Liquor Shops Opened in UP: उत्तर प्रदेश के कई जिलों में खुलीं शराब की दुकानें, भीड़ ने तोड़ा कोविड प्रोटोकॉल

प्रदेश में 11 दिन से बंद शराब की दुकानों को आज कुछ जिलों में खोला गया

Liquor Shops Opened in UP शराब की दुकानें खोलने का फैसला जिलाधिकारियों पर छोड़ने के कारण कई शहरों में मंगलवार से शराब की दुकानें खोली गई हैं। पुलिस भले ही कोविड प्रोटोकॉल का पालन कराने के लिए मुस्तैद है लेकिन लोग पालन नहीं कर रहे हैं।

Dharmendra PandeyTue, 11 May 2021 01:23 PM (IST)

लखनऊ, जेएनएन। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस संक्रमण के दौरान प्रदेश में जारी कोरोना कर्फ्यू के दौरान आवश्यक वस्तुओं की श्रेणी में शराब को भी शामिल किया गया है। प्रदेश में 11 दिन से बंद शराब की दुकानों को आज कुछ जिलों में खोला गया। इस दौरान वहां पर भारी भीड़ उमड़ी है।

जिलों में शराब की दुकानों को खोलने का फैसला सभी जिलाधिकारियों पर छोड़ दिया गया है। यही वजह है कि कई शहरों में मंगलवार से शराब की दुकानें खोल दी गईं हैं। कई जगह पर इनको सुबह 10 बजे से दोपहर एक बजे तक खोले जाने का निर्देश है तो कुछ जगहों पर दोपहर 12 बजे से शाम को छह बजे तक खोली जा रही हैं। कानपुर में शराब की दुकान खोलने का समय सुबह 10 बजे से शाम 7 बजे तक तय किया गया है। राजधानी लखनऊ सहित अन्य जिलों में दुकानें बुधवार से खुलेंगी। जिन शहरों में आज शराब की दुकानें खुली हैं, वहां पर लंबी लाइनें लगी हैं। देशी के साथ ही विदेशी शराब की दुकानों पर पुलिस भले ही कोविड प्रोटोकॉल का पालन कराने के लिए मुस्तैद है, लेकिन लोग पालन नहीं कर रहे हैं।

प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने शराब को आवश्यक सेवा में रखा है। कोरोना कर्फ्यू के दौरान भी इसकी दुकानों को बंद करने का कोई भी निर्देश नहीं था, लेकिन दुकानदारों ने बंद रखा। प्रदेश सरकार ने शराब की दुकानों को खेलने का फैसला सभी डीएम पर छोड़ा था। लंबा इंतजार करने के बाद प्रदेश के 50 से अधिक जिलों में मंगलवार से देशी तथा अंग्रेजी शराब की दुकानें खुल गई। दुकानदारों ने भले ही पुलिस की मदद से फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए दुकानों के बाहर गोले बना रखे थे, लेकिन जैसे ही दुकान खुली तो भीड़ को कुछ भी ध्यान में नहीं रहा। वाराणसी के साथ ही मेरठ, गौतमबुद्धनगर, बागपत, शामली, कानपुर, बिजनौर, मिर्जापुर, झांसी, बिजनौर में दुकान खुलने से पहले ही लंबी लाइनें लग गई थीं। वाराणसी, मेरठ, बागपत तथा अन्य जिलों में भले ही जिलाधिकारी ने दिन के एक बजे तक दुकानें खोलने का निर्देश दिया है, लेकिन गौतमबुद्धनगर में दुकानें शाम को सात बजे तक खुलेंगी। शासन से निर्देश है कि अपने विवेकाधीन फैसले के तहत जिलाधिकारी शराब की दुकानें खोलने की इजाजत दे सकते हैं।

वाराणसी के कोतवाली थाना अंतर्गत मैदागिन पेट्रोल टंकी के पास शराब व बीयर की दुकानें खुलते ही दुकान पर भीड़ लग गई। इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने नियमों का पालन व शारीरिक दूरी बनाने का निर्देश दिया। इस दौरान पुलिस ने सभी को गोले में खड़े रहने की भी अपील की।

मेरठ, सहारनपुर, मुजफफरनगर, शामली, बागपत और ब‍िजनौर में आज शराब की दुकानें खुल गई हैं। प्रशासन ने इनके खुलने का समय सुबह 10 बजे से शाम सात बजे तक का निर्धारित किया है। आज शराब की दुकानों पर भीड़ देखी जा रही है। बुलंदशहर में पंचायत के उप चुनाव की मतगणना के कारण आज शराब की दुकानें नहीं खुली हैं। यहां बुधवार से खुल जाएंगी। बिजनौर में भी शराब की दुकानें खुली हैंं। यहां पर हर जगह ही शराब का ठेका खुलते ही ग्राहकों की भीड़ गल गई है। यहां पर फिजिकल डिस्टेंसिंग लंबी कतार है, लेकिन पुलिस नदारद है। शहर के नगर पालिका की दुकान पर लोग धक्का-मुक्की कर रहे हैं।

गौतमबुद्धनगर में शराब की दुकानें खुलते ही लगी उसके बाहर लंबी कतार लग गई। इस दौरान शराब लेने के लिए ठेकों पर भीड़ जमा होने के कारण फिजिकल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। यहां पर सभी ठेकों पर लंबी-लंबी लाइन लगी है। यहां पर सुबह दस बजे से शाम को सात बजे तक दुकाने खुलेंगी। मिर्जापुर में भी जिलाधिकारी ने शाम को सात बजे तक शराब की दुकानें खोलने का आदेश दिया है।

कानपुर में शराब की दुकानें खुलते ही लगी लोगों की कतार, कोविड नियम हुए तार-तार: भले ही अभी 17 मई तक कोरोन कर्फ्यू के आदेश और पुलिस सख्ती से पालन कराने का प्रयास कर रही है लेकिन मंगलवार की दोपहर शराब की दुकानों पर सभी नियम-कानून टूटते नजर आए। शासन से रात में जारी आदेश पर शराब दुकानें खुलते ही भीड़ लग गई। मनमानी का आलम तब नजर आया जब शराब दुकानों भीड़ इस कदर रही कि कोविड नियम तार तार होते रहे।

कानपुर शहर में शासन के निर्देश के बाद शराब की दुकानें खुल गईं। इसकी जानकारी होते ही घरों से निकलकर लोग शराब दुकानों में लाइन लगाने लगे। मुंह पर न तो मास्क था और न ही दो गज की दूरी का पालन किया जा रहा था। यह हाल तब था जब दुकान खोलने में कोविड नियमों का पालन कराने की शर्त अनिवार्य की गई है। मॉल रोड पर हीर पैलेस के पास बीयर शॉप पर लोगों की भीड़ रही, इसी तरह मंधना, काकादेव, कल्याणपुर समेत कई स्थानों पर शराब की दुकानें खुलते ही लोग पहुंच गए। जिला आबकारी अधिकारी ने सख्ती के साथ कोविड नियमों का पालन कराते हुए शराब दुकानें खोलने के आदेश शासन द्वारा आने की बात कही है।

बागपत में मंगलवार से शराब की दुकानें खुल गई हैं। यहां पर दस बजे से दुकान खुलनी थी, लेकिन लोग आठ बजे से ही लाइन में लग गए थे। अब बागपत में रोज सुबह 10 बजे से शाम सात बजे तक शराब की दुकानें खुलेंगी।

रायबरेली में शराब की दुकान से बोतलें और नकदी चोरी: शराब की दुकान के लम्बे समय से बंद रहने का लाभ चोरों ने उठाया है। परशदेपुर पुलिस चौकी क्षेत्र में पुलिस पिकेट से महज दो सौ मीटर दूर मुख्य चौराहे के पास चोर दुकान से कीमती शराब और नकदी बटोर ले गए। मंगलवार को सुबह लगभग लगभग छह बजे हरिश्चंद्र दुकान पर आया तो शराब की दुकान का कुंडा टूटा हुआ था।

इसके बाद हरिश्चंद्र ने सूचना वार्ड नंबर सात के सभासद अरुणेश जायसवाल को दी। सभासद ने चोरी की जानकारी चौकी प्रभारी के साथ ही दुकान स्वामी प्रीती के पति मोनू जायसवाल को दी। आनन फानन चौकी प्रभारी रावेन्द्र सिंह मौके पर पहुंचे और आसपास लोगों से पूछताछ की। मोनू जायसवाल ने बताया कि दुकान से सिलेंडर व शराब के साथ 53840 रुपये की चोरी हुई है। ï 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.