न्याय पाने के लिए शुरू की भूख हड़ताल

न्याय पाने के लिए शुरू की भूख हड़ताल
Publish Date:Thu, 24 Sep 2020 10:43 PM (IST) Author: Jagran

लखीमपुर : न्याय के लिए संघर्ष कर रहे पीड़ित परिवार ने गुरुवार से क्रमिक अनशन भूख हड़ताल शुरू कर दी है। घटना के 19 दिन बाद भी प्रशासन ने सीओ के खिलाफ कार्रवाई एवं बाहर घूम रहे दोषियों को जेल नहीं भेजा। इससे नाराज धरना दे रहे पीड़ित परिवार ने भूख हड़ताल की है। न्याय पाने के लिए 18 दिन तक शांतिपूर्वक चले धरने को पीड़ित परिवार ने भूख हड़ताल का रूप दे दिया है। त्रिकोलिया निवासी दिवगत पूर्व विधायक निरवेन्द्र कुमार मिश्रा उर्फ मुन्ना की 6 सितंबर को भूमि विवाद के चलते मौत हो गई थी। धरने पर बैठे बेटे संजीव का आरोप है कि 19 दिन बीत चुके हैं। प्रशासन ने जांच कराने के बाद अभी तक सीओ के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की है। नामजद 5 दोषियों में से दो दोषी अभी भी बाहर घूम रहे हैं। पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार नहीं किया है। प्रशासन की मंशा साफ नहीं लग रही, प्रशासन सीओ सहित दोषियों को बचाने में जुटा हुआ है। न्याय पाने के लिए जनता के सहयोग से भूख हड़ताल शुरू की गई है। इस न्याय की लड़ाई में जब तक न्याय नहीं मिलता, तब तक हम भूख हड़ताल जारी रखेंगे। गुरुवार को भूख हड़ताल पर वीरेंद्र मिश्रा, सौरभ मिश्रा, गौतम सिंह, सचिन गुप्ता, शुभम शर्मा, अर्पित शुक्ला, सतेंद्र शुक्ला, उमेश सिंह, कमलजीत सिंह, कौशल किशोर बाजपेई बैठे।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.