COVID-19: नगर निगम लखनऊ की जिम्मेदारी-शहर में सफाई, सैनिटाइजेशन और कोविड शवों का दाह संस्कार

दैनिक जागरण के कार्यक्रम प्रश्न पहर में नगर आयुक्त अजय कुमार द्विवेदी ने दिए लोगों के सवालों के जवाब।

जागरण कार्यालय में आयोजित प्रश्न पहर कार्यक्रम में पहुंचे नगर आयुक्त अजय कुमार द्विवेदी ने लोगों के सवालों का दिया जवाब। नगर निगम ने सैनिटाइजेशन और साफ-सफाई के लिए कंट्रोल रूम बना है वहीं लोग नगर निगम के कंट्रोल रूम में फोन कर इलाज और एंबुलेंस भी मांग रहे हैं।

Rafiya NazWed, 21 Apr 2021 12:30 PM (IST)

लखनऊ, जेएनएन। कोरोना काल में भी सफाई न होने की शिकायत है तो सैनिटाइजेशन न होने से भी शहर के कई इलाकों के निवासी परेशान हैं। मंगलवार को दैनिक जागरण कार्यालय आए नगर आयुक्त अजय कुमार द्विवेदी के सामने तमाम ऐसे फोन आए, जिन्होंने कोरोना संक्रमित मरीज मिलने के बावजूद सैनिटाइजेशन न होने की शिकायत की। तमाम लोगों ने इलाज न मिलने, एंबुलेंस न मिलने और कोरोना संक्रमण की जांच न होने की भी शिकायत की, लेकिन नगर आयुक्त ने उन्हें बताया कि नगर निगम का काम सफाई, संक्रमित इलाके में सैनिटाइजेशन कराना और कोविड शवों का अंतिम संस्कार कराना ही है, जबकि इलाज से लेकर एंबुलेंस और कोरोना संक्रमण की जांच के लिए अलग-अलग कंट्रोल रूम बनाए गए हैं। कोरोना संक्रमण की जांच, इलाज समेत, इलाज से जुड़े अन्य कार्य मुख्य चिकित्साधिकारी के पास हैं। उनका कहना था कि नगर निगम ने सैनिटाइजेशन और साफ-सफाई के लिए कंट्रोल रूम बना रखा है, लेकिन परेशान हाल लोग नगर निगम के कंट्रोल रूम में फोन कर इलाज और एंबुलेंस भी मांग रहे हैं। इससे उनकी समस्या का हल नहीं हो पा रहा है।

सवाल : क्षेत्र में कई लोग कोरोना संक्रमित हो गए हैं, लेकिन अभी तक उनके घर और आसपास सैनिटाइजेशन नहीं हो पाया है। कई बार नगर निगम में शिकायत भी की गई है।

-अनुराग सिंह राठौर, डी 2/525 सेक्टर एफ, जानकीपुरम

जवाब : परेशान न हों। दो दिन के भीतर आपकी समस्या का समाधान हो जाएगा।

सवाल-सैनिटाइजनेशन न होने से हर कोई परेशान है। कोरोना के कई मरीज निकल चुके हैं। पार्षद की तरफ से कोई सुनवाई नहीं हो रही है। नगर निगम के सुपरवाइजर रामजी भी शिकायत नहीं सुन रहे हैं।

-कोपल मेहरोत्रा, जनरैलगंज शंकर जी के मंदिर के पास, ठाकुरगंज

जवाब : सभी पार्षदों को दो-दो मशीनें सैनिटाइजेशन के लिए दी गई हैं। आपके यहां काम हो जाएगा।

सवाल : नालियों की सफाई न होने से सिल्ट जमी है। दुर्गंध आ रही है। सड़कों पर भी सफाई नहीं हो रही है। सैनिटाइजेशन भी नहीं हो रहा है। अवैध डेयरी चलने से नालियों में गोबर भरा है, जिससे मच्छर बहुत हो गए हैं।

-विनीत त्रिपाठी, बड़ा रोड, ठाकुरगंज

जवाब : संबंधित अधिकारी को निर्देश देकर सफाई और सैनिटाइजेशन कराया जाएगा।

सवाल : नगर निगम ने अपने कर्मचारियों और पार्षदों के इलाज का क्या इंतजाम किया है। कर्मचारी और पार्षद कोरोना रोकथाम में लगे हैं। खतरा है और घर वाले भी चिंतित हैं।

-अनुराग मिश्र, नामित पार्षद, चौक निवासी

जवाब : नगर निगम ने अपर नगर आयुक्त राकेश यादव और मुख्य कर निर्धारण अधिकारी अशोक सिंह को पार्षदों की शिकायतों को सुनने के लिए लगाया है। इलाज कराने का जिम्मा मुख्य तौर पर मुख्य चिकित्साधिकारी का है। जिला प्रशासन से भी बात करेंगे, जिससे कोरोना की रोकथाम में लगे पार्षदों और कर्मचारियों के लिए इलाज का प्रबंध हो सके।

सवाल : सैनिटाइजेशन नहीं हो रहा है। पार्षद से भी शिकायत की थी, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है।

-दर्शन लाल, कृष्णानगर

जवाब : आपकी शिकायत नोट कर ली गई है। सैनिटाइजेशन करा दिया जाएगा।

सवाल : आइटी के पास मेट्रो स्टेशन वाली सड़क पर दो साल से रोड लाइट नहीं है। यहां से लाइट को हटाया गया था, लेकिन फिर नहीं लगाया गया। रात में असुरक्षा रहती है।

-जयशंकर मिश्र, खदरा

जवाब : इस संबंध में मार्ग प्रकाश विभाग के अधिकारी से रिपोर्ट लेकर आगे की कार्यवाही की जाएगी।

सवाल : मुहल्ले में सफाई नहीं हो रही है। झाड़ू लगाने वाले भी नहीं आ रहे हैं। कूड़ा लेेने वाली गाड़ी भी कई दिनों बाद आई है।

-गोपाल शंकर पांडेय, मजार रोड मिनी स्टेशन के पास, विकासनगर

जवाब : सफाई के लिए कह दिया जाएगा। कर्मचारियों के बीमार होने और उनके अपने घर असोम जाने से थोड़ी परेशानी थी। कुछ दिन में सुधार दिखेगा।

सवाल : कूड़ा प्लांट के पीछे बहुत कचरा एकत्र है। कूड़ा लेने वाली गाडिय़ां भी नहीं आ रही हैं। पूरे गोमतीनगर विस्तार में जगह-जगह कूड़ा एकत्र है।

-उमाशंकर दुबे, गोमतीनगर विस्तार

जवाब : इसकी जांच करा ली जाएगी। सुधार कराया जाएगा।

सवाल : कालोनी में दो घरों के निवासी कोरोना संक्रमित हो गए हैं, लेकिन अभी तक सैनिटाइजेशन नहीं हुआ है। शिकायत भी की। इसके बावजूद कोई नहीं आया।

-प्रियंका अस्थाना, बी/2406 इंदिरानगर

जवाब : सैनिटाइजेशन के लिए संबंधित अधिकारी को निर्देश दे दिया गया है।

सवाल : इंदिरानगर में सब्जी वाले मास्क नहीं लगा रहे हैं। इससे संक्रमण फैल सकता है। सैनिटाइजेशन और ïफागिंग नहीं हो रही है।

-सुशील कुमार बच्चा, शिवाजीपुरम, इंदिरानगर

जवाब : नगर निगम की टीम लगाकर जांच कराई जाएगी और जुर्माना लगाया जाएगा।

सवाल : नाला चोक है और गंदा पानी सड़कों पर भरा है। आना-जाना मुश्किल हो गया है। कोरोना संक्रमण फैला है और हर कोई डरा हुआ है।

-रऊफ, विलास वाली मस्जिद के पास, बुद्धेश्वर चौराहा

जवाब : नाला सफाई अभियान चलने वाला है। आपके तरफ के नाले की सफाई करा दी जाएगी।

सवाल : खुले में कूड़ा पड़ रहा है। जब दो-तीन दिन तक नहीं उठाया जाता तो लोग उसमें आग लगा देते हैं। इससे वायु प्रदूषण बढ़ रहा है।

-सौम्या गुप्ता, अलीगंज

जवाब : इसकी जांच कराकर सुधार कराया जाएगा

सवाल : कोरोना का टीका लगाने के लिए हर मुहल्ले में शिविर लगाया जाना चाहिए, जैसे दिल्ली में हो रहा है।

-रेनू श्रीवास्तव, सेक्टर जे, अलीगंज

जवाब : शिविर कई जगह लगाए गए थे। प्रयास करेंगे कि और भी शिविर लगाए जाएं।

सवाल : मुहल्ले में सफाई नहीं हो रही है। चारों तरफ गंदगी है। नालियों में सिल्ट भरी है। सफाई निरीक्षक नईम से शिकायत की गई, लेकिन स्थिति नहीं सुधरी।

-विकास, उमराव धर्मशाला के पास, डालीगंज

जवाब : जल्द ही इस समस्या से निजात मिलेगी। सफाई निरीक्षक से इस संबंध में पूछा जाएगा कि क्यों नहीं हो रही सफाई।

सवाल : ऐसा इंतजाम किया जाए, जिससे एक विद्युत शवदाह मशीन में नॉन कोविड शवों का दाह संस्कार हो सके।

-जीके सेठ, पेपर मिल कॉलोनी

जवाब : अभी कोविड शवों के लिए विद्युत शवदाह गृह को आरक्षित रखा गया है। यहां लकड़ी से भी दाह संस्कार हो रहा है।

सवाल : महात्मा गांधी वार्ड के कई इलाकों में रोड लाइटें नहीं जल रही हैं। चारों ओर अंधेरा रहता है।

-अमित चौधरी, पार्षद, महात्मा गांधी वार्ड

जवाब : इस संबंध में मार्ग प्रकाश विभाग से कहकर व्यवस्था दुरुस्त कराई जाएगी।

सवाल : सफाई नहीं हो रही है। नालियां गंदगी से भरी हैं। शिकायत पर भी कुछ नहीं हो रहा है। सैनिटाइजेनशन भी नहीं हो रहा है।

-केएन मासीवाल, 6/16, सेक्टर एल, अलीगंज

जवाब : सफाई के लिए कह दिया जाएगा। जल्द ही सैनिटाइजेनशन की भी व्यवस्था की जाएगी।

सवाल : जलभराव से आना-जाना मुश्किल हो गया है। नाला चोक है और लंबे समय से उसकी सफाई नहीं हुई है।

-प्रदीप कश्यप, बादलखेड़ा, बुद्धेश्वर चौराहा

जवाब : नाले की सफाई अभियान जल्द चालू होने जा रहा है और उसकी भी सफाई करा दी जाएगी।

सवाल : सफाईकर्मी बीस दिन से कूड़ा नहीं उठा रहे हैं। सुपरवाइजर रिटायर हो गए हैं। कोई सुनवाई नहीं हो रही है।

-मोहम्मद वसीम, डालीगंज

जवाब : इसकी जांच कराकर सफाई कराई जाएगी

सवाल-गली में कई परिवारों के लोग कोरोना संक्रमित हो गए हैं। नगर निगम के कर्मी घरों पर यह पर्ची तो लगा गए हैं कि इस घर में कोरोना संक्रमित हैं, लेकिन कई दिन हो गए हैं। अभी तक सैनिटाइजेशन नहीं हुआ है।

-अंकुश श्रीवास्तव, ब्राइट स्टार कान्वेंट स्कूल के सामने सनवाल वाली गली, जयप्रकाश नगर, आलमबाग

जवाब : संबंधित अधिकारी को सैनिटाइजेशन कराने को कहा जाएगा।

सवाल : मुहल्ले में अभी तक सैनिटाइजेशन नहीं हुआ है, जबकि कई लोग कोरोना संक्रमित हैं।

-पंकज पांडेय, रामनगर, बालागंज

जवाब : संबंधित अधिकारी को सैनिटाइजेशन कराने को कहा जाएगा।

सवाल : ब्रह्मनगर, योगी नगर में कूड़ा उठाने नहीं आ रहा है। सैनिटाइजेशन भी नहीं हो रहा है। पार्षद भी नहीं सुन रहे हैं।

-पीतांबर भट्ट, अध्यक्ष, लखनऊ जनकल्याण समिति

जवाब : संबंधित अधिकारी को सैनिटाइजेशन कराने के लिए कहा जाएगा।

सवाल : कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए वार्ड निगरानी समिति को किस तरह के अधिकार हैं?

-ज्ञानेश पांडेय सेक्टर-एच आशियाना

जवाब : वार्ड निगरानी समिति वार्ड में कोरोना से जुड़े मामलों की जानकारी देती है और बिना मास्क लगाए लोगों को चिह्नित कर कार्रवाई करती है।

सवाल : अमीनाबाद मेडिसिन मार्केट में सैनिटाइजेशन नहीं हो रहा है। यहां दुकानदारों ने दो दिन दुकानें बंद की थीं, लेकिन फिर भी सैनिटाइजेशन नहीं हो पाया।

-सुभाष चंद्र शर्मा, मेडिसिन मार्केट, अमीनाबाद

जवाब : आज ही सैनिटाइजेशन करा दिया जाएगा।

सवाल : कालोनी में सैनिटाइजेशन नहीं हुआ है। शिकायत के बावजूद कोई सुनवाई नहीं हो रही है।

-आशा शर्मा, सेक्टर सी, अलीगंज

जवाब : संबंधित अधिकारी को सैनिटाइजेशन कराने को कहा जाएगा

सवाल : गंदगी से मच्छर बढ़ रहे हैं। सैनिटाइजेशन भी नहीं हो रहा है। पार्षद सुनते नहीं हैं।

-अंजू अग्रवाल, केशवनगर

जवाब : संबंधित अधिकारी को सैनिटाइजेशन कराने को कहा जाएगा

कब, किसे कहां करें फोन

नगर निगम कंट्रोल रूम

सफाई, सैनिटाइजेशन और कोविड शवों के दाह संस्कार के लिए

6389300137 6389300138 6389300139 879992005

इंट्रीग्रेटेड कमांड कंट्रोल सेंटर

कोविड इलाज, भर्ती कराने, एंबुलेंस उपलब्ध

0522-4523000 0522-2610145

 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.