अधिवक्ताओं की समस्याओं पर चर्चा

युवा अधिवक्ताओं के लिए सहयोग की उठाई मांग अधिवक्ताओं पर हमला रोकने को बने सख्त कानून।

JagranMon, 21 Jun 2021 12:46 AM (IST)
अधिवक्ताओं की समस्याओं पर चर्चा

कुशीनगर: एडवोकेट कौंसिल आफ इंडिया की शनिवार को वर्चुअल बैठक हुई। इसमें प्रदेश के सभी जनपदों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। बैठक में शामिल नेबुआ नौरंगिया ब्लाक के मोतीछपरा गांव के कौंसिल के प्रदेश सचिव प्रज्ञान शुक्ल ने बताया कि संगठन के सभी जिलाध्यक्ष व जिला प्रभारियों ने अधिवक्ताओं की समस्याएं उठाई हैं।

आम सहमति से यह प्रस्ताव पारित किया गया कि अधिवक्ताओं पर आए दिन हो रहे हमलों पर रोक लगाने के लिए सरकार सख्त कानून बनाए। इसके लिए संगठन की कोर कमेटी गठित कर मसौदा तैयार किया जाएगा। बार कौंसिल आफ इंडिया के माध्यम से उसे विधि मंत्रालय के समक्ष प्रस्तुत किया जाएगा। एडवोकेट प्रोटेक्शन बिल में इस विषय को सम्मिलित कराया जाएगा। कोरोना काल में न्यायालय बंद होने से युवा अधिवक्ताओं को हुई आर्थिक क्षति की पूर्ति के लिए सरकार से फंड की मांग करने, कोरोना से जान गंवाने वाले अधिवक्ताओं के स्वजन को सरकार की ओर से मुआवजा की मांग की गई। कौंसिल के अध्यक्ष जैकी शुक्ल ने कहा कि युवा अधिवक्ताओं को सक्षम बनाने के लिए शुरुआती चरण में आर्थिक सहयोग की आवश्यकता है। संचालन प्रदेश सचिव अनुभव द्विवेदी ने किया। अमित भारद्वाज, वेदप्रकाश तिवारी, संजीव पांडेय, आशीष शुक्ल, मयंक त्रिवेदी, आशीष वाजपेई, अरविद पांडेय, शुभम पांडेय, लोकेंद्र नाथ पांडेय, राम पांडेय, सैयद अरफात, योगेश मिश्र आदि अधिवक्ताओं ने भी अपने विचार रखे।

चर्चा का विषय बना प्रधान का वायरल आडियो

विशुनपुरा ब्लाक के एक गांव के ग्राम प्रधान का इंटरनेट मीडिया में वायरल आडियो चर्चा का विषय बना हुआ है। आडियो में ग्राम प्रधान गांव के ही एक के खिलाफ अभद्र भाषा का प्रयोग कर रहे हैं।

गांव में मनरेगा योजना के तहत सड़क पर मिट्टी भराई का कार्य हुआ है। उसमें गड़बड़ी का आरोप लगा किसी व्यक्ति ने आपत्ति जताई थी। उसकी जानकारी होने के बाद ग्राम प्रधान आपा खो दिए और गांव के ही दूसरे व्यक्ति को फोन कर आपत्ति जताने वाले के प्रति नाराजगी जता रहे हैं और वायरल आडियो में अभद्र भाषा का प्रयोग करते सुने जा रहे हैं।

डीएम के निर्देश पर कोटेदार के खिलाफ मुकदमा

तमकुही विकास खंड के ग्राम पंचायत महुअवा-देवरिया के कोटेदार पर शिकायत की पुष्टि होने पर डीएम के निर्देश पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर किया है।

कोटेदार ईश्वर प्रसाद पर ग्रामीणों ने अंगूठा लगवाकर राशन नहीं देने तथा वितरण में धांधली का आरोप लगाया था। इसकी जांच पूर्ति निरीक्षक तमकुही विजय राय ने की थी। एसडीएम ने जांच रिपोर्ट डीएम को भेजी, जिस पर डीएम ने कोटे की दुकान को तत्काल प्रभाव से निरस्त कराते हुए कोटेदार के खिलाफ विधिक कार्रवाई के निर्देश दिए थे। प्रभारी निरीक्षक पटहेरवा सुनील कुमार सिंह ने बताया कि कोटेदार के पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.