विविधताओं वाला अद्भुत देश है भारत : जाफरी किस

विविधताओं वाला अद्भुत देश है भारत : जाफरी किस

कुशीनगर आए ब्रिटेन निवासी जाफरी किस शांति का संदेश बांटने विश्व भ्रमण पर निकले हैं उन्होंने कहा कि शिक्षा विकास व प्रदूषण नियंत्रण पर भारत में विशेष कार्य करने की जरूरत है।

Publish Date:Mon, 30 Nov 2020 11:50 PM (IST) Author: Jagran

कुशीनगर: विश्व भ्रमण पर निकले ब्रिटेनवासी जाफरी किस ने सोमवार को कहा कि भारत विविधताओं वाला अद्भुत देश है। यहां जो शांति मिली है वह विश्व में अन्य कहीं भी नहीं मिलती। यहां शिक्षा, विकास व प्रदूषण नियंत्रण पर विशेष कार्य करने की जरूरत है।

विश्व भ्रमण के लिए जाफरी विभिन्न देशों के लोगों से मिलकर उनकी संस्कृति, परंपरा, रीति-रिवाज आदि के बारे में जानने-समझने और शांति का संदेश देने के लिए मोटर साइकिल से निकले हैं। वह सोमवार की सुबह भदंत ज्ञानेश्वर बुद्ध विहार कुशीनगर पहुंचे। किस ने अपनी यात्रा लंदन से अप्रैल 2014 में शुरू की थी। 29 देशों की यात्रा करने के बाद वे नवंबर 2019 में भारत आए थे। कोविड-19 को लेकर लाकडाउन के चलते उन्हें लगभग एक वर्ष भारत में रुकना पड़ा है। इस दौरान उन्होंने भारत के विभिन्न राज्यों का भ्रमण किया। कुशीनगर से कोलकाता तक का भ्रमण करने के बाद किस ब्रिटेन लौट जाएंगे। पुन: अफ्रीका, अमेरिका की यात्रा पर निकलेंगे। अगले क्रम में रूस, दक्षिण-पूर्व एशिया सहित न्यूजीलैंड और आस्ट्रेलिया का भ्रमण करेंगे। समाज निर्माण स्वयंसेवक का नैतिक दायित्व: पयोदकांत

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की साप्ताहिक सम्मिलित शाखा में सोमवार को सुबह कसया नगर की 13 शाखाओं के 106 स्वयंसेवकों ने भाग लिया। पूर्व माध्यमिक विद्यालय कसया में सुबह छह बजे से डेढ़ घंटे की शाखा में स्वयंसेवकों ने खेल व शारीरिक, समता, आचार विभाग, नियुद्ध, योगासन और सूर्य नमस्कार का अभ्यास किया। कसया नगर कार्यवाह पयोदकांत ने कहा कि समाज का निर्माण स्वयंसेवक का नैतिक दायित्व है।

बौद्धिक कार्यक्रम के तहत स्वयंसेवकों ने गणगीत, सुभाषित और अमृत वचन के साथ ही बोधकथा का रसपान किया। प्रत्येक रविवार को कसया नगर के अलग-अलग स्थानों पर संघ की सभी शाखाओं की एक सम्मिलित शाखा आयोजित होती है जिसमें नगर में रहने वाले सभी बाल, तरुण, युवा और प्रौढ़ स्वयंसेवक भाग लेते हैं। अगली सम्मिलित शाखा श्रीराम जानकी मंदिर (मठ) पर छह दिसंबर को सुबह छह से 7:30 बजे तक आयोजित की जाएगी। कसया नगर कार्यवाह पयोदकांत ने कहा कि प्रत्येक स्वयंसेवक समाज व देश के प्रति स्वयं की प्रेरणा से निष्ठावान रहते हुए अपने द्वारा ही निर्धारित दायित्वों का निर्वाह करता है। समाज को संगठित करते हुए देश के प्रति निष्ठावान समाज का निर्माण करना प्रत्येक स्वयंसेवक का दायित्व है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.