ओपीडी शुरू होने पर शुक्रवार को महिला अस्पतालों में मरीज इलाज के लिए पहुंचे। हालांकि, इमरजेंसी व सेमी इमरजेंसी ओपीडी पहले से अस्पतालों में चलाई जा रही थी। मगर सामान्य ओपीडी शुरू होने के बाद शुक्रवार को एंटीनेटल सहित सामान्य रोगों के मरीज भी ओपीडी में पहुंचे। शुक्रवार को डफरिन की ओपीडी में कुल 215 मरीज देखे गए। वहीं, झलकारीबाई में कुल 106 मरीज देखे गए, जबकि गुरुवार को यहां कुल 53 मरीज ओपीडी में देखे गए थे।

डफरिन में काफी संख्या में पहुंचे मरीज

डफरिन में शुक्रवार को काफी मरीज पहुंचे। इनमें ज्यादातर वे गर्भवती थीं, जो लॉकडाउन के चलते टीके लगवाने और अल्ट्रासाउंड कराने नहीं आ पाईं थीं। ऐसे में, अल्ट्रासाउंड कक्ष के बाहर भी काफी मरीज इंतजार करते दिखाई दिए। कैसरबाग से आईं काजल ने बताया कि बीते 16 सितंबर को बड़े ऑपरेशन से बेटा हुआ था। ओपीडी में टांके कटवाने आई हूं। 

भीड़ को नियंत्रित करने के पहले से इंतजाम 

डफरिन की प्रमुख अधीक्षिका डॉ. सुधा वर्मा ने बताया कि ओपीडी में उम्मीद से अधिक मरीज आए। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए हमने पहले ही ओपीडी में सीटिंग व्यवस्था से लेकर प्रवेश तक के सारे इंतजाम कर लिए थे। हालांकि, आम दिनों की अपेक्षा मरीजों की संख्या कम रही। परामर्श के साथ मरीजों की सभी जांचें की गईं। संदिग्ध मरीजों व तीमारदारों के लिए होल्डिंग एरिया बनाया गया है।

सोशल डिस्टेंसिंग का किया गया पालन 

झलकारीबाई हॉस्पिटल में शुक्रवार को ओपीडी सामान्य रही। सभी मरीजों को रैपिड टेस्ट के बाद एक-एक करके प्रवेश दिया गया।  अल्ट्रासाउंड व खून की जांच सहित मरीजों की टीकाकारण भी किया गया।  झलकारीबाई के सीएमएस डॉ. नीलांबर श्रीवास्तव ने बताया कि  ओपीडी में पहले की अपेक्षा मरीजों की संख्या सामान्य रही। कहीं न कहीं मरीजों में अभी कोरोना का भय है इसलिए मरीज कम आ रहे हैं। ज्यादातर सर्जरी व इमरजेंसी वाले मरीज ही आ रहे हैं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.