जंगबहादुरगंज रेलवे स्टेशन के नए भवन व प्लेटफार्म का लोकार्पण

जंगबहादुरगंज रेलवे स्टेशन के नए भवन व प्लेटफार्म का लोकार्पण

मुख्य संरक्षा आयुक्त शैलेश कुमार पाठक ने जंगबहादुरगंज के नवनिर्मित रेलवे स्टेशन भवन व प्लेटफार्म का लोकार्पण किया।

JagranThu, 04 Mar 2021 10:05 PM (IST)

लखीमपुर : मुख्य संरक्षा आयुक्त शैलेश कुमार पाठक ने जंगबहादुरगंज के नवनिर्मित रेलवे स्टेशन भवन व प्लेटफार्म का लोकार्पण किया। सीआरएस ने निरीक्षण के बाद एसएसआई को भी अप्रूवल दिया। डीआरएम मुरादाबाद तरुण प्रकाश व सीएओ एके लोहाटी के साथ स्पेशल ट्रेन से स्टेशन पहुंचे। नए स्टेशन भवन व प्लेटफार्म के लिए पूजा की। सीआरएस एसके पाठक ने स्टेशन अधीक्षक अरसद अली से ट्रेन संचालन संबंधित जानकारी ली । उन्होंने टेलीकॉम, बैट्री, आईपीएस, एसएसई, इआई, एमटी, एसएम, एसएस रूम सहित अन्य भवनों, प्लेटफार्म फुट ओवरब्रिज, रेलवे ट्रैक, सिग्नल, पार्किंग व प्लेटफार्म पर उपलब्ध सुविधाओं आदि का गहनता से निरीक्षण किया । सीआरएस व डीआरएम ने सभी युनिट के सम्बंधित जिम्मेदार से जानकारी प्राप्त की। सवालों का समुचित जबाब न मिल पाने पर निर्माण कार्य से जुड़े अधिकारियों, इंजीनियर्स व स्टेशन अधीक्षक पर नाराजगी जताने के साथ ही जल्द सुधार के टिप्स व निर्देश भी दिए। ट्रेनों सुरक्षित संचालन को लेकर वह सतर्क दिखे। स्टेशन पर लगाए गए सिग्नल की दूरी, प्लेटफॉर्म व अन्य चीजों की बारीकी से पड़ताल की । स्टेशन पार्किंग में अधिकारियों ने पौधरोपण भी किया। निरीक्षण के संबंध में उन्होंने बताया कि अब जंगबहादुरगंज स्टेशन बहुत अच्छा हो गया है। सुरक्षित यातायात के साथ अन्य सुविधाएं भी उपलब्ध रहेंगी । डीआरएम ने बताया कि कोविड 19 की बजह से ट्रेनों का संचालन बंद था। जल्द ही ट्रेन संचालित होने लगेंगी। पब्लिक डिमांड के आधार पर विभागीय जांच के बाद एक्सप्रेस ट्रेनों के स्टॉपेज व नई ट्रेन का संचालन संभव हो सकता है। 118 साल पहले राजा जंग बहादुर सिंह ने दान दी थी जमीन

जंगबहादुरगंज: सन 1902 में बन्दरहा स्टेट के राजा ठाकुर जंगबहादुर सिंह ने अपनी सीमा क्षेत्र की यह 40 एकड़ भूमि रेलवे को दान की थी इस शर्त के साथ कि स्टेशन का नाम उनके नाम से रखा जाए। इसी वजह से यहाँ बने रेलवे स्टेशन का नाम 'जंगबहादुरगंज' रखा गया। वैसे तो कस्बा जंगबहादुरगंज राजस्व अभिलेखों में पसगवां ब्लॉक की ग्राम पंचायत 'सल्लिया' के नाम से दर्ज है। बोले यात्री संख्या बढ़े तो बने बात

यहां एक्सप्रेस ट्रेनों के स्टॉपेज सहित अन्य ट्रेनों की संख्या बढ़ाई जाए । जिससे सफर करने की राहत मिल सके। नए प्लेटफार्म के बाद उम्मीद जागी है।

लवकुश स्टेशन के नए भवन व प्लेटफार्म बनने से क्राइम पर लगाम लगेगी। पहले यहां जर्जर भवनों के साथ ही अंधेरा रहने के कारण अक्सर क्राइम होता रहता था।

पुनीत अवस्थी अभी तक सूनसान से रहने वाले इस स्टेशन पर अब रौनक बनी रहने के साथ कस्बा सहित क्षेत्र के राहगीरों के लिए सफर आसान होने वाला है । स्टेशन तो बन गया बस अब ट्रेन की सुविधा और बढ़ जाए।

अमन गुप्ता स्टेशन भवन व प्लेटफार्म का काम तो रेलवे ने कर दिया है । अब क्षेत्रीय सांसद, विधायक व अन्य जनप्रतिनिधियों की जिम्मेदारी बनती है कि ट्रेनों के ठहराव सहित अन्य यात्री सुविधाओं की व्यवस्था कराएं ।

नीशू गुप्ता

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.