यहां सिर्फ सरकारी अस्पतालों में भर्ती हो रहे मरीज

यहां सिर्फ सरकारी अस्पतालों में भर्ती हो रहे मरीज

कुशीनगर में एंटीजन व ट्रू नाट की सीएचसी व पीएचसी से मिलती है रिपोर्ट गोरखपुर मेडिकल कालेज भेजे जाते हैं आरटीपीसीआर के नमूने।

JagranFri, 23 Apr 2021 12:37 AM (IST)

कुशीनगर: यहां सरकारी अस्पतालों में मरीजों की एंटीजन से कोविड की जांच की जाती है। उसके बाद भर्ती किया जाता है। जिले के निजी अस्पतालों में कोविड के मरीज अभी भर्ती नहीं किए जा रहे हैं। मरीजों को देखकर ही चिकित्सक परामर्श दे रहे हैं। रविद्रनगर धूस स्थित जिला मुख्यालय समेत 16 सरकारी अस्पतालों पर कोरोना की जांच की व्यवस्था है, जहां एंटीजन की जांच के बाद आरटीपीसीआर के नमूने लिए जाते हैं।

जिला संयुक्त चिकित्सालय पर इन दोनों के अलावा ट्रूनाट से भी कोविड की जांच होती है। जिले में कुल 198 निजी चिकित्सालय हैं, जहां आपरेशन से लेकर अन्य प्रकार की सुविधाएं हैं। सीएमएस डा.बजरंगी पांडेय ने कहा कि प्रारंभिक जांच के बाद इलाज की सुविधा मरीजों को मुहैया कराई जाती है।

एंटीजन जांच के बाद भर्ती किए जाते हैं मरीज

वरिष्ठ एमडी फिजिशियन डा.राजेश कुमार ने बताया कि जिला अस्पताल में गंभीर रोगियों की एंटीजन की जांच करा भर्ती कर इलाज शुरू कर दिया जाता है। चूंकि उसकी रिपोर्ट आधे घंटे में मिल जाती है। निगेटिव या पाजिटिव आने के बाद लक्षण के आधार पर संभावित रोगी मानते हुए अलग वार्ड में भर्ती किया जाता है। साथ ही आरटीपीसीआर का नमूना गोरखपुर मेडिकल कालेज भेजा जाता है, जहां से 72 घंटे बाद रिपोर्ट मिलती है। रिपोर्ट के बाद संबंधित बीमारी का इलाज होता है।

पौष्टिक आहार व साफ-सफाई का रखें ख्याल

कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए इम्युनिटी सिस्टम को मजबूत करने जरूरत है। पौष्टिक भोजन के साथ साफ-सफाई पर ध्यान देना होगा, जिससे इस संक्रामक बीमारी से बचाव किया जा सके। इसमें थोड़ी सी लापरवाही घातक सिद्ध हो सकती है। खासकर गर्भवती महिलाओं को ताजे फल व सब्जी का प्रयोग करना चाहिए। उन्हें घर में विशेष सावधानी की जरूरत है। घर के आसपास साफ-सफाई पर ध्यान दें। अनावश्यक रूप से मन से बीमार होने को लेकर चितित होने की जरूरत नहीं है।

यह बात पडरौना की चिकित्सक डा. गायत्री पांडेय ने कही। उन्होंने आमजन से अपील की कि बाहर जाते समय अन्य लोगों से शारीरिक दूरी बनाए रखें। इससे संक्रमण फैलने की संभावना कम होगी। ऐसे में लोगों को रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के उपाय करने चाहिए। मास्क के साथ शारीरिक दूरी पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है। पौष्टिक आहार के साथ कसरत की भी आदत डालनी चाहिए। ताजे फल व सलाद का सेवन करें। इसमें नींबू, संतरा, केला आदि शामिल रहे। सीजनल फल का सेवन करें। पर्याप्त नींद जरूर लें।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों से जुड़ी प्रमुख जानकारियों और आंकड़ों के लिए क्लिक करें।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.