दिल्ली

उत्तर प्रदेश

पंजाब

बिहार

उत्तराखंड

हरियाणा

झारखण्ड

राजस्थान

जम्मू-कश्मीर

हिमाचल प्रदेश

पश्चिम बंगाल

ओडिशा

महाराष्ट्र

गुजरात

15 सालों के इन्तजार के बाद भी नहीं बना प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र

15 सालों के इन्तजार के बाद भी नहीं बना प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र

चंपहा मंझनपुर तहसील के बड़हरि गांव में करीब 15 साल पहले बनना शुरु हुआ प्राथमिक स्वास्

JagranSat, 08 May 2021 10:56 PM (IST)

चंपहा : मंझनपुर तहसील के बड़हरि गांव में करीब 15 साल पहले बनना शुरु हुआ प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र अब तक बनकर तैयार नहीं हुआ। इससे लोगों को परेशानी हो रही है। गांव में स्वास्थ्य सुविधा न होने के कारण लोगों को काफी दूर जाना पड़ता है।

बड़हरि ग्राम सभा को मिला सामुदायिक अस्पताल आधा अधूरा बना हुआ है। लगभग 15 वर्ष हो चुके हैं, लेकिन अभी तक धन अवमुक्त होने के बाद भी अस्पताल का निर्माण पूरा नहीं हो सकी। अस्पताल अधूरा निर्माण कर छोड़ दिया गया। करीब एक दशक से यह सवाल ग्रामीणों को परेशान कर रहा है। अस्पताल न होने के कारण उनको छोटी- मोटी बीमारियों के लिए भी दूर जाना पड़ता है। गांव के अवध नारायण की मानें तो अस्पताल का निर्माण पूरा न होने से यहां के लोगों को पांच छह किमी दूर पश्चिमशरीरा व चंपहा उपचार के लिए जाना पड़ता है। संक्रमण काल में जहां लोगों को घर से बाहर निकलने में भय लगता है। वहां दूसरे स्थान के अस्पताल जाना तो और भी कष्टकारी होता है। श्रवण त्रिपाठी व राम सिंह ने बताया कि जब हमारे गांव में अस्पताल बनाया जाना था। इसके लिए धन भी आया तो 15 साल से अस्पताल अधूरा क्यों पड़ा है। एक ठेकेदार की लापरवाही से पूरे गांव परेशान हो रहा है। ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए। यदि कोई अफसर इनकी मदद कर रहा है तो वह भी उतना ही दोषी है। अशोक सिंह, अजय सिंह व पंकज त्रिपाठी का कहना है कि अस्पताल इन दिनों सब से पहली जरूरत है। यदि हम सब को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा मिले इसके लिए अस्पताल मिला था। अस्पताल गांव में बना नहीं तो इसके लिए जिम्मेदार क्या कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि इस संबंध में पूर्व में अधिकारियों से शिकायत भी की गई थी, लेकिन कुछ नहीं हुआ।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.