हत्यारोपितों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर धरने पर बैठे लोग

संवाद सूत्र रूरा गहोलिया गांव में विमल तिवारी हत्याकांड में हत्यारोपितों की गिरफ्तारी की

JagranSun, 19 Sep 2021 09:19 PM (IST)
हत्यारोपितों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर धरने पर बैठे लोग

संवाद सूत्र, रूरा : गहोलिया गांव में विमल तिवारी हत्याकांड में हत्यारोपितों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर रविवार शाम को अखिल भारतीय ब्राह्मण महासभा (रा) व परशुराम सेना के लोग गांव में धरने पर बैठ गए। आरोपितों के मकान ढहाने की बात लोग करने लगे और मांग पूरी न होने तक ऐसे ही बैठे रहने की बात कही। सीओ व थाना प्रभारी पहुंचे और किसी तरह समझाकर शांत कराया। वहीं बसपा नेता भी गांव पहुंचे।

रविवार दोपहर बसपा के जिलाध्यक्ष आनंद कुरील, विधानसभा प्रभारी विनोद पाल, जिला पंचायत सदस्य बउआ त्रिवेदी ने पीड़ित परिवार से मुलाकात की और न्याय दिलाने का भरोसा दिलाते हुए उच्चाधिकारियों से फोन पर बैठकर जल्द गिरफ्तारी करने को कहा। उधर, शाम करीब पांच बजे अखिल भारतीय ब्राह्मण महासभा (रा) व परशुराम सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल त्रिपाठी व प्रदेश अध्यक्ष दीपक दीक्षित ने 30 से अधिक कार्यकर्ताओं के साथ आकर पहले दिवंगत के पिता अवधेश शुक्ला भाई दीपक से मुलाकात की व घटना की जानकारी ली। इसके बाद आरोपितों की गिरफ्तारी करने, आरोपितों के अवैध निर्माण ढहाने सहित अन्य मांग को लेकर आक्रोशित होकर मौके पर ही धरने पर बैठ गए। इस दौरान जमकर विमल तिवारी को न्याय दो न्याय दो के नारे लगाए। इस दौरान प्रभारी एसओ शशिभूषण मिश्रा ने धरने से हटाने के लिए बैठे पदाधिकारियों को मनाने में जुटे पर सफल न हुए। वहीं शाम छह बजे से लेकर आठ बजे दो घंटे तक लोग बैठे रहे। सीओ अरुण कुमार पहुंचे और जल्द गिरफ्तारी की बात कही और समझाया। इसके बाद लोग शांत हुए और धरना समाप्त हुआ।

गिरफ्तारी को दबिश जारी

विमल की हत्या सिर पर वारकर कर दी गई थी और शव उनकी दुकान में ही मिली थी। मामले में पूर्व प्रधान बबलू सिंह समेत चार नामजद हुए थे। उनकी तलाश में दबिश दी जा रही थी पर कोई सफलता रविवार को नहीं मिल सकी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.