अवधेश का पार्थिव शरीर पंचतत्व में विलीन, सूरज का मिला शव

उत्तराखंड के चमोली जिले के तपोवन में ग्लेशियर फटने और जल विद्युत परियोजना का बांध फटने के कारण हुई तबाही।

JagranWed, 10 Feb 2021 10:54 PM (IST)
अवधेश का पार्थिव शरीर पंचतत्व में विलीन, सूरज का मिला शव

लखीमपुर: उत्तराखंड के चमोली जिले के तपोवन में ग्लेशियर फटने और जल विद्युत परियोजना का बांध फटने के कारण हुई तबाही और जलप्रलय में जान गंवाने वाले सिगाही थाना क्षेत्र के इच्छानगर निवासी अवधेश का शव मंगलवार की देर रात करीब 12 बजे गांव पहुंचा। जिसके बाद पूरे गांव में मातमी सन्नाटा पसर गया। परिवार वालों की चीख पुकार से सभी के रोंगटे खड़े हो गए। गमगीन माहौल में बुधवार की सुबह उसके पार्थिव शरीर का अंतिम संस्कार कर दिया गया। अंतिम संस्कार में एसडीएम निघासन ओपी गुप्ता, तहसीलदार महेंद्र पांडेय, सीओ निघासन प्रदीप कुमार वर्मा,एसओ सिगाही प्रदीप कुमार सिंह,मौजूद रहे। अवधेश की मौत से उसका परिवार बिखर गया है। वह अपने परिवार में इकलौता कमाने वाला था। मांझा निवासी निवर्तमान प्रधान संतोष ने बताया कि एम्बुलेंस से अवधेश का शव लेकर वह चमोली से मंगलवार की सुबह निकले थे। उनको खीरी पहुंचने में करीब 15 घंटे लग गए। उन्होंने बताया कि बाबू पुरवा निवासी सूरज का शव भी क्षत-विक्षत अवस्था में मिला है। परिवार वाले शिनाख्त कर चुके हैं उसका शव लेकर परिवार के लोग दूसरे वाहन से आ रहे हैं। इस संबंध में एसडीएम ओपी गुप्ता ने बताया कि शव मिलने की पुष्टि हो गई है। उधर अवधेश के पिता लालता प्रसाद ने बताया कि उनके दो बेटों में अवधेश बड़ा था। इच्छानगर गांव में बुधवार को मचे कोहराम के बीच सैकड़ों लोग अंतिम संस्कार के वक्त मौजूद रहे। तपोवन से सौ किलोमीटर दूर मिला सूरज का शव

संवादसूत्र, बेलरायां/सिगाही (लखीमपुर) : उत्तराखंड के चमोली जिले के तपोवन में ग्लेशियर फटने और जल विद्युत परियोजना का बांध टूटने के कारण हुई तबाही और जल प्रलय में लापता हुए बेलरायां के ग्राम बाबूपुरवा के मजदूर सूरज का भी शव बरामद हो गया है। सूरज के चाचा ने जागरण को दूरभाष पर बताया कि तपोवन से करीब 100 किलोमीटर की दूरी पर रुद्रप्रयाग में सूरज का शव बरामद हुआ है। अनुमान लगाया जा रहा है कि प्रचण्ड जलधारा की ज्वार में फंसकर सूरज का शव रुद्रप्रयाग पहुंच गया। सूरज के शव का पोस्टमार्टम भी वहीं कर दिया गया है। परिजनों के मुताबिक उसका शव बुधवार की देर शाम एम्बुलेंस के जरिए वहां से रवाना होगा। शव गुरुवार की सुबह तक बेलरायां के बाबूपुरवा गांव पहुंचने की उम्मीद है। जिम्मेदार की सुनिए

खीरी जिले से जो 34 लोग लापता उनकी संख्या अब 31 रह गई है। खीरी की सूची में शामिल शेरसिंह नामक युवक शाहजहांपुर जिले का रहने वाला है। इस तरह 33 में दो शव मिलने के बाद अब 31 की तलाश की जा रही है। पूरे मामले पर सक्रियता से नजर रखने को एसडीएम पलिया वहीं चमोली में मौजूद हैं।

शैलेंद्र कुमार सिंह

डीएम

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.