अम्बेडकरनगर में सीएम योगी आदित्यनाथ बोले- केन्द्र व प्रदेश सरकार की सकारात्मक सोच हैं विकास कार्य

CM Yogi Adityanath in Ambedkarnagar सीएम योगी आदित्यनाथ ने अकबरपुर में आयोजित कार्यक्रम में कहा कि बीते साढ़े चार वर्ष में उत्तर प्रदेश का सारा विकास केन्द्र तथा प्रदेश सरकार की सकारात्मक सोच का परिणाम है। विकास की परियोजनाएं केंद्र और प्रदेश सरकार की स्पष्ट मंशा को दर्शाती हैं।

Dharmendra PandeySat, 23 Oct 2021 04:19 PM (IST)
अकबरपुर में आयोजित कार्यक्रम में सीएम योगी आदित्यनाथ

लखनऊ, जेएनएन। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 की तारीख घोषित होने से पहले प्रदेश के हर जिले की नब्ज टटोलने में लगे हैं। सुल्तानपुर के बाद शनिवार को बहुजन समाज पार्टी के गढ़ माने जाने वाले अम्बेडकरनगर में करोड़ों की विकास योजनाओं का लोकार्पण तथा शिलान्यास किया।

सीएम योगी आदित्यनाथ ने अकबरपुर में आयोजित कार्यक्रम में कहा कि बीते साढ़े चार वर्ष में उत्तर प्रदेश का सारा विकास केन्द्र तथा प्रदेश सरकार की सकारात्मक सोच का परिणाम है। प्रदेश में अब विकास की परियोजनाएं केंद्र और प्रदेश सरकार की स्पष्ट मंशा को दर्शाती हैं। सीएम योगी आदित्यनाथ ने अम्बेडकरनगर में 334.24 करोड़ रुपये की लागत की 99 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अकेले जनपद अम्बेडकरनगर में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 42 हजार से अधिक लोगों को ग्रामीण क्षेत्र में व 13 हजार से अधिक लाभार्थियों को शहरी क्षेत्र में एक-एक आवास उपलब्ध कराया गया है। इसके साथ ही 'स्वच्छ भारत मिशन' के अंतर्गत 2.55 लाख से अधिक परिवारों को एक-एक शौचालय भी निःशुल्क दिया गया है। हमारे लिए पूरा प्रदेश ही परिवार है, इसलिए जनपद अम्बेडकरनगर को ₹334 करोड़ की विकास परियोजनाओं को दीपावली से पहले आप सभी को उपहार स्वरूप प्रदान करने के लिए हम सभी यहां उपस्थित हुए हैं।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पहले की सरकारों में परिवार तक विकास योजनाएं सीमित थीं। अब जरूरतमंदों तक पहुंच रही हैं। अंबेडकरनगर ने मुख्यमंत्री दिया, लेकिन जिले का विकास नहीं हुआ। पहले बिजली कभी-कभी आती थी, अब 24 घंटे मिल रही है। गरीबों को आवास व मुफ्त गैस कनेक्शन मिला। हर तरफ बिना भेदभाव के विकास हो रहा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि पिछले साढ़े चार साल में रिकार्ड सात लाख लोगों को रोजगार से जोड़ा गया। 60 लाख लोगों को स्वरोजगार दिया गया। सभी तबके के लिए कोई न कोई योजना चलाई जा रही है। कोरोना महामारी के दौरान केंद्र व प्रदेश सरकार लोगों के साथ खड़ी रही। सौ करोड़ लोगों को कोरोना की वैक्सीन लगाई जा चुकी है, जो देश के लिए बड़ी उपलब्धि है। मुख्यमंत्री ने सपा व कांग्रेस पर कोरोना को लेकर जमकर निशाना साधा। कहा कि संकट के समय में वे लोगों को भड़काने में लगे थे। जनता की सेवा करने के बजाय स्वयं क्वारंटाइन हो गए थे। प्रशासनिक तंत्र और भाजपा कार्यकर्ता ही लोगों की मदद को उनके साथ खड़े थे। कानून व्यवस्था के मुद्दे पर अपनी सरकार का बचाव करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि सन 2017 से पहले प्रदेश में गुंडों का राज था। हर तरफ अराजकता का बोलबाला था। त्योहार आते ही कर्फ्यू लग जाते थे। होली हो, दीपावली हो, कृष्ण जन्माष्टमी हो, दंगे हो जाते थे। लोगों को धार्मिक उत्सव मनाने की भी आजादी नहीं थी। कांवड़ यात्रा में डीजे बनाने की अनुमति नहीं थी।

भाजपा सरकार ने सभी धर्मों के लोगों को अपना उत्सव मनाने की व्यवस्था सुनिश्चित की। सपा सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि नौकरी का फार्म निकलते ही सौदागर झोला लेकर बैठ जाते थे। सेटिंग वालों को नौकरी मिलती थी, जो मेहनत करता था वह देखता रह जाता था। भारी धांधली के चलते कोर्ट नियुक्ति प्रक्रिया पर रोक लगा देती थी, लेकिन अब ऐसा नहीं है। इससे पहले प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि योगी सरकार में गुंडे जेल में हैं या उन्हें दफना दिया गया। अब महिलाएं बेहिचक आधी रात में भी सड़कों पर निकलती हैं, लेकिन उनकी तरफ आंख उठाने की किसी की हिम्मत नहीं होती। उन्होंने सपा, बसपा और आम आदमी पार्टी पर देश का सौदा करने का आरोप लगाया। प्रभारी मंत्री ब्रजेश पाठक ने भी सरकार की उपलब्धियों का गुणगान किया।

जिला मुख्यालय पर कलेक्ट्रेट के पास हवाई पट्टी पर उतरने के बाद उन्होंने बहुजन समाज पार्टी का गढ़ माने जाने वाले इस जिले में करोड़ों की जनकल्याणकारी एवं विकास की कई परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री 334.24 करोड़ की लागत वाली 99 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। पांचों विधानसभा क्षेत्रों में लोक निर्माण विभाग, ग्रामीण अभियंत्रण विभाग एवं नगरपालिका समेत कार्यदायी संस्थाओं के नवनिर्मित और प्रस्तावित कार्यों का शिलान्यास व लोकार्पण किया।

राजकीय इंजीनियरिंग कालेज में 100 बेड की क्षमता के हास्टल, शहरी बेघरों के लिए 100 घर के आश्रय स्थल, माडल स्कूल जाफरगंज, ईंधना, रत्ना, पहितीपुर के अलावा पाइप पेजयल परियोजना हीड़ी पकडिय़ा, सेमउरखानपुर, राजकीय पशु चिकित्सालय मखदूम सराय और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ऐनवां, रामनगर, नवीन राजकीय हाईस्कूल आमादरवेशपुर, राजकीय आईटीआई जहांगीरगंज एवं सड़क और नालों के निर्माण की 30 परियोजनाओं का लोकार्पण किया। नवगठित नगर पंचायतों में जहांगीरगंज और राजेसुल्तानपुर के भवनों समेत बरातघर, नाला, सड़क आदि 69 परियोजनाओं का शिलान्यास किया। मुख्यमंत्री के आगमन के दौरान यहां जिले के प्रभारी मंत्री ब्रजेश पाठक, प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह, क्षेत्रीय अध्यक्ष शेषनारायण सिंह, जिला प्रभारी विजय प्रताप सिंह व जिले के पदाधिकारी और कार्यकर्ता मौजूद थे।  

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.
You have used all of your free pageviews.
Please subscribe to access more content.
Dismiss
Please register to access this content.
To continue viewing the content you love, please sign in or create a new account
Dismiss
You must subscribe to access this content.
To continue viewing the content you love, please choose one of our subscriptions today.