CM योगी आदित्यनाथ से मिलकर डॉ. संजय निषाद ने रखी मांगें, कहा- भाजपा बड़ा और निषाद पार्टी छोटा भाई

भारतीय जनता पार्टी की सहयोगी निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. संजय निषाद ने बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से उनके आवास पर मुलाकात कर कई मांगें रखीं। संजय निषाद ने कहा कि मुख्यमंत्री से उनकी सकारात्मक वार्ता हुई है। मांगों पर शीघ्र कार्रवाई का आश्वासन भी मिला है।

Umesh TiwariThu, 24 Jun 2021 12:56 AM (IST)
भाजपा के सहयोगी निषाद पार्टी के अध्यक्ष डॉ. संजय निषाद ने सीएम योगी आदित्यनाथ से मुलाकात कर कई मांगें रखीं।

लखनऊ [राज्य ब्यूरो]। भारतीय जनता पार्टी की सहयोगी निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. संजय निषाद ने बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से उनके आवास पर मुलाकात कर कई मांगें रखीं। जब दोनों की चर्चा हुई तो भगवान राम और भरत का जिक्र भी आया। संजय निषाद ने रामायण में निषादराज का जिक्र करके उनके द्वारा भगवान राम की मदद की बात कही। साथ ही कहा कि भारतीय जनता पार्टी बड़े भाई की जगह है और वे छोटे भाई हैं। इस पर सीएम योगी ने भी उन्हें भरत समान भाई बताया। संजय निषाद ने कहा कि मुख्यमंत्री से उनकी सकारात्मक वार्ता हुई है। मांगों पर शीघ्र कार्रवाई का आश्वासन भी मिला है।

इससे पहले निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. संजय निषाद ने बुधवार को वीवीआइपी गेस्ट हाउस में आयोजित पत्रकार वार्ता में भारतीय जनता पार्टी से आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए उप मुख्यमंत्री बनाने की मांग की। उन्होंने कहा कि यह मांग उनकी नहीं, बल्कि उनके समाज की है। अगर भाजपा ऐसा करती है तो इससे 2022 के चुनाव में फायदा मिलेगा और सरकार बनेगी। उन्होंने कहा कि भाजपा ने पहले केंद्र व प्रदेश सरकार में प्रतिनिधित्व देने का वादा किया था, आज हम उसी वादे की याद दिला रहे हैं।

डॉ. संजय निषाद ने कहा कि उनकी जाति को पिछड़ी जातियों से निकालकर अनुसूचित जाति में शामिल किया जाए। साथ ही मझवार नाम से जाति प्रमाणपत्र जारी किया जाए। डा.निषाद ने दावा किया कि यूपी की 160 से अधिक विधानसभा सीटों पर निषाद व उनकी अन्य उपजातियों का दबदबा है। 70 क्षेत्रों में निषाद समुदाय की आबादी 75 हजार से अधिक है। निषाद पार्टी 100 सीट जीतने का संकल्प लेकर बूथ स्तर पर काम कर रही है।

डा.निषाद ने कहा कि पिछली सरकारों में उनकी जाति के लोगों पर दर्ज मुकदमे वापस लिए जाएं। निषाद पार्टी ने लखनऊ में कार्यालय के लिए एक भवन भी दिए जाने की मांग की है। उन्होंने वीवीआइपी गेस्ट हाउस में भाजपा के नवनियुक्त उपाध्यक्ष एके शर्मा से मुलाकात की और उन्हें बधाई दी। उन्होंने उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य से भी उनके आवास जाकर मुलाकात की।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.