top menutop menutop menu

देश की एकता के लिए इंदिरा ने दिया बलिदान

कुशीनगर : कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की जयंती मनाई। पूर्व प्रधानमंत्री गांधी के चित्र पर माल्यार्पण के बाद कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए प्रमोद कुमार पांडेय ने कहा कि इंदिरा देश के सबसे शक्तिशाली और लोकप्रिय प्रधानमंत्रियों में से एक थीं। देश की एकता के लिए उन्होंने अपने जीवन का बलिदान कर दिया। उनके योगदान को देशवासी भूल नहीं सकते। वे दुनिया भर की महिलाओं की प्रेरणा श्रोत थीं। कहा कि राष्ट्रविरोधी ताकतों को मुंहतोड़ जवाब देना इंदिरा से सीखा जा सकता है। उन्होंने महिला सशक्तीकरण को मूर्त रूप दिया। प्रधानमंत्री रहते हुए उन्होंने भारत के स्वाभिमान को कभी झुकने नहीं दिया। उनकी विचारधार से देश ही नहीं पूरे विश्व के लोग प्रभावित थे। अरशद खान, अभय मणि, निकेश सिंह, भृगुनाथ दूबे, ब्रह्मा सिंह, नूर आलम, नारद मिश्र आदि ने इंदिरा को श्रद्धा सुमन अíपत किया।

---

मनाई गई इंदिरा की जयंती

सूरजनगर, कुशीनगर: किसान इंटर कालेज पिपरा बाजार में इंदिरा की जयंती पर श्रद्धा सुमन अíपत किया गया। मुख्य वक्ता हरींद्र कुशवाहा ने इंदिरा के कार्यकाल की विस्तार से चर्चा की। कहा कि वे प्रधानमंत्री रहते हुए देश को एकसूत्र में पिरोने का कार्य किया। उपाचार्य संजय कुमार गौतम, सुनील पांडेय, चंद्रभूषण पांडेय, धनंजय कुमार, सतीश कुशवाहा आदि ने भी संबोधित किया। दीपक मिश्रा, रतन गुप्ता आदि शिक्षक मौजूद रहे। संचालन हिदी प्रवक्ता भूपेंद्र ने किया।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.