पलिया में किसानों का जुलूस, गोला में समिति पर जड़ा ताला

बकाया गन्ना भुगतान को लेकर किसानों का आंदोलन तेज होता जा रहा है।

JagranWed, 01 Dec 2021 10:14 PM (IST)
पलिया में किसानों का जुलूस, गोला में समिति पर जड़ा ताला

लखीमपुर: बकाया गन्ना भुगतान को लेकर किसानों का आंदोलन तेज होता जा रहा है। पहले किसान पलिया में ही आंदोलन चला रहे थे, लेकिन बुधवार को पलिया के साथ गोला व संपूर्णानगर में भी किसान आंदोलित हो गए। गोला में किसानों में समिति कार्यालय में ताला जड़ दिया तो पलिया में किसानों ने समिति में गन्ना डंप कर प्रदर्शन किया।

पलियाकलां: बकाया भुगतान को लेकर पलिया चीनी मिल परिसर में किसानों का धरना बुधवार को भी जारी रहा। किसानों ने नगर में जुलूस निकाल कर अधिकारियों को ज्ञापन दिया और समिति कार्यालय में आकर जोरदार नारेबाजी करते हुए प्रदर्शन किया। किसानों ने समिति परिसर में कई ट्राली गन्ना लाकर डंप कर दिया है। किसानों ने सुबह एकत्र होकर नगर में जुलूस निकाला और अधिकारियों को ज्ञापन देकर समस्या का जल्द निस्तारण की मांग की। किसानों ने समिति कार्यालय पहुंचकर चीनी मिल व सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की और भुगतान न होने तक चीनी मिल न चलने देने की बात दोहराई। किसानों ने कहा कि जब तक भुगतान नहीं होता है, तब तक मिल नहीं चलने दी जाएगी। जब तक बकाया भुगतान मिल नहीं करती है, तब तक किसान गन्ने की आपूर्ति भी शुरु नहीं करेंगे और धरना भी जारी रहेगा। किसानों ने भुगतान न होने पर मिल का गन्ना दूसरे मिलों को आवंटित करने पर भी जोर दिया। किसानों के आंदोलन के चलते बुधवार को भी चीनी मिल के किसी क्रय केंद्र पर गन्ने की कोई तौल नहीं हुई है।

संपूर्णानगर: भुगतान को लेकर किसानों ने गन्ना समिति में एकत्र हो सचिव को ज्ञापन सौंपा। भुगतान न होने की दशा में किसानों ने जिला गन्ना अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई करने की बात कही। खीरी, पीलीभीत गन्ना समिति में बुधवार को किसानों की बैठक हुई, जिसमें किसान सहकारी चीनी मिल के पिछले पेराई सत्र का बकाया गन्ना मूल्य मय ब्याज के चार दिसंबर तक कराने की मांग की गई। किसानों ने कहा कि अगर भुगतान नहीं किया गया तो जिला गन्ना अधिकारी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। चीनी मिल की तरफ किसानों का करीब 42 करोड़ रूपये अभी बकाया है। किसानों ने डीएम को संबोधित एक ज्ञापन गन्ना समिति सचिव सत्यदेव को सौंपा है। ज्ञापन देने वालों में दिलावरजीत सिंह, जिला पंचायत सदस्य तरसेम सिंह, ललन गौड़, प्रमोद शाह, धीरेंद्र नाथ त्रिपाठी, अमरीक सिंह, प्रगट सिंह, बलकार सिंह आशोक कुमार, हरविदर सिंह सहित काफी किसान शामिल रहे। इस संबंध में किसान सहकारी चीनी मिल प्रधान प्रबंधक विनीता सिंह ने बताया कि गन्ना भुगतान को लेकर प्रक्रिया चल रही है। पैसा चीनी मिल के पास आते ही गन्ना भुगतान किसानों को भेजा जाएगा।

गोलागोकर्णनाथ: पिछले पेराई सत्र के गन्ना बकाया मूल्य को लेकर आंदोलित किसान संगठन ने चीनी मिल मालिक व प्रबंधन के विरुद्ध मुकदमा दर्ज करने की मांग की थी, लेकिन मुकदमा दर्ज न करने को लेकर बुधवार को राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन के जिलाध्यक्ष पटेल श्री कृष्ण वर्मा ने कहा कि जिले में आठ विधायक, एक सांसद, केंद्रीय मंत्री के मौजूद होने के बावजूद किसानों के हालात खराब है। हाईकोर्ट, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद भी 14 दिन के अंदर भुगतान नहीं कराया जा पा रहा है। नवीन पेराई सत्र चालू होते ही किसानों का आक्रोश फूट गया। बुधवार को किसानों ने गोला चीनी मिल परिसर में गन्ना विकास समिति के कार्यालय पर ताले जड़ दिए। इसके बाद गन्ने की होली जलाकर विरोध प्रदर्शन किया। साथ ही चेतावनी दी है कि यदि किसानों का भुगतान नहीं किया गया तो तीन दिसंबर को गोला चीनी मिल का चक्का जाम कर विरोध दर्ज कराएंगे। मौजूदा पेराई सत्र का 14 दिन के अंदर भुगतान देना सुनिश्चित नहीं किया जाता, तब तक किसानों का आंदोलन जारी रहेगा । मुकदमा दर्ज कराने का दिया भरोसा

गन्ना समिति में धरना प्रदर्शन एवं तालाबंदी को लेकर एसडीएम अविनाश चंद्र मौर्य, सीओ संजय तिवारी ने बताया कि डीएम के साथ बैठक कर चीनी मिल के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किए जाने के संबंध में वार्ता की जाएगी। साथ ही किसान संगठन के साथ बैठक कर एफआइआर दर्ज करने का आश्वासन दिया।

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

Tags
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.