श्रावस्ती में बोलेरो ने बाइक को मारी टक्कर, ट्रामा सेंटर लाते समय बच्ची की मौत-पिता और बेटी की हालत गंभीर

श्रावस्ती में गुलरा चौराहे के पास तेज रफ्तार बोलेरो ने बाइक को टक्कर मार दी। बाइक पर सवार दो बेटियों समेत पिता गंभीर रूप से घायल हो गए। सभी को जिला अस्पताल से ट्रामा सेंटर लखनऊ के लिए रेफर किया गया है। रास्ते में एक बेटी की मौत हो गई।

Vikas MishraSun, 20 Jun 2021 08:00 PM (IST)
श्रावस्ती में गुलरा चौराहे के पास तेज रफ्तार बोलेरो की टक्कर से एक बच्ची की मौत हो गई।

श्रावस्ती, जेएनएन। भिनगा-सिरसिया मार्ग पर गुलरा चौराहे के पास तेज रफ्तार बोलेरो वाहन ने अनियंत्रित होकर बाइक को टक्कर मार दी। बाइक पर सवार दो बेटियों समेत पिता गंभीर रूप से घायल हो गए। इलाज के लिए जिला अस्पताल से ट्रामा सेंटर लखनऊ के लिए रेफर किया गया है। लखनऊ ले जाते समय एक बेटी की मौत हो गई। सिरसिया बाजार निवासी बृजेंद्र कुमार सोनी रविवार को अपनी पुत्री वैशाली व वैष्णवी के साथ भिनगा जा रहे थे। इसी दौरान गुलरा चौराहे के पास भिनगा से सिरसिया की आ रही तेज रफ्तार बोलेरो वाहन ने अनियंत्रित हाेकर बाइक को टक्कर मार दी।

बाइक चला रहे पिता बृजेंद्र व दो बेटियाें के साथ गंभीर रूप से घायल हो गईं। वैशाली का दाहिना पैर कट कर अलग हो गया। आसपास मौजूद लोगों की सूचना पर एंबुलेंस वाहन से घायलों को संयुक्त जिला चिकित्सालय भिनगा पहुंचाया गया। यहां प्राथमिक उपचार के बाद हालत नाजुक देख चिकित्सकों ने ट्रामा सेंटर लखनऊ के लिए रेफर कर दिया। लखनऊ ले जाते समय वैशाली की रास्ते में ही मौत हो गई।

संदिग्ध परिस्थितियोें में वृद्ध की मौत: पटना खरगौरा गांव निवासी सकटूराम सूप बनाकर इसकी बिक्री करते थे। इससे होने वाली आमदनी से परिवार का भरण-पोषण करते थे। रविवार को वे अमवा गांव में सूप बेचकर वापस लौटे। इटवरिया चौराहे पर साइकिल खड़ी कर एक दुकान के पास बैठे। इसी दौरान गश खाकर जमीन पर गिर गए। इससे उनकी मौके पर ही मौत हो गई।

आम बीनते समय पैर फिसलने से पोखरे में डूबीं तीन बहनें, एक की मौत: ग्राम पंचायत जरकुसहा के भिनुहनी गांव की तीन बहने खेत में लगी धान की नर्सरी की रखवाली करने गई थी। इसी दौरान पोखरे के पास लगे आम के पेड़ के नीचे आम बीनने लगी। पोखरे की ओर गिरे आम को उठाने दौड़ी एक-एक कर तीनों बहनें पांव फिसलने से पानी से भरे पोखरे में गिर गईं। इनमें से छह वर्षीय बालिका की डूब कर मौत हो गई। परिवार के लोगों ने शव का अंतिम संस्कार कर दिया। भिनुहनी गांव निवासी बरसाती ने गांव के पूरब खेत में धान की नर्सरी लगा रखी है।

बेसहारा मवेशियों से नर्सरी की सुरक्षा के लिए 10 वर्षीय बड़ी बेटी रीता अपनी दोनों छोटी बहनें सोहनी देवी व नेहा के साथ रखवाली करने गई थी। इसी दौरान पुरखीदास बाबा कुटी के पास पोखरे के निकट लगे आम के पेड़ के नीचे तीनों बहनें आम बीनने पहुंच गईं। हवा चलने के साथ पेड़ से पोखरे की ओर आम गिरा। रीता आम उठाने के लिए दौड़ी। इसके पीछे दोनों बहनें भी दौड़ पड़ी। इसी दौरान पैर फिसलने से तीनों बहनें पोखरे में गिर गईं और डूबने लगी। आसपास मौजूद लोगों ने शोर मचाया तो खेतों से अन्य ग्रामीण भी पोखरे की ओर दौड़े। ग्रामीणों ने कड़ी मशक्कत कर रीता व नेहा को सुरक्षित बाहर निकाल लिया। गहरे पानी में चले जाने से छह वर्षीय सोहनी की डूबकर मौत हो गई। 

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.