सावधान! लखनऊ में सक्रिय हैं दिल्‍ली के ठगों का गिरोह, ध्‍यान भटकाकर करते हैं टप्‍पेाबजी

टप्पेबाजी की घटनाएं दिल्ली का गिरोह अंजाम दे रहा है। दिल्ली के ठगों ने अलग-अलग गिरोह बनाए हैं लेकिन उनका पैटर्न एक जैसा है। वे लोगों का ध्यान गाड़ी से तेल गिरने की बात कह कर भटकाते हैं। इसके बाद बैग या कीमती सामान पार कर देते हैं।

Rafiya NazSat, 31 Jul 2021 08:39 AM (IST)
दिल्ली के टप्पेबाजों ने किया पुलिस की नाक में दम।

लखनऊ, जागरण संवाददाता। टप्पेबाजी की घटनाओं में बेतहासा बढ़ोतरी हुई है। आए दिन लोग टप्पेबाजी का शिकार हो रहे हैं। वहीं, पुलिस इन ठगों को पकडऩे में नाकाम है। लगभग हर थाना क्षेत्र में टप्पेबाजों ने लोगों को निशाना बनाया है। लखनऊ पुलिस गिरोह का राजफाश करने में लगी है, लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिल रही है।

टप्पेबाजी की घटनाएं दिल्ली का गिरोह अंजाम दे रहा है। दिल्ली के ठगों ने अलग-अलग गिरोह बनाए हैं, लेकिन उनका पैटर्न एक जैसा है। वे लोगों का ध्यान गाड़ी से तेल गिरने की बात कह कर भटकाते हैं। इसके बाद बैग या कीमती सामान पार कर देते हैं। वहीं, कुछ 10 व 20 रुपये के नोट सड़क पर गिराकर कार सवार को उनके पैसे गिरने की जानकारी देते हैं। कार सवार जैसे ही गाड़ी से उतरकर नोट उठाने लगते हैं, वैसे ही वे रुपयों से भरा बैग पार कर देते हैं। दिल्ली के अलावा टप्पेबाजों के अन्य गिरोह भी सक्रिय हैं, जो खुद को पुलिसकर्मी बताकर महिलाओं को झांसे में लेते हैं और उनके जेवर उतरवा लेते हैं। खास बात यह है कि ठग ऐसा सार्वजनिक स्थानों पर करते हैं और पुलिस को भनक तक नहीं लगती। ये टप्पेबाज तीन या उससे ज्यादा की संख्या में रहते हैं।

हाल में हुई कुछ घटनाओं पर एक नजर: नाका में टप्पेबाजों ने मवैया निवासी महताब बानो व उनकी मां सईफुल निशा को झांसे में लेकर उनके जेवर उतरवा लिए और नकदी भी पार कर दी।

सात जुलाई को आलमनगर निवासी पूजा साहू के टप्पेबाजों ने खुद को पुलिसकर्मी बताकर गहने उतरवा लिए। इस गिरोह के तीन आरोपित पकड़े गए थे, जो दिल्ली के रहने वाले हैं।

इंदिरानगर बी ब्लाक निवासी अभिषेक कुमार सिंह की कार से टप्पेबाजों ने रुपयों से भरा बैग पार कर दिया। तीन युवकों ने उन्हें कार से मोबिल आयल गिरने का झांसा दिया था।

उन्नाव के मियागंज क्षेत्र के जिला पंचायत सदस्य फूलचंद की कार में रखे दो बैग टप्पेबाजों ने पार कर दिए।

आगरा एक्सप्रेस-वे पुल के पास टप्पेबाजों ने मूलरूप से प्रयागराज निवासी कमलेश भगत की गाड़ी से रुपयों से भरा बैग पार कर दिया था।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.