Corona Vaccine Politics: कोरोना वैक्सीन को लेकर अखिलेश यादव बोले- सिर्फ डाक्टर्स का भरोसा करें, CM योगी आदित्यनाथ का नहीं

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव

अखिलेश यादव ने कहा कोरोना की वैक्सीन आ गई यह अच्छी बात है लेकिन सिर्फ डॉक्टर्स की बात पर भरोसा करें। सीएम योगी आदित्यनाथ की बात पर भरोसा न करें। मैं तो सरकार से जानना चाहता हूं कि क्या मेडिकल स्टाफ को वैक्सीनेशन के लिए पर्याप्त ट्रेनिंग दी गई है।

Publish Date:Sat, 16 Jan 2021 03:12 PM (IST) Author: Dharmendra Pandey

लखनऊ, जेएनएन। देश की कोरोना वैक्सीन को भारतीय जनता पार्टी की बताने के बाद काफी किरकिरी झेलने वाले समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर एक बार फिर विवादित बयान दिया है। समाजवादी पार्टी के ऑफिस में बसपा तथा भाजपा से आए नेताओं को पार्टी की सदस्यता दिलाने के बाद उन्होंने कहा कि कोरोना की वैक्सीन आ गई यह तो अच्छी बात है, लेकिन सिर्फ डॉक्टर्स की बात पर भरोसा करें। सीएम योगी आदित्यनाथ की बात पर भरोसा न करें।

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि मुझे खुशी है कि सरकार ने वैक्सीन लगाने का काम शुरू कर दिया है। इसकी खोज करने वाले वैज्ञानिकों से हमें कोई शिकायत नहीं है, सवाल यह है कि गरीबों तक वैक्सीन कब तक पहुंचेगी। उन्हेंं फ्री वैक्सीन मिलेगी या नहीं, यह सरकार को बताना चाहिए। अखिलेश यादव ने आगे कहा कि खबर है कि एक बड़े देश मे वैक्सीन लगने के बाद 23 बुजुर्ग लोगों की जान चली गई। कई लोग बीमार हो गए। मैं तो सरकार से यह जानना चाहता हूं कि क्या मेडिकल स्टाफ को वैक्सीनेशन के लिए पर्याप्त ट्रेनिंग दी गई है। इसको लेकर क्या देश या प्रदेश में पर्याप्त तैयारी है। 

कोरोना टीकाकरण को लेकर उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के लोग अपने छोटे बड़े हर कार्यक्रम को बड़े इवेंट के तौर पर करने के आदी हो चुके हैं ऐसे में मेरा सुझाव है कि कोरोना टीकाकरण का अभियान भले ही अंदर से खोखला है व्यवस्थाएं नहीं की गई है लेकिन भाजपा के लोगों को सबसे पहले लाइन में लगकर वैक्सीन लगवानी चाहिए। उन्होंने कहा कि अभी भाजपा के लोग सबसे पहले वैक्सीन लगवाएं अगले साल समाजवादी पार्टी की सरकार बनेगी तो सभी को मुफ्त में वैक्सीन लगवाई जाएगी। उन्होंने यह भी कहा कि टीकाकरण उतना महत्व नहीं रखता है। जितना सभी लोगों को मुफ्त टीका दिलाया जाना भाजपा की सरकार को बताना चाहिए कि प्रदेश के सभी नागरिकों को टीका मुफ्त में कब मिलेगा।

उन्होंने कहा कि मुझे पता चला है कि कई वैक्सीन सेंटर्स पर पर्याप्त फंड भी नहीं पहुंचा है। वैक्सीनेशन को लेकर हमें डॉक्टर और एक्सपर्ट पर भरोसा करना चाहिए न कि योगी आदित्यनाथ जी पर। सपा अध्यक्ष ने नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि वैक्सीनेशन के कार्यक्रम में सबसे पहले भाजपा के लोगों को आगे आना चाहिए था। ताली और थाली बजाने के बाद वैक्सीन भी लगवानी चाहिए थी। हम लोग अपनी सरकार आने पर फ्री में वैक्सीन लगवा लेंगे।

अखिलेश ने कहा कि हर धर्म में चढ़ावे की अलग-अलग परंपरा है। हमारे यहां वैदिक परंपरा में चंदा के बजाय दक्षिणा देने की प्रथा है। भारतीय जनता पार्टी राजनीतिक प्रोग्राम करना बंद करें। भारत का झंडा बदलने की साजिश हो रही है। हिंदू परंपरा में चंदा देने का कोई रिवाज नहीं है। मैं जिस भी मंदिर में जाता हूं वहां दक्षिणा जरूर देता हूं। तिरुपति बालाजी में तो मैंने अपने बालों का भी दान दिया है।

यह भी पढ़ें: Dent to BSP : बसपा को बड़ा झटका, मेरठ की मेयर सुनीता वर्मा पूर्व मंत्री पति के साथ समाजवादी पार्टी में शामिल

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.