दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

COVID-19 की दूसरी लहर में गई यूपी पुलिस के 59 कर्मचारियों की जान, अब भी 4151 जवान संक्रमित

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर कानून-व्यवस्था के मोर्चे पर डटी खाकी के लिए भी बेहद खतरनाक साबित हो रही है।

Coronavirus Update यूपी में बीते डेढ़ माह में पुलिसकर्मियों में कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। सूबे में 4151 पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमित हैं। अब तक प्रदेश में लगभग 18078 पुलिसकर्मी इसकी चपेट में आ चुके हैं जिनमें 14 हजार से अधिक पुलिसकर्मी कोरोना को मात दे चुके हैं।

Umesh TiwariFri, 07 May 2021 07:00 AM (IST)

लखनऊ [राज्य ब्यूरो]। कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर कानून-व्यवस्था के मोर्चे पर डटी खाकी के लिए भी बेहद खतरनाक साबित हो रही है। पंचायत चुनाव, कंटेनमेंट जोन से लेकर फील्ड ड्यूटी में मुस्तैद उत्तर प्रदेश पुलिस के अधिकारियों से लेकर जवानों में संक्रमण की रफ्तार बीते एक माह में तेजी से बढ़ी है। कोरोना संक्रमण के चलते ही छह जिलों में प्रभारी एसपी की तैनाती तक करनी पड़ी। कोरोना की दूसरी लहर में अब 59 पुलिसकर्मी अपनी जान भी गंवा चुके हैं।

कोरोना संक्रमण ने बुधवार को एटा में एएसपी क्राइम के पद पर तैनात राहुल कुमार की जान ले ली थी। पंचायत चुनाव के चौथे चरण के बाद पुलिसवालों की कोरोना से मौत होने के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी भी दर्ज की गई है। एक सप्ताह के भीतर ही एएसपी राहुल कुमार समेत करीब 29 पुलिसकर्मियों ने कोरोना संक्रमण से जान गंवाई है। कोरोना से अब तक 140 पुलिसवालों की मौत हुई है।

18078 पुलिसकर्मी हो चुके संक्रमित : यूपी में बीते डेढ़ माह में पुलिसकर्मियों में कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। वर्तमान में सूबे में 4151 पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमित हैं। कोरोना संक्रमण के आने के बाद अब तक प्रदेश में लगभग 18078 पुलिसकर्मी इसकी चपेट में आ चुके हैं, जिनमें 14 हजार से अधिक पुलिसकर्मी कोरोना को मात दे चुके हैं। मार्च 2020 से मार्च 2021 के बीच कोरोना संक्रमण से सूबे में 81 पुलिसकर्मियों की जानें गई थीं, जबकि दूसरी लहर में इस बार अब तक 59 पुलिसकर्मी जान गंवा चुके हैं।

कोरोना संक्रमण व सुधार पर पूरी नजर : डीजीपी मुख्यालय स्तर से 26 अप्रैल 2020 से पुलिसकर्मियों में कोरोना संक्रमण व सुधार पर पूरी नजर रखी जा रही है। फरवरी 2021 में तीन पुलिसकर्मी ही कोरोना संक्रमित बचे थे, जबकि अगस्त 2020 में 2300 से अधिक पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमित थे। एडीजी कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार ने निर्देश दिया है कि चुनाव ड्यूटी से वापस लौटे जिन पुलिसकर्मियों को अपने स्वास्थ्य में परिवर्तन महसूस हो रहा है अथवा कोई आशंका है, वे आराम करें और तत्काल अपना कोरोना टेस्ट कराए।

कोरोना से जंग के लिए दिए 16 करोड़ रुपये : पुलिस महानिदेशक हितेश चंद्र अवस्थी का कहना है कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए पुलिस की सभी इकाइयों को 16 करोड़ रुपये दिए गए हैं। इस रकम से वाहनों व कार्यालय परिसरों का सैनीटाइजेशन कराने से लेकर कर्मियों के लिए मास्क, दस्ताने, सैनिटाइजर, फेस शील्ड व अन्य सुरक्षा उपकरणों के बंदोबस्त किए जा रहे हैं। सभी पुलिस लाइन व पीएसी वाहिनियों में कोविड केयर सेंटर भी स्थापित किए गए हैं। पुलिस अस्पतालों में भी कोविड के बेड व आक्सीजन सिलेंडर का बंदोबस्त कराया गया है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.