Lucknow Nagar Nigam: जोन आठ में ड्यूटी से गायब मिले 200 सफाई कर्मचारी, नगर आयुक्त ने दिए जांच के आदेश

Lucknow Nagar Nigam फाइलों में मौजूद 200 सफाई कर्मचारी नगर निगम जोन-आठ में सफाई भले ही नहीं करते थे लेकिन उनके पूरे वेतन का भुगतान हर माह किया जा रहा था। सफाई कर्मचारियों को सेटेलाइट फोन दिए जाने के बाद यह एक बड़ा घपला सामने आया है।

Vikas MishraSun, 12 Sep 2021 09:23 AM (IST)
इन 200 कर्मचारियों का पैसा जोनल स्तर पर सफाई देख रहे अधिकारी कर्मचारी हजम कर रहे हैं।

लखनऊ, जागरण संवाददाता। फाइलों में मौजूद 200 सफाई कर्मचारी नगर निगम जोन-आठ में सफाई भले ही नहीं करते थे लेकिन उनके पूरे वेतन का भुगतान हर माह किया जा रहा था। सफाई कर्मचारियों को सेटेलाइट फोन दिए जाने के बाद यह एक बड़ा घपला सामने आया है। नगर निगम के जोन-आठ में ठेकेदारी प्रथा से तैनात 200 कर्मचारी प्रतिदिन गायब मिल रहे हैं। इन 200 कर्मचारियों का पैसा जोनल स्तर पर सफाई देख रहे अधिकारी कर्मचारी हजम कर रहे हैं। नगर आयुक्त अजय कुमार द्विवेदी ने सफाई कर्मचारियों के गायब होने के मामले में जांच के आदेश दिए हैं। 

नगर आयुक्त का कहना है जोन-आठ में 750 सफाई कर्मचारियों को सेटेलाइट फोन दिए गए थे इस फोन से सफाई कर्मचारी अपनी हद पर पहुंचते ही उसकी उपस्थिति दर्ज हो जाएगी लेकिन 550 कर्मचारियों की उपस्थिति दर्ज हो पा रही है। 200 सफाई कर्मचारी गायब मिल रहे हैं। ऐसा कई दिनों से हो रहा है, इसलिए पूरे मामले की जांच के आदेश दिए गए हैं। मालूम हो कि नगर निगम में सफाई ठेकेदारों और अधिकारियों की मिलीभगत से शहर की सफाई व्यवस्था चौपट हो रही है। सफाई कर्मचारियों की तैनाती के नाम पर ठेकेदार कई करोड़ रुपये नगर निगम से ले रहे हैं। इस बार सफाई ठेकेदारों के लिए बजट 140 करोड़ रखा गया है, लेकिन हकीकत में यह बजट अधिकारियों की जेब गर्म कर रहा है। इसमें कुछ पार्षद भी शामिल हैं।

इस गड़बड़ी पर रोक लगाने के लिए नगर आयुक्त ने पहले जीपीएस वाली घड़ी मंगवाई थी, लेकिन पार्षदों के विरोध के चलते घड़ी सफाई कर्मचारी नहीं पहन सके। इस घड़ी से सफाई कर्मचारियों की लोकेशन पता चल जाती और वह अपने कार्य क्षेत्र में दिखाई देते लेकिन अब नगर आयुक्त ने सेटेलाइट फोन दिया तो इससे उनके कार्य क्षेत्र उनके वहां होने की जानकारी मिल जाती है। इसी आधार पर उन्हें भुगतान किया जाएगा। इससे नगर निगम में सफाई महकमे में चल रहे भ्रष्टाचार पर अंकुश लग सकेगा, लेकिन शुरुआती दौर में ही नगर निगम जोन-आठ में गड़बड़ी पाई गई है। नगर आयुक्त का कहना है सेटेलाइट फोन शहर के सभी सफाई कर्मचारियों को दिए जाएंगे। अभी ट्रायल के रूप मे जोन-आठ में यह व्यवस्था शुरू की गई है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.