सीएम योगी आदित्यनाथ का अफसरों को निर्देश- मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना की करें नियमित मॉनिटरिंग

सीएम योगी आदित्यनाथ का अफसरों को निर्देश दिया कि मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना की नियमित मॉनिटरिंग करी जाए।

सीएन योगी आदित्यनाथ ने निश्शुल्क कोचिंग की सुविधा देने के लिए शुरू की गई मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना को प्रभावी तरीके से संचालित करने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि मंडल स्तर पर स्थापित कोचिंग केंद्रों की व्यवस्थाओं और शिक्षण कार्य की नियमित मॉनिटरिंग की जाए।

Umesh TiwariFri, 26 Feb 2021 11:55 PM (IST)

लखनऊ [राज्य ब्यूरो]। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने युवाओं को प्रतियोगी परीक्षाओं की निश्शुल्क कोचिंग की सुविधा देने के लिए शुरू की गई मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना को प्रभावी तरीके से संचालित करने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि मंडल स्तर पर स्थापित कोचिंग केंद्रों की व्यवस्थाओं और शिक्षण कार्य की नियमित मॉनिटरिंग की जाए। योजना के प्रभावी संचालन के लिए फील्ड में तैनात अधिकारियों का मार्गदर्शन किया जाए। 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शुक्रवार को अपने सरकारी आवास पर विभिन्न विभागों के कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मिशन शक्ति अभियान से महिलाओं की सुरक्षा और आत्मसम्मान के प्रति सामाजिक जागरूकता बढ़ी है। उन्होंने मिशन शक्ति अभियान की विभिन्न गतिविधियों को इसी प्रकार अंतरविभागीय समन्वय से संचालित करने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मूल्य समर्थन योजना के तहत धान खरीद की समीक्षा करते हुए निर्देशित किया कि सभी किसानों की उपज के मूल्य का तत्काल भुगतान सुनिश्चित किया जाए। बैठक में अवगत कराया गया कि अब तक 94 प्रतिशत किसानों को भुगतान कर दिया गया है। शेष किसानों के भुगतान की कार्यवाही तेजी से की जा रही है। मुख्यमंत्री ने वरासत अभियान की प्रगति की जानकारी प्राप्त करते हुए अभियान को पूरी सक्रियता से संचालित करने के निर्देश दिए। बैठक में चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना, मुख्य सचिव आरके तिवारी सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

कोरोना से बचाव के लिए अतिरिक्त सतर्कता जरूरी : देश के कुछ राज्यों में कोरोना के मामले बढ़ने पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में अतिरिक्त सतर्कता बरतने का निर्देश दिया है। प्रदेश में बाहरी राज्यों से आ रहे लोगों की कांटैक्ट ट्रेसिंग करने के साथ उन्होंने जरूरत के मुताबिक उन्हें क्वारंटाइन करने की व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए कहा है। शुक्रवार को अपने सरकारी आवास पर अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा करते हुए उन्होंने कोविड-19 की फोकस टेस्टिंग पर जोर दिया।

रोजाना कम से कम सवा लाख कोविड टेस्ट करने का निर्देश : कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए ज्यादा से ज्यादा टेस्ट करने का निर्देश दिया। यह सुनिश्चित करने के लिए कहा कि प्रदेश में रोजना सवा लाख से कम टेस्ट न हों। मुख्यमंत्री ने जिलों में स्थापित इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर को पूरी सक्रियता से संचालित करने और कोरोना से बचाव के लिए लोगों को निरंतर जागरूक करने के लिए कहा। बैठक में चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश कुमार खन्ना, मुख्य सचिव आरके तिवारी व शासन के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.