top menutop menutop menu

Lockdown in Lucknow: आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सब कुछ बंद, ये व्यवस्था रहेगी लागू

लखनऊ, जेएनएन। लॉकडाउन.. ये शब्द अभी 40 दिन पहले तक हर एक की जुबान पर था। एक जून से सरकार ने तमाम नसीहत के साथ अनलॉक किया। ठहरी जीवनचर्या को फिर खुला पाकर हम ऐसे बेपरवाह हुए कि कोरोना हमारे गली-मुहल्ले तक पहुंचा। शहर में तेजी से मिले मरीजों के आंकड़े इसकी पुष्टि करते हैं। संक्रमण पर लगाम लगाने को लॉकडाउन फिर से हाजिर हो गया। शुक्रवार रात से लॉकडाउन सोमवार सुबह तक रहेगा। आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सभी निजी व सरकारी कार्यालय व्यापारिक प्रतिष्ठान बाजार और दुकानें बंद कर दी गईं। प्रशासन ने बिना वजह बाहर निकलने पर कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश के मुताबिक शासन की मंशा के अनुरूप लॉकडाउन का पालन पूरी तरह किया जा रहा है। पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों को लगातार पेट्रोलिंग कर नगरानी के निर्देश दिए गए हैं। थानास्तर पर बनाई गई करीब 80 टीमें भी इसकी निगरानी के लिए लगा दी गई हैं। आवश्यक सेवाओं के अलावा किसी को भी बेवजह बाहर निकलने की अनुमति नहीं होगी। रेलवे स्टेशन और हवाई अड्डे पहले की तरह संचालित रहेंगे। यहां पर आने जाने के लिए बसें लगाई गई हैं। इसके अलावा रोडवेज और अन्य बसों का संचालन पूरी तरह बंद रहेगा राजधानी में पुल, सड़क और बड़े सरकारी भवनों या निजी प्रोजेक्टों के निर्माण कोविड-19 के गाइडलाइन का पालन कराते हुए जारी रखे जा सकते हैं।

सोमवार से रात आठ बजे तक ही खुल सकेंगे बाजार

जिले में शुक्रवार रात दस बजे के बाद से 13 जुलाई तक लॉकडाउन घोषित किया गया है। इसके बाद सभी बाजार निजी कार्यालय, मंडी स्थल अलग-अलग बाजारों में दुकानें दिन के आधार पर खुलेंगी। इन्हें चिह्नित किया जाएगा। साथ ही निजी दफ्तरों में कर्मचारियों के घर से कार्य करने के निर्देश दिए हैं। बेहद जरूरी होने पर ही 50 फीसदी कर्मचारी बुलाए जा सकते हैं। दुकानें खुलने का समय भी सुबह नौ से शाम आठ बजे तक कर दिया गया है।  

सवारी वाहनों में ऑड-ईवन व्यवस्था

राजधानी में ऑटो, टेंपो, ई-रिक्शा आदि सवारी वाहन सम-विषम व्यवस्था के आधार पर चलाए जाएंगे। कंटेनमेंट जोन में कोई गतिविधि नहीं होगी। डीएम ने बताया कि ऐसे बाजार, कॉम्प्लेक्स, रेस्टोरेंट, मॉल जिनमें एक ही गली या सड़क पर 10 से अधिक दुकानें हैं। सम विषम के फार्मूले पर खोले जाएंगे। दुकानों में कलर थेरेपी दुकानों को हरे और नारंगी रंग से पेंट कर चिह्नित किया जाएगा। इसके लिए दो दिन का समय दिया गया है। पुलिस, नगर निगम और व्यापार मंडल आपस में यह तय करेंगे।  नारंगी : सोमवार, बुधवार और शुक्रवार को खुलेंगी। हरा : मंगलवार, गुरुवार और शनिवार को खोली जाएंगी। मॉल, डिपार्टमेंटल स्टोर में सामान छूने पर रोक मॉल, बहुमंजिला व्यापारिक प्रतिष्ठान, डिपार्टमेंटल स्टोर में रखे सामान पारदर्शी पॉलीथिन से ढक कर रखे जाएंगे। ग्राहकों को सीमित संख्या में प्रवेश की अनुमति मिलेगी। ग्राहकों को यहां रखे सामान छूने की मनाही होगी। डीएम ने बताया कि लोगों की संख्या और परिसर में उनकी मौजूदगी नियंत्रण व तय करने की जिम्मेदारी प्रबंधन तंत्र की होगी।

लॉकडाउन में खुले रहेंगे सभी ई सुविधा केंद्र

मध्यांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड ने अपने सभी उन्नीस जिलों में बिलिंग सेंटर लॉकडाउन के दौरान खोलने के निर्देश दिए हैं। लखनऊ में लॉकडाउन की अवधि के दौरान हुसैनगंज स्थित कस्टर केयर सेंटर 1912 और मध्यांचल के सभी बिलिंग सेंटर और उपभोक्ता सेवा केंद्र खुले रहेंगे। उधर, ई सुविधा ने अपने सभी काउंटर संभालने वाले कर्मियों से अपना परिचय पत्र साथ में रखने की सलाह दी है। मध्यांचल एमडी सूर्य पाल गंगवार ने बताया कि बिजली बिल जमा न करने वाले उपभोक्ताओं के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। उन्होंने बताया कि लॉकडाउन के दौरान भी गैर आवासीय विद्युत बकाएदारों के विद्युत संयोजन विच्छेदन का कार्य जारी रहेगा। राजधानी के सभी 74 ई सुविधा केंद्र खोलने के लिए मेधज आइटीएस कंपनी ने कर्मियों को पूर्व समयानुसार खोलने के निर्देश दिए हैं। 

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.