केंद्र की सभी योजनाओं में UP अव्वल, अब यहां की सत्ता पाने को परेशान न हों विपक्षी दल : अमित शाह

Amit Shah on UP Visit अमित शाह ने योगी आदित्यनाथ सरकार के काम को जमकर सराहा। उन्होंने कहा राज्यों के लिए केंद्र सरकार की 44 बड़ी योजनाओं के क्रियान्वयन में उत्तर प्रदेश शीर्ष पर है। उन्होंने कहा किसी भी योजना का शत-प्रतिशत क्रियान्वयन बेहतर कार्यशैली का सबसे बड़ा उदाहरण है।

Dharmendra PandeySun, 01 Aug 2021 10:38 AM (IST)
नरेंद्र मोदी सरकार में गृह तथा सहकारिता मंत्री अमित शाह

लखनऊ, जेएनएन। Amit Shah on UP Visit: उत्तर प्रदेश में फिर प्रचंड बहुमत से कमल की सरकार आएगी। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार में गृह व सहकारिता मंत्री अमित शाह ने इस भरोसे के साथ लखनऊ में रविवार को भाजपा नेताओं व कार्यकर्ताओं में नया जोश भर दिया। विपक्ष पर तगड़ा हमला बोलते हुए विधानसभा चुनाव का बिगुल फूंका। भाजपा सरकार की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए विपक्ष को आइना दिखाया। कहा कि चुनाव नजदीक आते ही सक्रिय होने वाले नेता सबसे ज्यादा नेता यूपी में ही नजर आते हैं। सपा व कांग्रेस पर निशाना साधते हुए शाह ने कहा कि भाजपा ने उत्तर प्रदेश में परिवारवाद व जातिवाद की राजनीति को खत्म किया है। जो सरकार बनाने का स्वप्न देख रहे हैं, वे आगामी विधानसभा चुनाव में करारी हार का मन बना लें।

अमित शाह ने कहा कि जब कोरोना महामारी थी, किसान परेशान थे, लोग बिना घर के झोपडिय़ों में रह रहे थे, महिलाएं परेशान थीं, तब वे नेता क्या कर रहे थे, जो चुनाव नजदीक आते ही नए कपड़े पहनकर आ जाते हैं। उत्तर प्रदेश की कानून-व्यवस्था में हुए बदलाव के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व उनकी टीम की खूब सराहना की। कहा कि उत्तर प्रदेश में योगी के नेतृत्व में जो परिवर्तन आया है, उससे मुझे पूरा यकीन है कि उत्तर प्रदेश में फिर प्रचंड बहुमत से भाजपा की सरकार बनने जा रही है। योगी सरकार ने चार सालों में प्रदेश से माफियाराज को उखाड़ फेंका है।

गृह मंत्री अमित शाह ने पिपरसंड में यूपी स्टेट इंस्टीट्यूट आफ फोरेंसिक साइंसेज का शिलान्यास तथा भूमि पूजन करने के साथ ही लोगों को संबोधित किया। इस अवसर पर अमित शाह ने योगी आदित्यनाथ सरकार के काम को जमकर सराहा। उन्होंने कहा कि राज्यों के लिए केंद्र सरकार की सभी 44 बड़ी योजनाओं के क्रियान्वयन में उत्तर प्रदेश शीर्ष पर है। उन्होंने कहा कि किसी भी योजना को बनाना तो आसान होता है, लेकिन उसका शत-प्रतिशत क्रियान्वयन बेहतर कार्यशैली का सबसे बड़ा उदाहरण है। आज देश में चल रही विकास की 44 योजनाओं में सबसे आगे उत्तर प्रदेश है। योगी आदित्यनाथ और उनकी टीम ने पूरे देश में इन 44 योजनाओं में सबसे पहला स्थान हासिल किया है। उत्तर प्रदेश ने हर क्षेत्र में विकास किया है।

गृह मंत्री ने कहा कि अब भ्रष्टाचारियों के दिल में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का भय है, जिसकी वजह से भ्रष्टाचार कम हुआ है। पहले का यूपी मुझे ठीक तरह से याद है। महिलाएं असुरक्षित थीं, यहां पर दिनदहाड़े गोलियां चलती थीं, माफियाओं का राज था। उन्होंने कहा कि पहले उत्तर प्रदेश में महिलाएं अपने को असुरक्षित महसूस करती थीं। माफिया अवैध तरह से जमीनों पर कब्जा करते थे। 2017 में भारतीय जनता पार्टी ने उत्तर प्रदेश को विकसित बनाने का वादा किया था। आज योगी आदित्यनाथ और उनकी टीम ने उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था को आगे ले जाने का काम किया है।

अमित शाह ने कहा कि जिनको उत्तर प्रदेश में सरकार बनाने के सपने आ रहे हैं, उनके कानों तक आवाज जानी चाहिए। उत्तर प्रदेश में जिनको सरकार बनाने के सपने आ रहे हैं, उनके कानों तक 'भारत माता की जय' की आवाज जानी चाहिए। भाजपा की सरकारें जातियों और परिवारों के आधार पर नहीं चलतीं, नजदीक के व्यक्तियों के लिए नहीं चलतीं। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण के दोनों काल के कारण लम्बे समय बाद मैं यूपी की भूमि पर आया हूं। उन्होंने का कि स्व. बाल गंगाधर तिलक जी ने कहा था, आजादी मेरा जन्मसिद्ध अधिकार है, इस नारे ने अंग्रेजी शासन की नींव हिला कर रख दी थी, मैं स्व. बाल गंगाधर तिलक जी की पुण्यतिथि पर उनको विनम्र श्रद्धांजलि देता हूं। उनके दिखाए मार्ग पर चलकर आगे की पीढ़ियां देश का मान बढ़ाएं। 

उन्होंने कहा कि मुझे तो पहले का यूपी ठीक तरह से याद है। अपराध व अपराधी बेलगाम थे। आज 2021 में यूपी में खड़ा हूं तो गर्व से कहता हूं कि योगी आदित्यनाथ की टीम ने उत्तर प्रदेश को आगे ले जाने का काम किया है। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी देश के विकास के लिए काम करती है, अब तो भ्रष्टाचारियों के दिल में योगी आदित्यनाथ का भय है, जिसकी वजह से भ्रष्टाचार कम हुआ है,आज वैक्सीनेशन में यूपी देश में सबसे आगे है। उन्होंने कहा कि हमने कहा था शासन एक जाति के लिए नहीं, सबके लिए होगा। पीएम नरेंद्र मोदी जब गुजरात में मुख्यमंत्री थे तो गांधीनगर में राष्ट्रीय फॉरेंसिक यूनिवर्सिटी बनाई गई।

अमित शाह ने कहा कि उत्तर प्रदेश में मैने इससे पहले भी काफी भ्रमण किया है। 2013 से 2019 तक यहां के हर जिले का भ्रमण के दौरान अब मैं बेहद बदलाव महसूस कर रहा हूं। पहले उत्तर प्रदेश के कमजोर तथा गरीब लोग बेहद भयभीत थे। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में तो अपराधियों के डर से लोग अपना घर तक बेचने पर मजबूर होते थे, लेकिन अब यहां पर अपराधी थानों में जाकर समर्पण कर रहे हैं। प्रदेश सरकार अपराध तथा सभी प्रकार के अपराधियों के प्रति बेहद सख्त है। इसके कारण ही यहां की अर्थव्यवस्था भी मजबूत हो रही है। उन्होंने कहा भाजपा की सभी सरकार की प्राथमिकता गरीबों का विकास तथा सुदृढ़ कानून-व्यवस्था की है। इसका सबसे बड़ा उदाहरण उत्तर प्रदेश ही है। उत्तर प्रदेश की अर्थव्यवस्था देश में दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था हो चुकी है। अब यहां कर अर्थव्यव्था 11 लाख करोड़ से 22 लाख करोड़ की हो चुकी है।

माफिया और गैंगस्टर से 1584 करोड़ की संपत्ति जब्त की

इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 2017 से पहले उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था बदहाल थी। माफिया राज इतना हावी था कि आज जिस भूमि पर हम इंस्टीट्यूट ऑफ फॉरेंसिक साइंसेज की स्थापना कर रहे हैं, इस 142 एकड़ भूमि पर एक माफिया कब्जा करने जा रहा था। हमने कार्रवाई कि और माफिया उस जमीन से भाग गया। उन्होंने कहा कि 2019 में गृह मंत्री बनने के बाद अमित शाह ने अपराध के संदर्भ में इंस्टीट्यूट ऑफ फॉरेंसिक साइंसेज के निर्माण का विचार उत्तर प्रदेश सरकार को दिया और आज इस इंस्टीट्यूट का शिलान्यास संपन्न हुआ। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश में चार वर्ष के अंदर जो परिवर्तन हुआ है, वो गृह मंत्री अमित शह की विकासशील सोच वजह से ही है। 2017 से पहले उत्तर प्रदेश दंगों का प्रदेश माना जाता था, माफियाओं का कब्जा था। हमने उत्तर प्रदेश में पेशेवर माफियाओं और गैंगस्टरों से 1584 करोड़ की संपत्ति जब्त की है। आज तो माफियाओं में डर का माहौल है।

इससे पहले गृह मंत्री अमित शाह रविवार को सुबह लखनऊ के चौधरी चरण सिंह इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर विशेष विमान से पहुंचे। यहां पर उनका स्वागत सीएम योगी आदित्यनाथ ने किया। इसके बाद हेलिकॉप्टर से पिपरसंड में यूपी स्टेट इंस्टीट्यूट आफ फोरेंसिक साइंसेज के प्रांगण रवाना हो गए। जहां पर उन्होंने इंस्टीट्यूट का शिलान्यास करने के साथ ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उनके मंत्रिमंडल के कई सहयोगियों के साथ भूमि पूजन भी किया। 

सीएम योगी आदित्यनाथ, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य व डा.दिनेश शर्मा, केंद्रीय राज्य मंत्री आवास एवं शहरी कार्य कौशल किशोर, राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) महिला कल्याण तथा बाल विकास व पुष्टाहार स्वाती सिंह, सदस्य विधान परिषद स्वतंत्र देव सिंह अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी, डीजीपी मुकुल गोयल व अन्य वरिष्ठ अधिकारी भूमि पूजन में मौजूद थे। लखनऊ के इस इंस्टीट्यूट को सेंटर राष्ट्रीय फोरेंसिक विश्वविद्यालय, गुजरात से सम्बद्ध किया गया है। संस्थान को तकनीकी सहयोग देने के लिए राष्ट्रीय फारेंसिक साइंस विश्वविद्यालय, गुजरात के कुलपति डा. जेएम व्यास व अपर मुख्य सचिव, गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने एमओयू पर हस्ताक्षर किए।

कल्याण सिंह देखने संजय गांधी पीजीआइ गए अमित शाह

लखनऊ के पिपरसंड में गृह मंत्री अमित शाह ने यूपी स्टेट इंस्टीट्यूट आफ फोरेंसिक साइंसेज का भूमि पूजन तथा शिलान्यास करने के बाद हेलिकॉप्टर से सीधा संजय गांधी पीजीआइ का रुख किया। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह वयोवृद्ध नेता कल्याण सिंह को देखने संजय गांधी स्नातकोत्तर आयुर्विज्ञान संस्थान पहुँचे। 

वहां पर उन्होंने लम्बे समय से भर्ती भाजपा के वरिष्ठ नेता कल्याण सिंह का हाल लिया। उन्होंने कल्याण सिंह का इलाज कर रहे डॉक्टर्स तथा कल्याण सिंह के परिवार के लोगों से भी वार्ता की। उन्होंने विशेषज्ञों से उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी प्राप्त की और शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की। अमित शाह के साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना भी थे। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.