बसपा मुखिया मायावती का भाजपा पर बड़ा आरोप, बोलीं-अल्पसंख्यकों के खिलाफ दर्ज किए जा रहे हैं फर्जी केस

प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने कहा कि उत्तर प्रदेश में मुसलमानों को फर्जी केस में फंसाया जा रहा है। भाजपा तो मुसलमानों के साथ सौतेला व्यवहार करती है। प्रदेश का मुसलमान भाजपा सरकार से काफी दुखी भी हैं। उन्होंने कहा अल्पसंख्यक समाज पर फर्जी केस लिखे जा रहे है।

Dharmendra PandeyPublish:Tue, 30 Nov 2021 12:13 PM (IST) Updated:Tue, 30 Nov 2021 12:20 PM (IST)
बसपा मुखिया मायावती का भाजपा पर बड़ा आरोप, बोलीं-अल्पसंख्यकों के खिलाफ दर्ज किए जा रहे हैं फर्जी केस
बसपा मुखिया मायावती का भाजपा पर बड़ा आरोप, बोलीं-अल्पसंख्यकों के खिलाफ दर्ज किए जा रहे हैं फर्जी केस

लखनऊ, जेएनएन। बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी के साथ ही कांग्रेस पर गंभीर आरोप जड़ा है। मायावती ने लखनऊ में पार्टी के कार्यालय में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर अपनी पार्टी की समीक्षा के बाद मीडिया ब्रीफिंग की।

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने कहा कि उत्तर प्रदेश में मुसलमानों को फर्जी केस में फंसाया जा रहा है। भाजपा तो मुसलमानों के साथ सौतेला व्यवहार करती है। प्रदेश का मुसलमान भाजपा सरकार से काफी दुखी भी हैं। उन्होंने कहा कि अल्पसंख्यक समाज पर फर्जी केस लिखे जा रहे है। अब तो नए-नए नियम बनाकर इनको परेशान किया जा रहा है। बसपा मुखिया मायावती ने कहा कि प्रदेश के लोगों के साथ भाजपा का सौतेला रवैया साफ नजर आता है। प्रदेश में बसपा की सरकार बनने के बाद हम अपनी सरकार में सभी का ध्यान रखेंगे। हमारी सरकार के कार्यकाल में मुस्लिम के साथ जाट के सभी हित व कल्याण का ध्यान रखा जाएगा। केन्द्र सरकार जातिगण मतगणना नहीं करा रही है।

मायावती ने इस दौरान कांग्रेस को भी निशाने पर रखा। मायावती ने कहा कि केन्द्र में शासन के दौरान कांग्रेस सरकार ने अपने समय में आरक्षण लागू नहीं किया था। आरक्षण को लेकर मायावती ने कांग्रेस पर वार किया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने मंडल कमीशन की रिपोर्ट लागू नहीं की थी। देश में एससी व एसटी को अभी जो भी सुविधाएं मिलीं हैं वो सब बाबा साहेब की देन हैं।

मायावती ने कहा कि उत्तर प्रदेश में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर आज चुनावी तैयारियों की समीक्षा करूंगी। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी के नेता तथा कार्यकर्ता जमीनी स्तर पर काम कर रहे हैं। हमने बीते दिनों में सुरक्षित विधानसभा सीटों के लिए बैठक की थी। हमने आज ओबीसी समाज के पदाधिकारियों की बैठक बुलाई है। इन सभी को सुरक्षित सीटों पर अधिक से अधिक लोगों को बसपा से जोडऩे की जिम्मेदारी दी गई है।  

लखनऊ में बसपा कार्यालय में आज ओबीसी, अल्पसंख्यक समाज के मुस्लिम और जाट समाज के मुख्य और मंडल सेक्टर स्तर के वरिष्ठ पदाधिकारियों की बैठक बुलाई गई। जिनको प्रदेश की सुरक्षित विधानसभा सीटों पर अपने-अपने समाज के लोगों को बसपा में जोडऩे की जिम्मेदारी सौंपी गई है।