टैक्स बढ़ाए जाने के प्रस्ताव पर भड़के लखनऊ के व्यापारी, काउंसिल का पुतला लेकर निकाला विरोध मार्च

व्यापारियों की भीड़ देख चौक कैसरबाग और वजीरगंज तीन थानों की पुलिस ने घेराबंदी कर व्यापारियों को समझाने की कोशिश की। नाराज व्यापारियों के पुतला दहन पर अड़ जाने के बाद जैसे ही रकाबगंज चौराहे पर पुतला दहन की कोशिश हुई।

Anurag GuptaFri, 26 Nov 2021 06:19 PM (IST)
पुलिस ने छीना पुतला, व्यापारी बोले प्रस्ताव वापस न हुआ तो होगा बाजार बंद।

लखनऊ, जागरण संवाददाता। जीएसटी काउंसिल द्वारा कपड़ा, रेडीमेड होजरी, शूज समेत कई चीजों में पहली जनवरी से दरें बढ़ाए जाने के खिलाफ व्यापारी शुक्रवार शाम को सड़क पर उतर पडे़। हाथों में जीएसटी काउंसिल का पुतला लेकर यहियागंज बाजार से विरोध मार्च निकाला गया। नादानमहल रोड, नेहरूक्रास, होजरी बाजार आदि बाजारों से गुजरते हुए व्यापारियों का विरोध जुलूस रकाबगंज पुल पर पहुंचा।

लखनऊ व्यापार मंडल के नेतृत्व में अध्यक्ष राजेंद्र अग्रवाल, वरिष्ठ महामंत्री अमरनाथ मिश्र की अगुवाई में व्यापारियों की भीड़ देख चौक, कैसरबाग और वजीरगंज तीन थानों की पुलिस ने घेराबंदी कर व्यापारियों को समझाने की कोशिश की। नाराज व्यापारियों के पुतला दहन पर अड़ जाने के बाद जैसे ही रकाबगंज चौराहे पर पुतला दहन की कोशिश हुई। पुलिस ने पुतला छीन लिया। व्यापारी काउंसिल के प्रति नाराजगी जताते हुए पुल पर जमा हाेकर नारेबाजी करने लगे। इससे अमीनाबाद की ओर जाने वाले मौलवीगंज, नाकाहिंडोला, पांडेयगंज, नादानमहल रोड, सुभाष मार्ग समेत कई इलाकों में जाम लग गया।

लखनऊ रेडीमेड होजरी एसोसिएशन के अध्यक्ष अमरनाथ मिश्र ने कहा कि पहली जनवरी से जीएसटी दरों में की जा रही बढ़ोत्तरी को कतई स्वीकार नहीं किया जाएगा। पांच प्रतिशत से बढ़ाकर 12 फीसद किया जाना व्यापार को तबाह करने जैसा है। सरकार से मांग है कि मध्यम एवं गरीब परिवारों को ध्यान में रखते हुए ₹1000 तक बिकने वाले वस्त्र जूता कपड़ा पर जीएसटी दर पहले की तरह पांच प्रतिशत ही रखी जाए। मांग न माने जाने पर राजधानी लखनऊ सहित पूरे प्रदेश को बंद कर आंदोलन किया जाएगा।

यहियागंज व्यापार मंडल के महामंत्री नीरज गुप्ता ने कहा कि इसे माना नहीं जाएगा। लगातार आंदोलन चलेंगे। व्यापार मंडल के युवा अध्यक्ष मिश्र ने कहा कि हमेशा टेक्सटाइल पर कर की दर सामान्य रही है लेकिन टैक्स बढ़ाए जाने का प्रस्ताव कारोबार को खत्म कर देगा। इस दौरान युवा वरिष्ठ महामंत्री समीर जैन ने छोटे कारीगरों का मुद्दा उठाया। दीपक अग्रवाल, अमित अग्रवाल, अजय पांडेय, सुमित दीक्षित, नरेश कुमार, नवीन मल्होत्रा, प्रशांत गर्ग, संजय अग्रवाल, आकाश गुप्ता, हैप्पी, विनय गुप्ता, सनी लालवानी, दीपक गुप्ता, ललित सुमानी, वैभव, गौरव जैन, अभिषेक गुप्ता, अमित शुक्ला, वरुण गुप्ता, सोनू जायसवाल, सुधीर गुप्ता, संगम गुप्ता, नीरज जायसवाल, भानु प्रताप सिंह समेत भारी संख्या में व्यापारी रहे।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.