COVID-19 से सुरक्षा और टाक्टे तूफान से राहत के लिए लखनऊ के मनकामेश्वर मंदिर में अनुष्ठान, उदासीन अखाड़ा खदरा में हवन पूजन

टाक्टे तूफान से बचने के लिए लखनऊ के मनकामेश्वर मंदिर में जलाभिषेक तो उदासीन अखाड़ा खदरा में हवन पूजन हुआ।

कुदरत के कहर से निजात दिलाने के लिए हर कोई अपने-अपने तरीके से कार्य कर रहा है। गंगा सप्तमी पर मंगलवार को मनकामेश्वर मंदिर की महंत देव्या गिरि की ओर से संक्रमण से मुक्ति और टाक्टे तूफन से राहत के लिए 21 कलश से जलाभिषेक किया गया।

Rafiya NazTue, 18 May 2021 05:08 PM (IST)

लखनऊ, जेएनएन। कुदरत के कहर से निजात दिलाने के लिए हर कोई अपने-अपने तरीके से कार्य कर रहा है। गंगा सप्तमी पर मंगलवार को मनकामेश्वर मंदिर की महंत देव्या गिरि की ओर से संक्रमण से मुक्ति और टाक्टे तूफन से राहत के लिए 21 कलश से जलाभिषेक किया गया। संक्रमण के चलते सीमित संख्या में ही सेवादार शामिल हुए। कल्याणी गिरि, गौरजा गिरि, रीतु गिरि, उपमा पांडेय, रीता श्रीवास्त व  तुलसी पांडेय ने सामूहिक हनुमान चालीसा पाठ किया। महंत देव्यागिरि ने बताया कि मान्यता है कि गंगा सप्तमी के दिन ही मां गंगा, स्वर्ग से भगवान शिव की जटाओं में समाई थीं। इसके बाद ज्येष्ठ माह के शुक्ल पक्ष की दशमी को गंगा दशहरे पर उनका धरती पर प्रवाह हुआ था। 

वहीं खदरा के उदासीन अखाड़े के महंत श्री धर्मेंद्र दास जी महाराज जी के आवाहन पर आचार्य पंडित राजेश शुक्ला जी के सानिध्य में कोरोना वैश्विक महामारी निवारण, टाक्टे तूफान  से सुरक्षा व दिवंगत आत्माओं के मोक्ष के लिए 101 सम्पुटित हनुमान चालीसा पाठ शुरू हुआ जो 11 मंगलवार तक अनवरत चलेगा।  एवं विश्व शांति तथा पर्यावरण में व्याप्त नकारात्मक ऊर्जा को दूर करने के लिए औषधि युक्त हवन सामग्री से यज्ञ किया गया। हवन में नामित पार्षद अनुराग मिश्रा, डा.उमंग खन्ना के अलावा नीरज अवस्थी, रवि प्रकाश मिश्रा, ईशान अवस्थी, अमित शुक्ला, कपिल पांडेय, हरि शंकर मिश्रा, हर्षित तिवारी, सत्यम गौड़, शिवम पांडेय व कृष्णा शंकर शर्मा शामिल हुए। हनुमान सेतु के पास स्थापित प्राचीन नीब करौरी आश्रम व हनुमान मंदिर घाट पर आदि गंगा गोमती की आरती की गई। आचार्य अशीष पांडेय ने बताया कि काेरोना मुक्ति की कामना को लेकर आरती की गई। वहीं कोरोना संक्रमण से दिवंगत ज्ञात व अज्ञात की आत्मा की शांत के लिए मंगलवार को हवन पूजन किया गया गया। आर्य समाज मंडल की ओर से इंदिरानगर में आयोजित यज्ञ हवन में संयोजक कांति कुमार व माया आनंद शामिल हुई। उन्होंने बताया कि उनके इस प्रयास से समाज को प्रेरणा मिल रही है।

आनलाइन श्रीमद्भगवत गीता ज्ञान यज्ञ: चिन्मय मिशन के संस्थापक ब्रह्मलीन स्वामी चिन्मयानंद की जयंती पर श्रीमद्भगवद्गीता सातवें अध्याय का आनलाइन वीडियो ज्ञान यज्ञ मंगलवार को किया गया। महानगर के चिन्मय मिशन केंद्र के प्रभारी ब्रह्मचारी कौशिक जी महाराज के सानिध्य में हुए यज्ञ के दौरान पादुका पूजन भी किया गया। प्रवक्ता विनीत तिवारी ने बताया कि  25 तक वीडियो ज्ञान यज्ञ का आयोजन होगा। कोरोना संक्रमण के चलते साधक अपने घरों में यूट्यूब चैनल के माध्यम से यज्ञ में शामिल हो रहे हैं। 

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.