लाखों रुपये का काम कराया, दिए महज 200 ओमानी रियाल

लाखों रुपये का काम कराया, दिए महज 200 ओमानी रियाल

ओमान में फंसी जालंधर निवासी महिला से सर्वेंट एजेंसी की संचालिका आयशा ने डेढ़ वर्ष तक लाखों रुपये का काम कराया जिसकी एवज में उसे महज 200 रियाल दिए।

JagranMon, 10 May 2021 01:55 AM (IST)

जेएनएन, कानपुर : ओमान में फंसी जालंधर निवासी महिला से सर्वेंट एजेंसी की संचालिका आयशा ने डेढ़ वर्ष में लाखों रुपये का काम कराया, लेकिन वापस भारत आने पर केवल 200 ओमानी रियाल (करीब 40 हजार रुपये) ही दिए। ये जानकारी पीड़िता ने कानपुर पुलिस को देकर आयशा के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। हालांकि विदेश भेजने वाले एजेंटों को निर्दोष बताया।

जालंधर की महिला ने पुलिस को बताया कि वह वर्ष 2019 में नौकरी करने दुबई गई थी। वहां से ज्यादा वेतन का लालच देकर उन्हें ओमान भेज दिया गया। पिछले वर्ष उनके बेटे और फिर भाई का देहांत हो गया, लेकिन एजेंटों के कहने के बावजूद ओमान में सर्वेंट एजेंसी की संचालिका आयशा ने वापस नहीं भेजा। सवा साल तक शारीरिक और मानसिक रूप से शोषण किया गया। बाद में पता लगा कि एजेंसी संचालिका ने उसे दो लाख रुपये में खरीदा था। विरोध पर मारपीट की जाती और खाने को नहीं दिया जाता। पिछले माह उन्नाव की महिला के लौटने के बाद कानपुर पुलिस ने भारतीय दूतावास की मदद से उन्हें भी मुक्त कराया। डीसीपी क्राइम सलमान ताज पाटिल ने बताया कि महिला ने पंजाब के उन एजेंटों पर कोई आरोप नहीं लगाया है, जिन्होंने उसे विदेश भेजा था। उसने कहा कि एजेंटों ने कई बार ओमान की एजेंसी संचालिका से महिला को वापस भेजने के लिए कहा, लेकिन वह नहीं मानी। भारतीय दूतावास के अधिकारियों को जानकारी दी गई है। महिला के कोर्ट में बयान भी होंगे। मार्ग दुर्घटना में मासूम की मौत, माता-पिता घायल, महाराजपुर : पुरवामीर में टैंकर की टक्कर से बाइक सवार मासूम की मौके पर ही मौत हो गई। हादसे में माता- पिता गंभीर रूप से घायल हो गए। बिधनू पहाड़पुर निवासी नीरज राजपूत रविवार शाम बाइक से फतेहपुर की तरफ से बिधनू घर जा रहे थे। उनके साथ पत्नी शशि व बेटा लकी भी थे। पुरवामीर के पास पीछे से आ रहे तेज रफ्तार टैंकर ने बाइक में टक्कर मार दी। बाइक सवार तीनों लोग उछलकर सड़क पर जा गिरे। टैंकर आठ वर्षीय मासूम लकी को कुचलता हुआ निकल गया। लकी की मौके पर ही मौत हो गई। गंभीर घायल शशि को पुलिस ने निजी अस्पताल में भर्ती कराया है। नीरज भी घायल हैं। थाना प्रभारी महाराजपुर राघवेन्द्र सिंह ने बताया कि मार्ग दुर्घटना में मासूम की मौत हुई है। चालक को पकड़ लिया गया है। गाड़ी रोकने को लेकर विवाद, ईंट मारकर सिर फोड़ा, कानपुर : काकादेव थाना क्षेत्र में गाड़ी निकालने को लेकर बाइक सवारों ने स्कूटी सवार युवक का सिर फोड़ दिया। स्वजन ने बीच-बचाव किया तो हमलावरों ने उन लोगों से भी मारपीट की।

विजय नगर निवासी रविकांत यादव का 20 वर्षीय बेटा आर्यन रविवार की रात स्कूटी लेकर घर आ रहा था। घर के पास ही एक लोडर को साइड देने के लिए उसने गाड़ी रोकी। रास्ता संकरा होने पर लोडर चालक ने भी धीरे से गाड़ी निकाली। लोडर के पीछे आ रहे बाइक सवारों ने गाड़ी रुकने पर लोडर निकलने के बाद आर्यन संग गाली-गलौज की। विरोध करने पर हमलावरों ने ईंट और गाड़ी की चाबी से आर्यन का सिर फोड़ दिया। धोबी घाट के पास रहने वाले सुबोध और श्वेत के खिलाफ तहरीर दी गई है। सिपाही के घर से 2.5 लाख का माल पार, कानपुर : चकेरी के सनिगवां में चोरों ने सिपाही के ताला बंद मकान को निशाना बनाया। मुख्यद्वार फांदकर घुसे चोरों ने सिपाही के कमरे और अलमारी के ताले तोड़कर वहां से ढाई लाख के माल पर हाथ साफ कर दिया। पड़ोसियों ने कमरे खुले देखकर उन्हें मामले की जानकारी दी। जिसके बाद रविवार की रात वह घर पहुंचे और चकेरी थाने में तहरीर दी है। आनंद कुमार उन्नाव के बीघापुर थाने में कांस्टेबल हैं। वह चकेरी सनिगवां के अन्ना चौराहे के पास लीलादेवी के मकान के ग्राउंड फ्लोर में किराए पर रहते हैं। आनंद कुमार ने बताया कि बीते छह मई को वह घर में ताला लगाकर मकान मालिक के साथ अलीगढ़ निवासी रिश्तेदार के यहां कार्यक्रम में शामिल होने के लिए गए थे। इस बीच मुख्य द्वार फांदकर घुसे चोरों ने अलमारी का लॉकर तोड़कर वहां से एक लाख की नकदी, एक लाख कीमत के जेवर, एलईडी टीवी, सिलिडर, कपड़े समेत कुछ ढाई लाख के माल पर हाथ साफ कर दिया। अलीगढ़ से रात नौ बजे लौटे। जिसके बाद उन्होंने घटना की जानकारी चकेरी पुलिस को दी। उन्होंने अज्ञात चोरों के खिलाफ तहरीर दी है। थाना प्रभारी चकेरी दधिबल तिवारी ने बताया कि सिपाही की तहरीर पर अज्ञात चोरों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर शातिरों की तलाश की जाएगी। पुलिस ने स्कार्पियो में पकड़ी शराब, चालक फरार, कानपुर : नौबस्ता पुलिस को कोरोना क‌र्फ्यू के दौरान ठेका संचालक और फत्तेपुर दक्षिण की पूर्व प्रधान के ससुर की गाड़ी से शराब ले जाने की सूचना मिली थी। पुलिस ने आनंद विहार के पास कार को रोकने का प्रयास किया तो शातिर एक मकान के सामने गाड़ी लॉक कर भाग निकला। चौकी प्रभारी नौबस्ता प्रमोद कुमार ने बताया कि गाड़ी फत्तेपुर दक्षिण की पूर्व प्रधान के ससुर राम विलास भदौरिया की है। उनका जरौली में शराब ठेका भी है। माना जा रहा है कि कोरोना क‌र्फ्यू के दौरान बाबा नगर नौबस्ता स्थित घर से शराब बेचने की तैयारी थी। डिग्गी और पीछे की सीट पर छह पेटी शराब की बोतलें रखीं नजर आईं। गाड़ी मालिक के खिलाफ कार्रवाई होगी।

डाउनलोड करें हमारी नई एप और पायें अपने शहर से जुड़ी हर जरुरी खबर!

रोमांचक गेम्स खेलें और जीतें
एक लाख रुपए तक कैश अभी खेलें

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.