top menutop menutop menu

दहशतजदा दुष्कर्म पीड़िता ने गांव छोड़ा

कौशांबी थाना क्षेत्र के एक गांव में सुलह का दबाव बनाने के लिए धमकी से दहशतजदा दुष्कर्म पीड़िता ने गांव से पलायन किया है। साथ ही पुलिस पर मामले में उदासीनता बरतने का भी आरोप लगाया है।

कौशांबी इलाके की एक विवाहिता दो जून को अपने घर पर थी। पति कहीं बाहर गया था। इस बीच गांव का ही एक युवक रात में दीवार फांदकर घुसा और तमंचे के बल पर विवाहिता के साथ दुष्कर्म किया। दूसरे दिन पति के साथ विवाहिता ने थाने पहुंचकर तहरीर दी। विवाहिता का आरोप है कि पुलिस ने दुष्कर्म के बजाय छेड़खानी की तहरीर जबरन लिखवाई। इससे आहत पीड़िता ने एसपी आफिस में शिकायती पत्र दिया। इसकी जानकारी जब विपक्षी युवक को हुई तो वह और उसके परिवार के लोग विवाहिता पर सुलह का दबाव बनाने लगे। ऐसा न करने पर पूरे परिवार की हत्या की धमकी दी। दहशतजदा पीड़िता ने परिवार के साथ शुक्रवार को गांव छोड़ दिया। इस संबंध में पुलिस अधीक्षक अभिनंदन का कहना है कि मामला संज्ञान में नहीं है। यदि ऐसा तो जांच कर प्रभावी कार्रवाई कराई जाएगी।

पत्नी को पीटकर घर से भगाया

चरवा के पश्चिम थोक की निर्मला देवी ने पुलिस को बताया कि शनिवार सुबह पति महेंद्र ने उससे एक अंगूठी ली थी। कुछ ही देर के बाद उसने वह अंगूठी अपनी भाभी को दे दी। पत्नी निर्मला के विरोध करने पर उसने गाली गलौज कर उसकी जमकर पिटाई की। इससे महिला को काफी चोटें आई। शोर सुनकर मौके पर जुटे लोगों ने बीच बचाव कर माहौल शांत कराया। युवक ने पिटाई के बाद महिला को घर से निकाल दिया। बिलखती महिला थाने पहुंची और पति के खिलाफ मारपीट करने की तहरीर दी।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.