देशभर में एकता और अखंडता का संदेश दे रहे एसएसबी के जवान, लखनऊ पहुंचने पर भव्‍य स्‍वागत

असम के तेजपुर से निकली साइकिल यात्रा दो हजार किमी का सफर तय कर रविवार को लखनऊ पहुंची। जब सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) के करीब 85 जवान लखनऊ-फैजाबाद रोड स्थित पारिजात रेजीडेंसी पहुंचे तो अद्भुत नजारा देखने को मिला।

Anurag GuptaMon, 20 Sep 2021 06:30 AM (IST)
दो हजार किमी का सफर तय कर लखनऊ पहुंचे जवानों का भव्य स्वागत।

लखनऊ, जागरण संवाददाता। देश आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है। हर तरफ खुशियां और उल्लास है। इस उल्लास के मौके पर असम के तेजपुर से निकली साइकिल यात्रा दो हजार किमी का सफर तय कर रविवार को लखनऊ पहुंची। जब सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) के करीब 85 जवान लखनऊ-फैजाबाद रोड स्थित पारिजात रेजीडेंसी पहुंचे तो अद्भुत नजारा देखने को मिला। जगह-जगह छात्रों, व्यापारियों और आमजन ने पुष्प वर्षा कर जवानों का उत्साहवर्धन किया।

स्वागत में महिलाओं और पुरुषों ने जवानों की आरती उतारी तो बच्चों ने टीका लगाकर उनकी सलामती और लंबी आयु की दुआ की। महिलाओं और बच्चों ने देशभक्ति के गीत गाए। इस दौरान यहां एसएसबी सीमांत मुख्यालय से महानिरीक्षक रत्न संजय, उप महानिरीक्षक डीके सिन्हा और पारिजात रेजीडेंसी (आरडब्ल्यूए) से सेक्रेट्री समर विजय सि‍ंह, रामशंकर वर्मा, एसआर तिवारी, आरपी सि‍ंह, वीएस पांडेय, अनुपम अग्रवाल राकेश कुमार ने जवानों का अभिवादन किया। आइजी रत्न संजय ने बताया कि यह जन जागरूकता साइकिल रैली गत 25 अगस्त को असम के तेजपुर स्थित सीमांत मुख्यालय से निकली थी। रैली में गुवाहाटी, सिलीगुड़ी और पटना के जवान भी शामिल हुए। लखनऊ दर्शन के बाद रैली दो अक्टूबर को राजघाट नई दिल्ली पहुंचेगी।

रेजीडेंसी में शहीदों को किया नमन : पारिजात रेजीडेंसी से आइजी रत्न संजय खुद अधिकारियों के साथ रैली में शामिल हुए। वह फैजाबाद रोड से भूतनाथ पहुंचे। यहां से साइकिल यात्रा को आइजी ने आगे के लिए रवाना किया। आइटी चौराहे पर व्यापारियों और समाजसेवियों ने भव्य स्वागत किया। लखनऊ युवा व्यापार मंडल के अध्यक्ष मनीष गुप्ता, अनुराग साहू, अभिषेक खरे और अन्य व्यापारियों ने पुष्प वर्षा की। कमांडेंट हरिप्रकाश की अगुवाई में यात्रा रेजीडेंसी पहुंची। यहां नागरिक सुरक्षा कोर के पदाधिकारियों ने जवानों को माला पहनाकर अभिनंदन किया। थ्रेट्रान ग्रुुप ने चौरी-चौरा नुक्कड़ नाटक की प्रस्तुति दी। जवानों ने यहां संग्रहालय देखा। इस दौरान एसएसबी के बैंड और पाइप पर बजती देशभक्ति की धुनोंं ने सबको मंत्रमुग्ध कर दिया। जवान इसके बाद जनरल की कोठी पहुंचे। यहां उन्हें ऐतिहासिक डाक्यूमेंट्री दिखाई गई। फिर शहीद स्मारक स्मृतिका पर पुष्प अर्पित किए।

साइकिल यात्रा काकोरी भी पहुंची। यहां त्रिलोकी सि‍ंह इंटर कालेज के शिक्षकों और छात्रों ने स्वागत किया। इसके बाद जवान रेलवे स्टेशन और शहीद स्मारक पहुंचे, जहां स्मृतिका पर पुष्प अर्पित कर नमन किया। एतिहासिक स्थलों का भ्रमण किया।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.