बहराइच में स्वतंत्रदेव स‍िंह बोले- जिन्ना का नाम लेकर हिंदू-मुस्लिम को लड़ाने की कोशिश कर रही सपा

भाजपा ने मटेरा के रेलवे मैदान से फूंका चुनावी बिगुल। प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा सरकार में बेटियां सुरक्षित हैं रात बारह बजे भी सफर करने में कोई डर नहीं लगता है। भाजपा में कानून का राज है। सपा शासन में गुंडे सरकार चलाते थे।

Anurag GuptaWed, 08 Dec 2021 05:58 PM (IST)
प्रदेश अध्यक्ष ने केंद्र व प्रदेश सरकार की उपलब्धियों का किया बखान।

बहराइच, जागरण संवाददाता। मटेरा के रेलवे स्टेशन मैदान में बुधवार को भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने विधानसभा चुनाव का बिगुल फूंका। उन्होंने केंद्र व प्रदेश सरकार की उपलब्धियों का बखान कर कार्यकर्ताओं में जोश भरा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का बहराइच से बेहद लगाव है। यही वजह है कि मेडिकल कालेज के साथ अन्य तमाम योजनाओं को यहां मूर्त रूप दिया गया। हाल ही में सीएम ने वर्चुअल माध्यम से 221 करोड़ रुपये लागत की परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास किया है। सपा मुखिया अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि वह जिन्ना का नाम लेकर हिंदू-मुस्लिम को लड़ाना चाहते हैं, जबकि मोदी-योगी के शासन में सभी वर्गों के लोग आपस में नहीं, बल्कि गरीबी से लड़ते हैं।

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा सरकार में बेटियां सुरक्षित हैं, रात बारह बजे भी सफर करने में कोई डर नहीं लगता है। भाजपा में कानून का राज है। सपा शासन में गुंडे सरकार चलाते थे। उन्होंने कहा कि हाथ के पंजे, हाथी व साइकिल पर बैठकर मां लक्ष्मी नहीं आती। मां लक्ष्मी सिर्फ कमल के फूल पर बैठकर आती हैं। प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि पहले सैफई के लोग लखनऊ में नौकरी में वसूली के लिए झोला लेकर घूमते थे, लेकिन अब किसी को वसूली का अधिकार नहीं है। पीएम मोदी व योगी ईमानदारी की मिसाल हैं।

इस मौके पर प्रदेश उपाध्यक्ष पदमसेन चौधरी, सांसद अक्षयवर लाल गोंड, विधायक सुभाष त्रिपाठी, सरोज सोनकर, अनुपमा जायसवाल, जिलाध्यक्ष श्यामकरन टेकड़ीवाल, पूर्व विधायक अरुणवीर सिंह, जिला प्रभारी नीरज सिंह, विधानसभा पालक मनीष गुप्त, दीपक सत्या, राजेश निगम, आलोक अग्रवाल, आनंद गोंड, करनवीर सिंह, डा. प्रज्ञा त्रिपाठी, विकास गोयल, रणविजय सिंह, मंजू गुप्ता, आयुष अग्रवाल, सुनील सिंह आदि मौजूद रहे।

अब नहीं बन पाएगा हेलीपैड-प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह को बुधवार को मटेरा में आना था। पुलिस लाइन में हेलीपैड पर उतरने के बाद उन्हें सड़क मार्ग से मटेरा जाना था। मंगलवार की रात एक नेता ने कार्यक्रम स्थल पर हेलीपैड बनवाने की मंशा जताई। लोक निर्माण विभाग के अभियंताओं ने समय का हवाला देकर दिक्कत जताई। इसके बाद दोपहर में उनका उड़न खटोला पुलिस लाइन में उतारने का निर्णय किया गया।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.