पेड़ काटने के लिए करें ऑनलाइन आवेदन

पेड़ काटने के लिए करें ऑनलाइन आवेदन

जागरण संवाददाता कानपुर देहात ऑनलाइन आवेदन कर आप पेड़ काट सकते हैं इसके लिए पेड़

JagranWed, 10 Feb 2021 07:07 PM (IST)

जागरण संवाददाता, कानपुर देहात : ऑनलाइन आवेदन कर आप पेड़ काट सकते हैं, इसके लिए पेड़ की फोटो भी डालनी होगी। विभाग की तरफ से अनुमति मिलने पर कटान किया जा सकेगा। वहीं लोग अधिक पौधारोपण करें, इससे पर्यावरण सही रहेगा। यह बात जिला वन अधिकारी ललित मोहन गिरी ने दैनिक जागरण प्रश्न पहर में पाठकों के सवाल का जवाब देते हुए कही।

मेरे बाग में एक सूखा आम का पेड़ है, आखिर इसे काटने के लिए क्या करना होगा। - राजेश सिंह चौहान, गजनेर

- इसके लिए आप अपने मोबाइल या किसी कैफे से विभाग की वेबसाइट पर ऑनलाइन आवेदन करें। यह भी न कर पाएं तो कार्यालय में आकर संपर्क कर सकते हैं, इसमें पेड़ की फोटो डालना अनिवार्य है साथ ही शपथ पत्र देना होगा। इसके बाद विभाग की तरफ से अनुमति मिलने पर इसे काट सकते हैं। सारी प्रक्रिया एक सप्ताह में पूरी कर ली जाती है। - रूरा क्षेत्र में बंदरों की काफी समस्या है, जिससे लोग परेशान हैं। इसका निराकरण कराएं। - अपूर्व अवस्थी - अभी मथुरा की टीम बुलाकर अभियान चलाकर काफी बंदर पकड़े गए थे। जल्द ही यहां फिर अभियान चलेगा और रूरा क्षेत्र हमारी प्राथमिकता में है। - पौधारोपण करते समय किस बात का ध्यान रखना चाहिए। रमेश शिवली, अजय अवस्थी मैथा

- सबसे पहले तो जमीन किस तरह की है उसे ध्यान में रखकर ही पौधा चुनना चाहिए। अगर पेड़-पौधे से आर्थिक लाभ लेना है तो सागौन, यूकेलिप्टस जैसे कई पौधों को रोपित कर सकते हैं, इसके अलावा खेतों की मेड़ को भी पौधारोपण के लिए उपयोग में लिया जा सकता है। फलदार में बहुत से पौधे हैं जिन्हें लगाते समय गड्ढा सही से करें खाद भी उचित मात्रा में डालें व समय-समय पर पानी देते रहना चाहिए। -पौधारोपण से क्या लाभ होता है और इनका चयन किस आधार पर करें। - संजय कटियार, पुखरायां

- पौधारोपण करने से हमारी प्रकृति का संतुलन व पर्यावरण दुरुस्त रहता है। पीपल या बरगद जो कि अच्छे पौधों की श्रेणी में हैं इस पर इतने पक्षी रहते हैं कि आसपास परिधि में कीट जल्द नजर नहीं आते। इसके अलावा पत्तीदार पौधों को वरीयता देनी चाहिए साथ ही कोरोना काल को देखते हुए औषधीय गुणों से भरपूर पौधों की भी मांग बहुत हो गई है इसे आप घर के आंगन व छत पर लगा सकते हैं। हमेशा अच्छे गुणों वाले पौधों को ही लेना चाहिए। -वन क्षेत्र में बर्ड फ्लू को लेकर क्या सतर्कता बरती जा रही है। - अखिलेश कुमार, अजीत सिंह रसूलाबाद - इसके लिए टीमें सक्रिय हैं जो कि लगातार निगरानी रख रही हैं और कहीं कोई पक्षी की मौत होती है तो उसकी जांच की जाती है। वहीं पशुपालन विभाग व प्रशासन के सहयोग से हर स्थिति पर विभाग की नजर है।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.