सेवा और हौसले को सलाम, कोरोना योद्धाओं का हुआ सम्मान

कुशीनगर में जागरण ने कोरोना योद्धा सम्मान समारोह का आयोजन किया यह सम्मान उन लोगों का था जब लोग अपनों से ही दूरी बना कर रह रहे थे ऐसे में जिले के चंद लोगों ने मजबूर और विवश लोगों की मदद को हाथ बढ़ाया था।

JagranSun, 01 Aug 2021 12:49 AM (IST)
सेवा और हौसले को सलाम, कोरोना योद्धाओं का हुआ सम्मान

कुशीनगर : जब कोरोना की दहशत से हर कोई डरा सहमा था। संक्रमण की मार से कहीं कराह निकल रही तो कहीं जान जा रही थी। कोहराम मचा हुआ था। अपने ही अपनों से किनारा कर रहे थे ऐसे में समाज से देवदूत बनकर आगे आए कुछ गैरों ने सेवा और हौसले के साथ कोरोना पीड़ितों की मदद को हाथ बढ़ाए। चेहरे अनजाने थे, लेकिन भाव अपनेपन का था। खाद्य सामग्री से लेकर हर तरह की मदद को तत्पर रहे। जो जहां था, उसी क्षेत्र में मोर्चा संभाल कोरोना से लड़ने में जुट गया। इनके इस प्रयास ने न केवल बीमारी को अपना कदम रोकने पर मजबूर किया बल्कि पीड़ितों को कोरोना के कहर से बचाया भी। ऐसे ही कोरोना योद्धाओं को सम्मानित करने के लिए दैनिक जागरण ने शनिवार को होटल ओम रेजिडेंसी में सम्मान समारोह आयोजित किया।

जागरण का कोरोना योद्धा सम्मान का सजा मंच और सामने बैठे कोरोना से जंग लड़ने वाले कोरोना योद्धा। दूसरी ओर मुख्य अतिथि सांसद विजय कूमार दूबे, विशिष्ट अतिथि विधायक रजनीकांत मणि त्रिपाठी, जिलाधिकारी एस राजलिगम, एसपी सचिन्द्र पटेल, सीएमओ डा.सुरेश पटारिया, कुशीनगर नगरपालिका अध्यक्ष साबिरा खातून, पडरौना नगरपालिका अध्यक्ष विनय जायसवाल, दैनिक जागरण के महाप्रबंधक प्रवीण कुमार से सजा मंच।

माहौल पूरी तरह से उत्साह और उल्लास से लबरेज। ऐसे माहौल में जब समारोह के शुभारंभ के लिए अतिथियों ने एक साथ मिलकर दीप प्रज्ज्वलन किया तो तालियों की गड़गड़हाट से योद्धाओं के सम्मान का आगाज हुआ। इसके बाद शुरू हुआ मंच से एक-एक कर सम्मान देने का क्रम। सुबह साढ़े नौ बजे से 11.30 बजे तक चले इस आयोजन में पूरे जिले से लगभग 50 योद्धाओं को सम्मानित किया गया। सम्मान पाने बाद इनके चेहरे पर सुकून व खुशी का वह भाव दिखा। कार्यक्रम का संचालन मजीबुल्लाह राही ने किया।

हर मोर्चो पर थे कोरोना योद्धा: सांसद

सांसद विजय कुमार दूबे ने कहा कि कोरोना के खिलाफ कोई ऐसा मोर्चा नहीं था जहां कोरोना योद्धाओं ने मोर्चा न संभाला हो। चाहे बात स्वास्थ्य सेवा की हो, पुलिस द्वारा मदद करने की हो, सामाजिक कार्यकर्ताओं द्वारा मदद का हाथ बढ़ाने की रही हो। यह समग्र प्रयास ही कोरोना के खिलाफ लड़ाई में हमारी ताकत बनी और हम उसको रोकने में कामयाब रहे।

सिद्धि के साथ प्रसिद्धि भी जरूरी: विधायक

विधायक रजनीकांत मणि त्रिपाठी ने कहा कि हमारे कोरोना योद्धाओं ने सेवा की सिद्धि की और इसके जरिये लोगों को कोरोना की मार से वह राहत दी जिसकी उनको नितांत जरूरत थी। यह भी सही है कि बिना सिद्धि के प्रसिद्धि नहीं मिलती है। आज का यह सम्मान उस सिद्धि व प्रसिद्धि का प्रमाण पत्र है।

आप लड़े तभी हम जीते : डीएम

जिलाधिकारी एस राजलिगम ने कहा कि आप सब मिलकर लड़े तभी हम जीते और जिले को कोरोनामुक्त करने के अंतिम पायदन पर खड़े हैं। प्रशासन की पहल के साथ आपकी मदद का हाथ मिला तो कोरोना को रोकने की मजबूत दीवार खड़ी हुई। इसके चलते कोरोना को रुकना पड़ा और हम लोगों को बचा पाने व राहत देने में सफल हो सके।

असल सम्मान के हकदार हैं कोरोना योद्धा: एसपी

कोरोना की विपरीत घड़ी में अपने सेवा भाव के साथ मजबूत हौसले संग कोरोना के खिलाफ जंग में के मैदान में उतरे कोरोना योद्धा ही सम्मान के असल हकदार हैं। जागरण द्वारा उनका किया जा रहा सम्मान निश्चित रूप से प्रशंसनीय और उनका मनोबल बढ़ाने वाला है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.