कस्बों व गांवों में हो रही बिजली कटौती, उपभोक्ता हैरान-परेशान

पिछले चार दिनों से हो रही बारिश कि वजह से जनपद की बिजली आपूर्ति बेपटरी हो गई है। नगर पंचायतों व ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली आपूर्ति की जा रही बिजली कटौती से उपभोक्ता परेशान हैं। रात के समय की जा रही बिजली कटौती से लोगों को खासी परेशानी हो रही है। शिकायत के बाद भी समस्या का निराकरण नहीं हुआ है। बिजली की अघोषित कटौती से विभाग के जिम्मेदारों के प्रति नाराजगी है।

JagranSun, 26 Sep 2021 12:22 AM (IST)
कस्बों व गांवों में हो रही बिजली कटौती, उपभोक्ता हैरान-परेशान

कौशांबी। पिछले चार दिनों से हो रही बारिश कि वजह से जनपद की बिजली आपूर्ति बेपटरी हो गई है। नगर पंचायतों व ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली आपूर्ति की जा रही बिजली कटौती से उपभोक्ता परेशान हैं। रात के समय की जा रही बिजली कटौती से लोगों को खासी परेशानी हो रही है। शिकायत के बाद भी समस्या का निराकरण नहीं हुआ है। बिजली की अघोषित कटौती से विभाग के जिम्मेदारों के प्रति नाराजगी है।

जिला मुख्यालय मंझनपुर, भरवारी, सिराथू कड़ा, शहजादपुर करारी, मूरतगंज, सराय अकिल, मनौरी, तिल्हापुर मोड़ सहित अधिकांश क्षेत्रों में बिजली व्यवस्था चरमरा गई है। पिछले चार दिन से हो रही बारिश व हवा की वजह से बिजली आपूर्ति के लिए लगाए गए तार आए दिन टूट गिरा रहा है। इसकी वजह से बिजली आपूर्ति प्रभावित हो रही है। जिला मुख्यालय मंझनपुर के कटरा नगर निवासी सरताज अहमद, दिनेश त्रिपाठी, पवन केसरवानी, रमेश चंद्र आदि लोगों का कहना है कि पिछले तीन दिनों से कस्बे में छह से सात घंटे तक बिजली की कटौती की जा रही है। शुक्रवार की रात चार घंटे व शनिवार की दोपहर में तीन घंटे तक बिजली आपूर्ति ठप थी। इससे बिजली संचालित यंत्र नहीं चले हैं और कस्बे के लोगों को गर्मी से काफी परेशानी हुई। ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली नहीं मिलने के कारण लोगों को उमस भर गर्मी में दिक्कते हो रही हैं। लोगों का कहना है कि कहने के लिए रोस्टर तो बनाया गया है लेकिन जिम्मेदारों की मनमानी के चलते इस नियम व समय का कोई मतलब नहीं है। जब मन में आया, आपूर्ति बंद कर दी जाती है। वहीं कुछ लोगों का कहना है कि पहले से इंतजाम बेहतर न किए जाने के कारण बढ़ती गर्मी के बीच फीडरों पर अधिक लोड भी बढ़ गया है। ऐसे में अघोषित कटौती से उमस भरी गर्मी ने दिन का चैन व रात की नींद तक हराम कर दी है, और विभागीय जिम्मेदारों के पास रोस्टर से बिजली आपूर्ति किए जाने का कोई प्लान तैयार नहीं है। पूछने पर बिजली विभाग के जिम्मेदार कभी तार टूटने या फिर कभी फाल्ट की समस्या मरम्मत किए जाने की बात कहकर टाल जाते हैं। कटौती के बाद बिजली आपूर्ति कितनी देर में चालू की जाएगी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.