तीसरी लहर से बचाव की तैयारियों में जुटा स्वास्थ्य विभाग

कासगंज संवाद सहयोगी कोरोना की तीसरी लहर की आशंका देखते हुए बचाव के लिए शासन ने गाइड लाइन जारी कर दी है।

JagranPublish:Sun, 23 May 2021 05:38 AM (IST) Updated:Sun, 23 May 2021 05:38 AM (IST)
तीसरी लहर से बचाव की तैयारियों में जुटा स्वास्थ्य विभाग
तीसरी लहर से बचाव की तैयारियों में जुटा स्वास्थ्य विभाग

कासगंज, संवाद सहयोगी : कोरोना की तीसरी लहर की आशंका देखते हुए बचाव के लिए शासन ने गाइड लाइन जारी कर दी है। साथ ही जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने भी तैयारियां शुरू कर दी हैं। जिले में स्वास्थ्य सुविधाओं को और अधिक बेहतर बनाने के लिए कवायद शुरू कर दी गई है।

विशेषज्ञों के अनुसार कोरोना की तीसरी लहर बच्चों के लिए घातक होगी। जिले में इसका प्रभाव न हो इसके प्रयास किए जा रहे हैं। इसके तहत जिले में स्वास्थ्य सुविधाएं बढ़ाई जा रही हैं। जिला अस्पताल एवं गंजडुंडवारा के स्वास्थ्य केंद्र पर आक्सीजन प्लांट लगाने का काम शुरू हो गया है। गंजडुंडवारा में 50 बेड का विशेष वार्ड बनाया जा रहा है। वहीं सहावर में भी स्वास्थ्य सुविधाएं बेहतर बनाने के लिए कवायद शुरू हो गई है। सीएमओ डा. अनिल कुमार ने कोविड अस्पताल में 10 बेड का आइसीयू वार्ड बनाने का प्रस्ताव शासन को भेजा है। दवाएं और और अन्य उपकरण की भी मांग की गई है। जिले में मात्र एक बाल रोग विशेषज्ञ

जिला अस्पताल में मात्र एक बाल रोग विशेषज्ञ है। इसके अलावा जिले के किसी भी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर बाल रोग विशेषज्ञ की नियुक्ति नहीं है। यदि कोरोना की तीसरी लहर से छोटे बच्चे प्रभावित हुए तो बाल रोग विशेषज्ञ की कमी खलेगी। शुरू नहीं हो पा रहे वेंटिलेटर

जिले में स्वास्थ्य सुविधाओं को बेहतर बनाने के प्रयासों के बीच वेंटिलेटर शुरू करने के लिए शासन से विभाग को अभी तक एनेस्थिसिया एवं आपरेटर नहीं मिले हैं। एक चिकित्सक का कानपुर देहात से अटेचमेंट किया गया है, लेकिन वह भी चार्ज लेने नहीं आए। इससे वेंटिलेटर शुरू नहीं हो पा रहे हैं। तीसरी लहर को लेकर शासन की गाइड लाइन के अनुसार तैयारियां की जा रही हैं। जिले के लिए बाल रोग विशेषज्ञ के साथ-साथ 10 बेड का आइसीयू वार्ड बनाए जाने के लिए शासन को पत्र लिखा गया है। स्वीकृति मिलते ही आईसीयू वार्ड बनाया जाएगा।

- डा. अनिल कुमार, सीएमओ