कुशीनगर में पुलिस कर्मियों को मर्यादित व्यवहार करने के निर्देश

कुशीनगर में पुलिस कर्मियों को मर्यादित व्यवहार करने के निर्देश

कुशीनगर में डीजीपी के निर्देश के बाद पुलिस कर्मियों को एसपी ने दी हिदायत कहा कि कुछ पुलिसकर्मियों की वजह से प्रभावित हो रही विभाग की छवि।

JagranMon, 01 Mar 2021 12:55 AM (IST)

कुशीनगर: जिले के पुलिसकर्मियों को अनुशासन व आचरण-व्यवहार पर विशेष ध्यान देने को कहा गया है। कहा गया है कि जन-समान्य तथा गणमान्य व्यक्ति के साथ मर्यादित व्यवहार करें, जिससे पुलिस की छवि सहयोगी के रूप में बने।

डीजी कार्यालय से मिले निर्देश के क्रम में पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार सिंह ने मातहतों को फरमान जारी कर कहा है कि पुलिसकर्मी जन-सामान्य तथा गणमान्य व्यक्ति के साथ मर्यादित व्यवहार करें। समय-समय पर इस प्रकार के दिशा-निर्देश भी जारी किए जाते हैं। पुलिसकर्मियों आमजन से उचित व्यवहार न किए जाने के मामले अक्सर सामने आते हैं। ऐसे पुलिसकर्मी समूचे विभाग पर प्रश्नचिन्ह खड़ा कर देते हैं। जिससे पुलिस की छवि पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। जबकि पुलिस बल एक अनुशासित विभाग है तथा नागरिकों के बीच पुलिस की स्वच्छ छवि एवं विश्वसनीयता पर ही हमारी पूरी कार्यप्रणाली आधारित है।

यह है फरमान

-अभियान, चेकिग के दौरान सड़क से गुजरने वाले व्यक्तियों से मर्यादित व्यवहार करें।

-वाहन चालक द्वारा परिचय-पत्र दिखाए जाने या परिचय बताने पर संवेदनशीलता के साथ देखें, सुनें तथा शालीन व्यवहार करें।

-वरिष्ठ नागरिक, महिलाओं के साथ मर्यादित आचरण कर उनकी यथासंभव मदद करें।

-चेकिग में तैनात पुलिसकर्मियों को प्रभारी पूर्व में ही उनके व्यवहार को लेकर जरूरी निर्देश दें।

-प्रति माह होने वाले सीईआर प्रशिक्षण में पुलिसकर्मियों संग साफ्ट स्किल पर चर्चा हो, विशेषज्ञ या सेवानिवृत्त पुलिस अधिकारियों का मार्गदर्शन दिलाएं।

एसपी विनोद कुमार सिंह ने कहा कि पुलिस बल अनुशासित विभाग है। जन-सामान्य तथा गणमान्य व्यक्तियों के साथ मर्यादित आचरण को लेकर निर्देश दिए गए हैं। अनुशासनहीनता व अमर्यादित व्यवहार नजरंदाज नहीं किया जाएगा। ऐसा करने वाले पुलिसकर्मियों को चिन्हित कर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

बिहार सीमा के निकटवर्ती गांवों में बढ़ाएं सक्रियता

एएसपी एपी सिंह ने शनिवार देर शाम तमकुहीराज सर्किल के थानेदारों संग बैठक कर कानून-व्यवस्था की समीक्षा की। बिहार बार्डर के निकटवर्ती गांवों में पुलिस की और सक्रियता बढ़ाने का निर्देश दिया। विवेचनाओं की अपेक्षित प्रगति न देख कड़ी नाराजगी जताई।

तमकुहीराज स्थित सीओ कार्यालय परिसर में आयोजित समीक्षा बैठक में एएसपी ने कहा कि मजबूत कानून-व्यवस्था पुलिस का मुख्य कार्य है और यही शासन की मंशा है। ऐसे में थानेदार दायित्वों को लेकर सजग रहें। बिहार सीमा से सटे जिले के गांवों में गश्त बढ़ाएं। संदिग्धों को चिह्नित कर उन पर नजर रखें। छोटी-छोटी सूचनाओं को नजरअंदाज न करें। जांच कर तत्काल कार्रवाई करें। विवेचनाओं में देरी से अपराधियों को सजा दिलाने में देरी होती है। लंबित विवेचनाएं पखवारे भर के भीतर हर हाल में निस्तारित की जाएं। अवैध शराब तथा बालू खनन पर हर हाल में रोक लगाएं। चुनाव को लेकर गांवों का माहौल तेजी से बदल रहा है। इसे लेकर सतर्कता बरतें। चौकीदारों की भूमिका और बढ़ाएं। माहौल बिगाड़ने वालों को चिह्नित कर उनके विरुद्ध सख्त कार्रवाई सुनिश्चित करें। सीओ तमकुहीराज फूलचंद कन्नौजिया, एसएचओ पटहेरवा सुनील कुमार सिंह, एसएचओ तरयासुजान धर्मेंद्र कुमार सिंह, एसओ सेवरही एमपी चतुर्वेदी, विशुनपुरा संजय कुमार मिश्र आदि मौजूद रहे।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.