कोरोना से बचाव का अचूक अस्त्र है वैक्सीन

कोरोना से बचाव का अचूक अस्त्र है वैक्सीन

कोरोना संक्रमण से बचने के लिए जिन लोगों ने टीका लगवाया है वह अब दूसरों को टीका लगवाने के लिए प्रेरित कर रहे हैं।

JagranWed, 12 May 2021 12:53 AM (IST)

कुशीनगर : डा. मृत्युंजय कुमार ओझा कहते हैं कि कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीन रूपी सुरक्षा कवच को पहनना ही होगा। यही एक अस्त्र है जो कोरोना के वार को पूरी तरह से निष्प्रभावी करेगा।

मैंने टीके का दोनों डोज ले लिया है। इससे मेरा आत्मबल तो बढ़ा ही है सुरक्षा का भाव भी गहरा हुआ है। टीका लगने के बाद आप पूरी तरह से सुरक्षित हो जाएंगे। कोरोना संक्रमण होने के बाद भी जान पर खतरा खड़ा नहीं होगा। इसलिए आप भी कोरोना की दोनों डोज जरूर लें। टीका को लेकर कहीं किसी भ्रांति में पड़ने की जरूरत नहीं। टीकाकरण अभियान में हम सभी को शामिल होकर कोरोना को हराना होगा। टीका कोरोना से बचाव की गारंटी है, इस बात को समझना होगा। इस पर पूरी तरह से अमल करना होगा।

वैक्सीनेशन से हारेगा कोरोना, मैंने ली दोनों डोज

यूनिसेफ की ब्लाक मोबिलाइजेशन कोआर्डिनेटर रेनू सिंह कहती हैं कि कोरोना को सिर्फ वैक्सीनेशन से ही स्थाई रूप से हराया जा सकता है। इसलिए आप सरकार की इस मुहिम में पूरी संजीदगी से शामिल होकर टीके की दोनों डोज निश्चित रूप से लें। मैंने दोनों डोज लेकर कोरोना को हराने की चेन में खुद को शामिल किया है। आप भी संबंधित केंद्र पर जाकर टीका लगवाएं। इससे हम खुद को तो सुरक्षित करेंगे ही दूसरों को भी सुरक्षित कर सकेंगे। वर्तमान दौर में टीका लगवाने को सबसे अधिक प्राथमिकता में रखना होगा। टीका लगने के बाद भी आप संक्रमित हो सकते हैं, लेकिन तब आपकी जान पर कोई खतरा नहीं खड़ा होगा। केवल फ्लू की तरह थोड़ी बहुत परेशानी हो सकती है। इसलिए आप भी टीका लगवाएं और कोरोना को हराएं।

आक्सीजन प्लांट लगवाने के लिए सीएम से मांगी अनुमति

सेवरही नगर पंचायत अध्यक्ष श्यामसुंदर विश्वकर्मा ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर तमकुही तहसील क्षेत्र के शिवाघाट में आक्सीजन प्लांट लगवाने की मांग करते हुए स्वयं आक्सीजन रहित एंबुलेंस की व्यवस्था करने का बीड़ा उठाया है।

उन्होंने मंगलवार को प्रेस वार्ता में बताया कि तमकुहीराज तहसील क्षेत्र के तीन विकास खंडों में आक्सीजन के अभाव में अब तक कई लोगों की मौत हो गई है। अगर आक्सीजन की व्यवस्था होती तो उन्हें बचाया जा सकता था। ऐसी स्थिति में शिवाघाट की खाली पड़ी जमीन पर सिलेंडर प्लांट लगना जनहित में जरूरी है। कहा कि अगले माह आक्सीजन रहित एंबुलेंस सेवा शुरू कर दी जाएगी इससे लोगों को बचाने में मदद मिलेगी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.