कादरगंज घाट पर महोला और मनरेगा बांध से टकराया गंगा का पानी

पहाड़ों में हो रही बारिश और बैराजों से छोड़ा जा रहा पानी गंगा

JagranTue, 22 Jun 2021 03:13 AM (IST)
कादरगंज घाट पर महोला और मनरेगा बांध से टकराया गंगा का पानी

संवाद सहयोगी, कासगंज : पहाड़ों में हो रही बारिश और बैराजों से छोड़ा जा रहा पानी गंगा नदी पर तेजी के साथ दबाव बना रहा है। कछला गंगा नदी पर लगभग डेढ़ मीटर पानी का गेज बढ़कर 163.55 मीटर जा पहुंचा है। डीएम और एसपी ने कादरगंज घाट पहुंचकर महोला और मनरेगा बांध का निरीक्षण किया। दोनों बांधों तक पानी टकरा रहा है।

बीते तीन दिन से बैराजों से छोड़ा जा रहा पानी गंगा नदी में बढ़ रहा है। बीते 24 घंटे में गंगा नदी में पानी का गेज 161.95 मीटर से बढ़कर 163.55 मीटर तक जा पहुंचा है। अब इसके और बढ़ने की संभावना है। क्योंकि नरौरा बैराज से पानी का डिस्चार्ज निरंतर बढ़ रहा है। भले ही बाढ़ की संभावना से सिचाई विभाग इनकार कर रहा है लेकिन किसी विषम परिस्थिति से निपटने की तैयारी कर चुका है। बाढ़ चौकियों को सक्रिय कर बाढ़ नियंत्रण कक्ष बना दिया गया है। सिचाई विभाग एवं प्रशासन गंगा के जल स्तर पर नजर रखे हुए हैं। पटियाली में महोला और मनरेगा बांध तक पानी टकरा रहा है। यदि पानी का दबाव और बढ़ा तो वह तटवर्ती ग्रामों की फसली भूमि तक पहुंच सकता है। सोमवार को डीएम सीपी सिंह एवं एसपी मनोज कुमार सोनकर ने सिचाई विभाग के अधिकारियों के साथ महोला, मनरेगा बांध एवं कादरगंज घाट के जलस्तर का निरीक्षण किया।

------------------------

नगला तिलक का आवागमन बंद गंगा नदी के किनारे लगे गांव की सड़क पर पानी आ जाने से यहां इस मार्ग से आवागमन बंद कराया गया है। लोगों के आवागमन के लिए गांव का वैकल्पिक मार्ग चालू किया गया है। वहीं रिकेरा में गंगा का पानी फसली भूमि के आस-पास पहुंच चुका है।

-------------------------------

बैराजों से गंगा में पानी का डिस्चार्ज

- हरिद्वार बैराज एक लाख 48 हजार 845 क्यूसेक

- बिजनौर बैराज एक लाख 74 हजार 469 क्यूसेक

- नरौरा बैराज दो लाख 23 हजार क्यूसेक

-----------------------------

गंगा पर पानी का गेज

163.55 मीटर

-----------------------------

गंगा पर पानी का दबाव है। लेकिन बहाव तेज होने के कारण संभावना है कि यह निकल जाएगा। किसी भी विषम परिस्थिति से निपटने के लिए पूरी तैयारियां है। बाढ़ चौकियां सक्रिय है। तटवर्तीय ग्रामों के लोगों को अलर्ट किया गया है। पशुओं के चारे एवं लोगों के खाने पीने की पर्याप्त व्यवस्था है। - सीपी सिंह, जिलाधिकारी

------------------------------

बैराजों से पानी का डिस्चार्ज बढ़ा है। कछला पर भी पानी का गेज लगभग डेढ़ मीटर बढ़ गया है। लेकिन फिलहाल बाढ़ का खतरा दिखाई नहीं दे रहा है। - पंजाबी शर्मा, सहायक बाढ़ नियंत्रण अधिकारी

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.