संक्रमितों के बीच रह कोरोना को दी मात

संक्रमितों के बीच रह कोरोना को दी मात

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मथौली बाजार के एंबुलेंस कर्मी छह माह से लगातार संक्रमितों के बीच हैं और सेवा के जुनून सतर्कता से उन्होंने कोरोना को मात देने में सफलता पाई है।

Publish Date:Thu, 24 Sep 2020 11:38 PM (IST) Author: Jagran

कुशीनगर: सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मथौली बाजार के एंबुलेंस कर्मी छह माह से लगातार संक्रमितों के बीच हैं और सेवा के जुनून, सतर्कता से उन्होंने कोरोना को मात देने में सफलता पाई है। एंबुलेंस में ड्यूटी होने के कारण सुबह से शाम तक मरीजों को ले आने- ले जाने का काम करना पड़ता है। सावधानी का पूरा ध्यान दिया, इससे संक्रमण पास तक नहीं आने पाया। तीन बार जांच कराए, हमेशा रिपोर्ट निगेटिव आई। संक्रमितों के बीच रहते हुए खुद को सुरक्षित रखना चुनौती है। मास्क लगाने, दो गज की दूरी बनाने, हाथ को बार-बार साबुन से धोते रहने, सैनिटाइजर का प्रयोग करने की गाइड लाइन का पालन जरूरी है। इसका पूरा ध्यान रखा और संक्रमित होने से बचा रहा। बचाव व सतर्कता ही संक्रमण से बचाव का सर्वोत्तम उपाय है। पूरे दिन संक्रमितों के बीच रहता हूं। सतर्कता के कारण खुद और स्वजनो को संक्रमित होने से बचाने में सफल हूं। बचाव का हर संभव प्रयास किया और कोई दिक्कत नहीं आई। नौकरी में आने के बाद यही बताया कि जनसेवा सर्वोपरि है। संकट काल में लड़ना ही असली परीक्षा होती है, इसी बात को ध्यान में रखकर काम कर कर रहा हूं। इस खतरनाक वायरस से बचने के लिए जरूरी सभी सावधानी बरतता हूं।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.