ललितपुर में अखिलेश यादव बोले- भाजपा सरकार ने उत्तर प्रदेश के लोगों को किया गुमराह

Akhilesh Yadav In Lalitpur अखिलेश यादव ने कहा आज देश तथा प्रदेश के किसान के सामने संकट है। किसान के खेत में पानी नहीं है दो फसल नहीं पैदा कर पा रहा है। समाजवादी पार्टी की सरकार बनेगी तो इंतजाम करेंगे कि कैसे किसान खेतों में दो फसलें पैदा करे।

Dharmendra PandeyPublish:Thu, 02 Dec 2021 02:25 PM (IST) Updated:Fri, 03 Dec 2021 09:02 AM (IST)
ललितपुर में अखिलेश यादव बोले- भाजपा सरकार ने उत्तर प्रदेश के लोगों को किया गुमराह
ललितपुर में अखिलेश यादव बोले- भाजपा सरकार ने उत्तर प्रदेश के लोगों को किया गुमराह

ललितपुर, जेएनएन। उत्तर प्रदेश में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव में छोटे-छोटे दलों के साथ गठबंधन करने वाले समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बुंदेलखंड के अपने दो दिनी दौरे पर गुरुवार को ललितपुर में जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उनके निशाने पर भाजपा के साथ ही साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी थे।

ललितपुर के गिन्नौटबाग में हेलिकाप्टर से पूर्व कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर के साथ पहुंचे अखिलेश यादव ने भारतीय जनता पार्टी के साथ ही उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ पर बड़ा गंभीर आरोप जड़ा। सदनशाह बाबा का दर्शन करने के बाद मंच संभालने वाले अखिलेश यादव ने भाजपा पर जनता को गुमराह करने का आरोप लगाया।

अखिलेश यादव ने कहा कि आज देश तथा प्रदेश के किसान के सामने संकट है। किसान के खेत में पानी नहीं है, दो फसल नहीं पैदा कर पा रहा है। समाजवादी पार्टी की सरकार बनेगी तो हम इंतजाम करेंगे कि कैसे किसान खेतों में दो फसलें पैदा करे। हमारी सरकार के कार्यकाल में किसी भी किसान को खाद के लिए लाइन में नहीं लगना पड़ेगा।

उन्होंने कह कि सत्ता में बैठे नेताओं ने वंशवाद की राजनीति के लिए हमेशा मुझे बदनाम किया है, लेकिन मैं आप सभी से बस इतना कहना चाहता हूं कि परिवार के हर सदस्य का दर्द एक परिवार का आदमी ही समझ सकता है। योगी अदित्यनाथ भले ही उत्तर प्रदेश के सीएम हों लेकिन सही मायने में वो 'योगी' नहीं हैं। योगी तो वो होता है जो दूसरों के दर्द को समझता है जबकि योगी आदित्यनाथ ऐसा करने में नाकाम रहता है। योगी आदित्यनाथ और भाजपा सरकार ने यूपी में लोगों से झूठे वादे किए हैं।

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि यहां पर आए लोगों में उत्साह दिखाई दे रहा है। इनके उत्साह से ही लखनऊ वालों का मौसम खराब होगा। उन्होंने कहा कि महोबा और ललितपुर में बहुत गरीबी है। लॉकडाउन में यहां के लोग लोग बहुत परेशान रहे। यह लोग घास की रोटी खाकर लोग जीवन जी रहे हैं। इसके बाद भी सरकार लोगों को गुमराह कर रही है। उन्होंने कहा कि यहां के गरीब लोगों की समाजवादी पार्टी ने मदद की है। इस सरकार ने सभी को बहुत दुख दिया है। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के दौरान मजदूर भाइयों को दूर से चलकर आना पड़ा। ऐसे में हमारी सरकार होती तो किसी को भी पैदल ना चलना पड़ता। हम तो बस लगाकर हम गरीब को घर पहुंचाते।