लखनऊ के डा. शकुंतला मिश्रा विश्विद्यालय में हुई फुल ड्रेस रिहर्सल, दीक्षा समारोह कल

डा.शकुंतला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विश्वविद्यालय का आठवां दीक्षा समारोह सोमवार को होगा। रविवार को फुल ड्रेस रिहर्सल किया गया। राज्यपाल आनंदी बेन पटेल की भूमिका में रहीं प्रो.शेफाली यादव ने अध्यक्षता की तो डा.आशुतोष पांडेय ने मुख्य अतिथि दिल्ली के वरिष्ठ विज्ञानी विक्रम कुमार की भूमिका में नजर आए।

Dharmendra MishraPublish:Sun, 28 Nov 2021 04:13 PM (IST) Updated:Sun, 28 Nov 2021 04:13 PM (IST)
लखनऊ के डा. शकुंतला मिश्रा विश्विद्यालय में हुई फुल ड्रेस रिहर्सल, दीक्षा समारोह कल
लखनऊ के डा. शकुंतला मिश्रा विश्विद्यालय में हुई फुल ड्रेस रिहर्सल, दीक्षा समारोह कल

लखनऊ, जागरण संवाददाता। डा.शकुंतला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विश्वविद्यालय का आठवां दीक्षा समारोह सोमवार को होगा। इसे लेकर रविवार को फुल ड्रेस रिहर्सल कर तैयारियों का परखा गया। राज्यपाल आनंदी बेन पटेल की भूमिका में रहीं प्रो.शेफाली यादव ने अध्यक्षता की तो डा.आशुतोष पांडेय ने मुख्य अतिथि दिल्ली के भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान के वरिष्ठ विज्ञानी और शांति स्वरूप भटनागर पुरस्कार प्राप्त प्रो.विक्रम कुमार की भूमिका में नजर आए।

प्रो.वीके सिंह दिव्यांगजन सशक्तीकरण और पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री अनिल राजभर की भूमिका में रहे। कुलसचिव अमित कुमार सिंह ने बताया कि कुलपति प्रो.आरकेपी सिंह द्वारा अतिथियों के स्वागत के साथ समारोह का संचालन डा.कौशिकी ने किया। परीक्षा नियंत्रक डा.अमित कुमार राय ने बताया कि अटल बिहारी वाजपेयी सभागार में होने वाले समारोह में कौन बनेगा करोड़पति में एक करोड़ जीतने वाली विश्वविद्याल की पूर्व छात्रा हिमानी बुंदेला का भी सम्मान किया जाएगा।

रिहर्सल में 115 मेधावी शामिल हुए। 1100 डिग्रियों के साथ ही 145 मेधावियों को पदक मिलेगा। इसमे 53 स्वर्ण के साथ ही 46-46 सिल्वर-कांस्य पदक होंगे। इस बार दो दर्जन शोधार्थियों को पीएचडी की उपाधि भी मिलेगी।

काले सफेद पोशाक में नजर आए मेधावीः

दीक्षा समारोह का ड्रेस कोड भी रिहर्सल में नजर आया। दीक्षा समारोह में शामिल होने वाले छात्रों के लिए काले पैंट और सफेद शर्ट पहनकर आना होगा। वहीं छात्राओं को सफेद सलवार कुर्ता पहनकर आना होगा। रिहर्सल में कई विद्यार्थी फुल ड्रेस में नजर आए।

शारीरिक दूरी का करना होगा पालनः

दीक्षा समारोह के दौरान कोरोना संक्रमण से सुरक्षा को लेकर विशेष तैयारी की जा रही है। मास्क और सैनिटाइजर के साथ ही दो कुर्सियों के बीच में एक कुर्सी का गैप भी रखा जाएगा। विद्यार्थियों के साथ ही शिक्षकाें को भी इसका पालन करना होगा। दीक्षा समारोह से दो घंटे पहले विद्यार्थियों को अटल बिहारी सभागार में पहुंचना होगा।