Corona Vaccine: केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने कोरोना वैक्सीन को संजीवनी और पीएम मोदी को हनुमान बताया

केंद्र सरकार में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे

Corona Vaccine लखनऊ में केंद्रीय मंत्री चौबे ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी ने सोमवार को संजीवनी के रुप में कोरोना वैक्सीन लगवाकर लोगों को भरोसा दिलाया है और उनका यह कदम विपक्ष के मुंह पर कड़ा तमाचा है।

Dharmendra PandeyMon, 01 Mar 2021 03:34 PM (IST)

लखनऊ, जेएनएन। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस संक्रमण के खिलाफ बड़ी लड़ाई लड़ने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को केंद्र सरकार में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने रामायण काल के महानायक हनुमान की संज्ञा दी है। इतना ही नहीं लखनऊ दौरे पर आए चौबे ने कोरोना वैक्सीन को संजीवनी बताया है। 

लखनऊ में केंद्रीय मंत्री चौबे ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी ने सोमवार को संजीवनी के रुप में कोरोना वैक्सीन लगवाकर लोगों को भरोसा दिलाया है और उनका यह कदम विपक्ष के मुंह पर कड़ा तमाचा है। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्यमंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने कोरोना टीकाकरण को लेकर तरह-तरह के सवाल व अफवाह फैलाने पर विपक्षी दलों पर तीखा हमला बोला। उन्होंने कहा कि विपक्ष तो बार-बार कह रहा था कि भारत में बनी वैक्सीन असरदार नहीं है और आखिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कब टीका लगवाएंगे। पीएम मोदी महामारी को भगाने के लिए ठीक उसी प्रकार से स्वदेशी वैक्सीन लेकर आए जिस तरह हनुमान जी संजीवनी बूटी लेकर आए थे। यही नहीं नरेंद्र मोदी ने अपनी बारी आने पर एक वरिष्ठ नागरिक होने के नाते पूरी सहजता व शालीनता के साथ वैक्सीन लगवाई। यह विपक्ष के मुंह पर करारा तमाचा है।

कोविड मैनेजमेंट पर सीएम योगी आदित्यनाथ को सराहा: केंद्रीय मंत्री ने उत्तर प्रदेश में कोविड-19 के बेहतर मैनेजमेंट के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की काफी सराहना की। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने काफी अच्छा काम किया। सर्वाधिक जनसंख्या वाले राज्य में कोरोना सिर नहीं उठा पाया। अपनी टीम को भी दौड़ाया और खुद भी दौड़े। इसी का परिणाम है कि कोरोना से बचाव के लिए सर्वाधिक वैक्सीन अब तक यूपी में ही लगाई गई है। योगी आदित्यनाथ ने जहां कम वहां हम की नीति को मजबूती से लागू करते हुए आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना का लाभ जिन्हेंं नहीं दिया जा सकता, उनके लिए मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना शुरू की है। महाराष्ट्र, केरल व मध्य प्रदेश सहित पांच राज्यों में दोबारा कोरोना संक्रमण बढऩे के सवाल पर उन्होंने कहा कि केंद्र की पूरी नजर इस पर है। उन्होंने कहा कि देश में सोमवार से 27 करोड़ बजुर्गों व 45 वर्ष से अधिक गंभीर रोगियों को टीका लगाने की शुरूआत की गई है। ऐसे गंभीर रोगी जिन्हेंं चलने-फिरने में दिक्कत है, उनको घर से टीकाकरण केंद्र तक लाने व घर वापस छोडऩे के लिए निश्शुल्क एंबुलेंस की सुविधा दी जाएगी। वहीं छूटे हुए स्वास्थ्य कॢमयों व फ्रंटलाइन वर्करों को वैक्सीन लगवाने का पूरा मौका दिया जाएगा। अभी उनका टीकाकरण बंद नहीं होगा। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि आजादी के बाद देश में पहली बार हेल्थ बजट 137 फीसद बढ़ाया गया है। प्रधानमंत्री आत्मनिर्भर स्वास्थ भारत योजना के तहत 65 हजार करोड़ खर्च कर देश के 700 जिलों में क्रिटिकल हेल्थ केयर सेंटर बनाए जाएंगे। जिलों में कोरोना जैसे खतरनाक वायरस की जांच के लिए लैब भी बनेंगी।

लखनऊ में उन्होंने यूपी में हेल्थ सेक्टर में हो रहे काम की जानकारी लेने के लिए केजीएमयू के कुलपति लेफ्टिनेंट जनरल (सेवानिवृत्त) डॉ. विपन पुरी व संजय गांधी पीजीआइ के निदेशक प्रो. आरके धीमन सहित कई अधिकारियों के साथ बैठक की।

केजीएमयू में जल्द बनाएं सेंटर ऑफ एक्सीलेंस इन मेंटल हेल्थ: केंद्रीय मंत्री ने केजीएमयू में सेंटर ऑफ एक्सीलेंस इन मेंटल हेल्थ के लिए वर्ष 2016 में केंद्र सरकार की भेजी गई धनराशि के व्यय की जानकारी भी ली। इसके साथ प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा आलोक कुमार को निर्देश दिया कि पांच करोड़ की इस योजना के लिए केंद्र सरकार 1.7 करोड़ रुपये दे चुकी है। इस सेंटर को जल्द स्थापित कराएं।

पश्चिम बंगाल में ममत्वहीन ममता का होगा सफाया: बिहार के बक्सर से लोकसभा सदस्य चौबे पश्चिम बंगाल के दौरे से वापस लौटे हैं। केंद्रीय मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने कहा कि वहां पर इस बार भाजपा अपनी सरकार बनाएगी। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली टीएमसी की हार तय है। मंत्री बोले मैने लिट्टी-चोखा पर दस कार्यक्रम किए। वहां जनता भाजपा के पक्ष में है। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.